Jammu Kashmir: पांच महीने बाद पीडीपी नेता नईम अख्तर हिरासत से रिहा

Jammu Kashmir: पांच महीने बाद पीडीपी नेता नईम अख्तर हिरासत से रिहा

Jammu Kashmir: पांच महीने बाद पीडीपी नेता नईम अख्तर हिरासत से रिहा

श्रीनगरः ईद-उल-फितर से तीन दिन पहले जम्मू कश्मीर प्रशासन ने पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के नेता नईम अख्तर को पांच महीने बाद एहतियाती हिरासत से रिहा कर दिया. पीडीपी के एक प्रवक्ता ने बताया कि पांच महीने तक अवैध हिरासत में रखने के बाद सोमवार को अख्तर को रिहा कर दिया गया. 

गुलाम नबी लोन हंजूरा ने अन्य राजनीतिक कैदियों की रिहाई की भी मांग कीः
वरिष्ठ पार्टी नेता की रिहाई का स्वागत करते हुए पीडीपी महासचिव गुलाम नबी लोन हंजूरा ने अन्य राजनीतिक कैदियों की रिहाई की भी मांग की. हंजूरा ने कहा कि महामारी के बावजूद राजनीतिक कैदियों की निरंतर हिरासत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर में लोकतंत्र की बहाली के दावे को बौना बना देती है. उन्होंने कहा कि पांच महीने पहले अख्तर और अन्य वरिष्ठ पीडीपी नेता सरताज मदनी को मामूली कारणों से उठाकर जेल में डाल दिया गया.

 महामारी के दौर में हिरासत में रखा जाना प्रशासन की प्रतिशोध की भावना को दर्शाता हैः
हंजूरा ने कहा कि वृद्धावस्था एवं कई अन्य चिकित्सकीय कारणों के बावजूद उन्हें इस महामारी के दौर में हिरासत में रखा गया जो प्रशासन की प्रतिशोध की भावना को दर्शाता है. जेल से रिहाई के बाद भी नईम अख्तर को अब घर में नजरबंद है. सरताज मदनी की रिहाई की मांग करते हुए पीडीपी नेता ने कहा कि वर्तमान गंभीर स्वास्थ्य स्थिति एवं लॉकडाउन के बावजूद उन्हें हिरासत में रखना सरकार के लिए कोई तुक नहीं बनता है.
सोर्स भाषा
 

और पढ़ें