कोरोना पर मन की बात, पीएम मोदी बोले, लॉकडाउन की वजह से जो असुविधा हुई इसके लिए मैं क्षमा मांगता हूं

 कोरोना पर मन की बात, पीएम मोदी बोले, लॉकडाउन की वजह से जो असुविधा हुई इसके लिए मैं क्षमा मांगता हूं

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार को देशवासियों से मन की बात करते हुए कहा कि कोरोना के खिलाफ लडाई के लिए कड़े कदम उठाने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा है. आप सभी लॉकडाउन की पालना करें, लेकिन कुछ अभी भी कुछ लॉकडाउन की पालना नहीं कर रहे है. पीएम मोदी ने कहा कि वायरस इंसान को मारने की जिद लिए उठाये बैठा है. आपको खुद को और अपने परिवार को बचाना है. पीएम मोदी ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से जो असुविधा हुई है, इसके लिए मैं गरीब भाई और बहनों से क्षमा मांगता हूं. साथ ही कहा कि हम कोरोना के खिलाफ लड़ाई जीतेंगे. पीएम मोदी ने मन की बात पर देशवासियों से बात की. 

बाबा रामदेव का 668 वां जन्मोत्सव, लॉकडाउन की वजह से नहीं होगा कोई कार्यक्रम 

परचून की दुकान के बारे में सोचिए:
मन की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आप जरा अपने पड़ोस में स्थित परचून की दुकान के बारे में सोचे. जो बिना रुके अपने काम में डटे हैं ताकि देश में जरूरी वस्तुओं की सप्लाई चेन में कोई रुकावट नहीं आये. पीएम मोदी ने संबोधित करते हुए कहा कि साथियों हमारे यहां तमाम साथी आपको, पूरे देश को इस संकट से बाहर निकालने में जुटे हुए है. यह जो बातें हमें बताते हैं उन्हें हमें सुनना ही नहीं है, ब​ल्कि उन्हें हमारे जीवन में उतारना भी है. 

लोग स्थिति की गंभीरता नहीं समझ रहे:
मन की बात में पीएम मोदी ने बोले,  मैं जानता हूं कि कोई कानून नहीं तोड़ना चाहता, लेकिन कुछ लोग ऐसा कर रहे हैं क्योंकि अभी भी वो स्थिति की गंभीरता को नहीं समझ रहे. अगर आप लॉकडाउन का नियम तोड़ेंगे तो वायरस से बचना मुश्किल हो जाएगा. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कुछ लोगों को लगता है की वो लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं तो ऐसा करके वो मानो जैसे दूसरों की सहायता कर रहे हैं, यह भ्रम पालना सही नहीं है. यह लॉकडाउन आपके खुद के बचने के लिए है. आपको अपने को बचाना है, अपने परिवार को बचाना है.

रामगम्पा तेजा ने बताया अपना अनुभव:
पीएम मोदी ने मन की बात करते हुए कोरोना से ठीक हुए रामगम्पा तेजा से बात की. रामगम्पा तेजा ने अपना अनुभव बताते हुए कहा कि मैं काम के कारण से दुबई गया था, उसके बाद कोरोना वायरस की चपेट में आ गया. शुरू में मैं डर गया था, लेकिन डॉक्टरों और नर्सों ने मेरा साहस बढ़ाया. उसकी वजह से मैं कोरोना के खिलाफ जंग जीत पाया हूं. 

Rajasthan Corona Update: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा पहुंचा 55, भीलवाड़ा में एक नए पॉजिटिव केस की पुष्टि

और पढ़ें