पीएम मोदी ने असम के एक लाख से ज्यादा भूमिहीन मूल निवासियों के लिए जमीन के पट्टों का किया वितरण

पीएम मोदी ने असम के एक लाख से ज्यादा भूमिहीन मूल निवासियों के लिए जमीन के पट्टों का किया वितरण

गुवाहाटी: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को शिवसागर जिले स्थित जेरेंगा पठार में रहने वाले भूमिहीन मूल निवासियों के लिए 1.6 लाख भूमि पट्टा वितरण अभियान की शुरुआत की. उन्होंने 10 लाभार्थियों को आवंटन प्रमाण पत्र भेंटकर इस अभियान की शुरुआत की. असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वसरमा ने भी इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित किया.

नये साल में यह पहला कार्यक्रम जिसमें पीएम खुद शरीक हुए: 
प्रधानमंत्री मोदी अब तक उद्घाटन और शिलान्यास से संबंधित अपने अधिकतर कार्यक्रमों में डिजीटल माध्यम से जुड़ते रहे हैं. नये साल में यह पहला ऐसा कार्यक्रम है जब खुद प्रधानमंत्री इसमें शरीक हुए. असम में 2016 में 5.75 लाख मूल निवासी परिवार भूमिहीन थे. राज्य सरकार ने मई 2016 से 2.28 लाख आवंटन प्रमाण पत्र वितरित किए हैं. आज का समारोह इस प्रक्रिया का अगला कदम है.

असम में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव:
सोनोवाल ने कहा कि आजादी के बाद यह पहली बार है जब इतनी बड़ी संख्या में असम में लोगों को जमीन के ‘पट्टे’ दिये जाएंगे. जेरेंगा पठार का संबंध असम के पूर्ववर्ती अहोम साम्राज्य से है. बता दें कि असम में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं. इससे पहले बीजेपी ने चुनावी प्रचार को लेकर कमर कस ली है और इसी क्रम में पीएम मोदी राज्य के दौरे पर हैं. मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने 1.06 लाख जमीन के पट्टों के वितरण कार्यक्रम में प्रधानमंत्री का स्वागत किया.

और पढ़ें