ओडिशा की धरती पर गरजे पीएम, कहा- भारत अब अंतरिक्ष में भी चौकीदारी करने में सक्षम

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/03/29 12:19

भुवनेश्वर।  लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 11 अप्रैल को होने वाली वोटिंग के लिए चुनाव प्रचार ने जोर पकड़ लिया है। पीएम मोदी ने आज ओडिशा में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इसके अलावा भी आज वह तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में भी रैली करेंगे। इस दौरान पीएम ने कहा कि दो दिन पहले ही, ओडिशा एक ऐसी ऐतिहासिक उपलब्धि का गवाह बना है, जिसने पूरी दुनिया को भारत के सामर्थ्य से परिचित कराया है। भारत अब अंतरिक्ष में भी चौकीदारी करने में सक्षम है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2019 का चुनाव सिर्फ एक सांसद और विधायक का चुनाव नहीं है। ये चुनाव केंद्र और राज्य में विकास का डबल इंजन लगाने वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकारों के चुनाव का समय है। ये आने वाले 5 वर्षों में नए ओडिशा और नए भारत के निर्माण का चुनाव है। पीएम ने कहा कि ओडिशा मजबूत तभी बनेगा जब यहां का आदिवासी, यहां का किसान, यहां का नौजवान, आगे बढ़ेगा। जब यहां और केंद्र में, दोनों ही जगहों पर भारतीय जनता पार्टी की सरकार होगी।

उन्होंने कहा कि बीते 7 दशकों में जिन्होंने यहां सरकारें चलाई हैं, उन्होंने ओडिशा को गरीबी और भुखमरी के अलावा क्या दिया? गरीबों और आदिवासियों के नाम पर योजनाएं बनती हैं लेकिन बिचौलिए और दलाल उसका फायदा लूट ले जाते हैं, और असली लाभार्थी हाथ मलता रह जाता है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एयरस्ट्राइक के साथ-साथ सरकार द्वारा चलाई जा रही आयुष्मान भारत योजना से लेकर किसानों की योजनाओं का भी जिक्र किया। 

उन्होंने कहा कि आपके इस चौकीदार ने आदिवासियों के लिए एक और नई व्यवस्था की शुरुआत की है, यहां से जो खनिज निकलता है उसका एक हिस्सा यहां के विकास में लगाना सुनिश्चित किया है। पीएम ने कहा कि डिस्ट्रिक्ट मिनरल्स फंड में ओडिशा को लगभग साढ़े 6 हजार करोड़ रुपये मिले हैं, लेकिन यहां की सरकार सिर्फ 1 हज़ार करोड़ रुपए ही खर्च कर पाई है। क्या ऐसी सरकार जो आपके पैसे को तिजोरी में बंद करके बैठ गई है, उसे जाना चाहिए या नहीं?

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in