एलमौ प्रधानमंत्री मोदी ने जी-7 के सत्र में हरित विकास, स्वच्छ ऊर्जा के लिए भारत के प्रयासों को रेखांकित किया

प्रधानमंत्री मोदी ने जी-7 के सत्र में हरित विकास, स्वच्छ ऊर्जा के लिए भारत के प्रयासों को रेखांकित किया

प्रधानमंत्री मोदी ने जी-7 के सत्र में हरित विकास, स्वच्छ ऊर्जा के लिए भारत के प्रयासों को रेखांकित किया

एलमौ (जर्मनी): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी-7 के शिखर सम्मेलन के एक सत्र में सोमवार को हरित विकास, स्वच्छ ऊर्जा, सतत जीवनशैली और वैश्विक कल्याण के लिए भारत के प्रयासों को रेखांकित किया. जी-7 शिखर सम्मेलन के लिए दो दिवसीय दौरे पर जर्मनी आए प्रधानमंत्री मोदी का स्कलॉस एलमौ में आगमन पर जर्मन चांसलर ओलाफ शोल्ज ने अगवानी की. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट किया, लोगों को धरती के अनुकूल बनना होगा. बेहतर भविष्य के लिए कदम उठाने होंगे.

 जलवायु, ऊर्जा और स्वास्थ्य पर जी-7 के सत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरित विकास, स्वच्छ ऊर्जा, सतत जीवनशैली और वैश्विक कल्याण के लिए भारत के प्रयासों को रेखांकित किया. सम्मेलन की शुरुआत के पहले प्रधानमंत्री मोदी ने समूह फोटो के लिए एकत्र अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो से हाथ मिलाए. 

मई में क्वाड शिखर सम्मेलन के लिए जापान में मुलाकात के बाद मोदी और बाइडन की यह पहली भेंट है. दोनों नेताओं की जुलाई में डिजिटल तरीके से आयोजित होने वाले आई2यू2 सम्मेलन में भी भेंट होगी. चार देशों के आर्थिक मंच आई2यू2 में भारत, इजराइल, संयुक्त अरब अमीरात और अमेरिका शामिल हैं.जी-7 में कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं. सम्मेलन की अध्यक्षता कर रहे जर्मनी ने अर्जेंटीना, भारत, इंडोनेशिया, सेनेगल और दक्षिण अफ्रीका को आमंत्रित किया है. मोदी जर्मन चांसलर शोल्ज के आमंत्रण पर जी-7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए एलमौ आए हैं. (भाषा) 

और पढ़ें