मोदी ने राष्ट्र को समर्पित किया कोटा हैंगिंग ब्रिज, बोले- हम अलग मिट्टी के, चुनौतियों से लड़ने का दम

FirstIndia Correspondent Published Date 2017/08/29 03:40

मंगलवार को राजस्थान विजिट के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उदयपुर से देशवासियों को सड़क योजनाओं का महत्वपूर्ण तोहफा भेंट किया। मोदी ने सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की पंद्रह हजार एक सौ करोड़ रुपए की परियोजना का शिलान्यास और लोकापर्ण किया। साथ ही उन्होंने चंबल नदी पर बना कोटा हैंगिंग ब्रिज भी राष्ट्र को समर्पित किया। पांच हजार छह सौ दस करोड़ रुपए की परियोजनाओं का निर्माण एवं 48 अन्य राष्ट्रीय राजमार्ग के सड़क सुरक्षा कार्यों का लोकापर्ण तथा नौ हजार चार सौ नब्बे करोड़ रुपए की सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया।

उदयपुर के डबोक हवाई अड्डे राज्यपाल कल्याण सिंह, मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और वरिष्ठ अधिकारियों ने प्रधानमंत्री की अगवानी की। मोदी के साथ सड़क परिवहन, राज मार्ग एवं पोत परिवहन मंत्री नितिन गडकरी भी उदयपुर आए। कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने पर प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय राज मार्ग की ओर से लगायी गयी प्रदर्शनी का अवलोकन किया। मंच पर पहुंचने पर सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री अर्जुन मेघवाल, केन्द्रीय मंत्री पी पी चौधरी तथा राजे मंत्रिमंडल के सदस्यों ने उनका स्वागत किया। कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने पर प्रधानमंत्री ने हाथ हिलाकर सभी का अभिवादन स्वीकार किया। मोदी बारिश के बीच कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे।

मोदी के भाषण की खास बातें
-मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत राजस्थानी बोली बोल कर की। राजस्थानी भाषा में बोलते उन्होंने राजस्थान के महापुरुषों को याद किया।
-उन्होंने कहा कि हाल ही में राजस्थान में भीषण बाढ़ आई, मैंने खुद यहां पर आकर इसका जायजा लिया था। भारत सरकार संकट की घड़ी में राज्य सरकार के साथ खड़ी है।
-एक ही कार्यक्रम में 15,000 करोड़ रुपए की योजनाओं की शुरुआत होना एक बड़ी घटना है। योजनाओं की घोषणा करना, चुनाव के समय अलग-अलग तरह की बातें करना, अखबारों में बड़ी-बड़ी फोटो छपवाना ऐसे खेल देश ने पहले भी देखे हैं, कई सालों से यही चल रहा था।
-हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती है कि पुरानी बुराईयों को खत्म करने में बहुत ताकत लगती है। हमारे सामने ऐसे हालात छोड़कर गए हैं कि बुराईयां इतनी बढ़ गई हैं। अगर कोई ढीला इंसान होता तो शायद डर जाता लेकिन हम जरा अलग मिट्टी के बने हैं। हमें चुनौतियों को चुनौती देने की आदत है, हमारा काम देश को आगे ले जाना है।
-300 करोड़ से भी कम के बजट का काम 11 साल तक रुका हुआ था, सरकार-सरकार में फर्क होता है। आज 5600 करोड़ के हमारी सरकार बनने के बाद शुरू हुए जो कि पूरे हो रहे हैं।
-अभी तक हम गढ्ढे में पड़ी योजनाओं को पूरा कर रहे हैं, उन्हें गढ्ढे से बाहर निकालने में काफी ताकत लग रही है. मोदी बोले कि हमने एक साथ 9000 करोड़ रुपए का काम शुरू किया।
-वाजपेयी जी ने गोल्डन चतुष्क बनाया तब लोगों ने उसकी तारीफ की थी, अगर एक बार अच्छी सड़कें बन जाएं तो आम लोगों से लेकर किसान तक की दिक्कतें दूर हो जाती हैं।
- राजस्थान की सड़कों में पैसा उगलने की ताकत है. दुनियाभर के लोग राजस्थान में आना चाहते हैं, इसके लिए हमें अच्छा इन्फ्रास्ट्रकचर चाहिए. मोदी ने कहा कि टूरिज्म की वजह से फूल बेचने वाले, काम करने वाला और चाय बेचने वाले को भी फायदा होता है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Big Fight Live | \'सियासी गलियारों में आज क़यामत की रात | 10 DEC, 2018

मतगणना से पहले सुरक्षा व्यवस्थाओं को लेकर एडिशनल डीसीपी से खास बातचीत
रिजर्व बैंक के गर्वनर उर्जित पटेल ने दिया इस्तीफा
विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर आज आ सकता है बड़ा फैसला
संसद सत्र हंगामेदार रहने के आसार
प्रधानमंत्री कार्यालय के PRO जगदीश ठक्कर का निधन
धौलपुर जेल से कैदी का वीडियो वायरल
मासूम बच्चो की प्रस्तुतियों ने मोहा मन
loading...
">
loading...