PCPNDT सेल की बड़ी कार्रवाई, भ्रूण लिंग परीक्षण में लिप्त दो को किया गिरफ्तार

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/14 10:34

श्रीगंगानगर। राजस्थान पीसीपीएनडीटी टीम ने शनिवार को डिकॉय कार्रवाई करते हुए भ्रूण लिंग जांच मामले में लिप्त सन्तोख सिंह सेखो (27) पुत्र गुरनेक सिंह निवासी श्रीगंगानगर एवं नवनीत सिंह (38) पुत्र महेन्द्र सिंह निवासी पीलीबंगा को गिरफ्तार किया है। साथ ही डिकाय राशि के हू-ब-हू नम्बरी नोट भी बरामद कर लिये हैं। विभाग की अब तक यह 145वीं व 2019 की चौथी कार्यवाही है। 

अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक एनएचएम डॉ. समित शर्मा ने बताया कि मुखबिर के जरिए टीम को सूचना मिल रही थी कि हनुमानगढ़ जिले के नजदीक भ्रूण लिंग की जांच करवाने का कार्य किया जा रहा है। जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पीसीपीएनडीटी शालिनी सक्सेना के निर्देशन में टीम गठित करके मामले की पुष्टि की गई। 

सूचना के सही पाए जाने पर डिकॉय टीम का गठन किया गया व दलाल नवनीत सिंह से सम्पर्क साधा गया। नवनीत सिंह ने जांच करने के एवज में 50000 रूपए की मांग की और 13 अप्रेल को सुबह 11 बजे हनुमानगढ़ बुलाया। तय समय के अनुसार नवनीत सिंह अपनी गाड़ी स्विफट डिजायर नं. आरजे-31-सीए-7989 में महिला व उसके साथ एक अन्य महिला को श्रीगंगानगर ले गया। 

श्रीगंगानगर पहुंचने पर नवनीत सिंह ने जिला अस्पताल से अपने मित्र सन्तोख सिंह सेखो को भी बुलाया, जो अपनी ऑटो गाड़ी नं. पीबी-22-जी-4141 पर उनके साथ-साथ जाने लगा। सन्तोख सिंह जिला अस्पताल पिछले 6 वर्षों से मेल नर्स (द्वितीय) कार्य कर रहा है। वहां से दोनों आरोपी दोनों महिलाओं को जिला अस्पताल के ही नजदीक स्थित श्री अम्बा हॉस्पीटल स्थित डॉ. जसरीन अल्ट्रासाउण्ड सेंटर ले गये। उन्होंने वहां डिकायॅ गर्भवती महिला की सोनोग्राफी करवाई एवं बाहर आकर भ्रूण लिंग के बारे में सूचना दी। 

इशारा मिलते ही पीबीआई टीम ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया एवं हू-ब-हू नम्बरी नोट भी बरामद कर लिये। सोनोग्राफी केन्द्र के चिकित्सक डॉ. जसरीन सिडाना की संलिप्तता के बारे में जांच की जा रही है। सेंटर को सीज कर दिया गया है, जिसकी जांच निदेशालय स्तर से करवाई जाएगी। साथ ही आरोपियों से भी डॉक्टर से संलिप्तता के बारे में सघन पूछताछ की जा रही है। पीबीआई टीम द्वारा आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आगामी कार्यवाही की जा रही है। 
शहर में दो घण्टे घुमाया

पीसीपीएनडीटी टीम द्वारा समय-समय पर कार्रवाई का खौफ इतना सटीक साबित हो रहा है कि आरोपी नवनीत सिंह ने श्रीगंगानगर पहुंचने के बाद दोनों महिलाओं को एक घण्टे तक शहर में घुमाता रहा। 

वह दोनों महिलाओं को सेक्टर 17 से होते हुए जिला अस्पताल जाकर आधे घण्टे तक खड़ा रखा। उसके बाद नई धानमण्डी स्थित जस्सा सिंह मार्ग पर भी कई देर घुमाता रहा। उसके बाद वापिस जिला अस्पताल होते हुए श्री अम्बा हॉस्पीटल लेकर गए, जहां पर उन्होंने महिला की सोनोग्राफी करवाई।
फर्स्ट इंडिया के लिए श्रीगंगानगर से सुनील सिहाग की रिपोर्ट

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in