जयपुर Rajasthan: एयरफोर्स का युद्धाभ्यास देखने 7 मार्च को जैसलमेर आएंगे PM मोदी, ऐसा होगा प्रदर्शन

Rajasthan: एयरफोर्स का युद्धाभ्यास देखने 7 मार्च को जैसलमेर आएंगे PM मोदी, ऐसा होगा प्रदर्शन

Rajasthan: एयरफोर्स का युद्धाभ्यास देखने 7 मार्च को जैसलमेर आएंगे PM मोदी, ऐसा होगा प्रदर्शन

जयपुर: पीएम मोदी एयरफोर्स का युद्धाभ्यास देखने 7 मार्च को जैसलमेर आएंगे. PM मोदी वायुसेना के प्रदर्शन वायुशक्ति को देखेंगे. इस मौके पर सीएस उषा शर्मा और डीजीपी एम.एल लाठर भी जैसलमेर जा सकते हैं. सीएस उषा शर्मा ने जैसलमेर कलेक्टर को एसपीजी से तालमेल रखने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने सचिवालय में बैठक लेकर एक दिन पूर्व सारी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. पीएम मोदी 7 मार्च को सुबह आएंगे. जैसलमेर के चांधन में वायुशक्ति प्रदर्शन देखने के बाद दोपहर तक रवाना होंगे. 

ऐसा होगा प्रदर्शन:-
- 109 फाइटर जेट-हेलिकॉप्टर बनाएंगे वॉर कॉम्बीनेशन
- राफेल पहली बार होगा ऑपरेशन वायुशक्ति का हिस्सा
- इंडियन एयरफोर्स का सबसे बड़ा वॉर एक्सरसाइज ऑपरेशन माना जा रहा है यह
- ऑपरेशन वायुशक्ति में 109 फाइटर, जिनमें राफेल, सुखोई, मिराज, जगुआर व मिग-29 शामिल हैं. 
- ये फाइटर जेट उड़ान भरके चांधन में दुश्मन के काल्पनिक ठिकानों पर अटैक करेंगे. 

इसके साथ ही 24 अपाचे, चिनूक, लाइट कॉम्बैट हेलिकॉप्टर, सात ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, चार रिमोट कंट्रोल एयरक्राफ्ट भी इस ऑपरेशन वायुशक्ति का हिस्सा होंगे. वहीं आकाश व स्पाइडर मिसाइल की क्षमता भी इस युद्धाभ्यास में देखने को मिलेगी.

एक महीने से जारी है युद्धाभ्यास:
एक महीने से एयरफोर्स के जांबाज इस युद्धाभ्यास की तैयारी कर रहे हैं. फाइटर जेट जोधपुर, फलौदी, जैसलमेर, उत्तरलाई, नाल, बठिंडा, आगरा, हिंडन व अंबाला एयरबेस से उड़ान भरके पोकरण के समीप चांधन फायरिंग रेंज में आसमान से जमीन पर निशाना साध रहे हैं. पायलट्स को उनके टारगेट मैप पर समझाए जाते हैं. उड़ान भरने के बाद वे अपने टारगेट को हिट करते हैं. उनका टारगेट कंट्रोल रूम में सीधे स्क्रीन पर देखा जा सकता है. वायुशक्ति ऑपरेशन में राफेल की सुखोई के साथ बेहतरीन जुगलबंदी भी देखने को मिलेगी.

आकर्षण का केन्द्र होगा राफेल:
युद्धाभ्यास में आकर्षण का केन्द्र राफेल फाइटर जेट होगा. ऑपरेशन वायुशक्ति में पहली बार शामिल हो रहा राफेल हवा से जमीन और हवा से हवा में हमला करता हुआ नजर आएगा. इसके फायर पावर पर सभी की निगाह रहेगी. सीएस ने सभी संबंधित विभागों को पीएम मोदी की विजिट के लिए तालमेल के साथ काम करने के निर्देश दिए हैं.

और पढ़ें