गांधीनगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात भाजपा को लिखा पत्र, 15 लाख पेज समितियां बनाने के प्रयासों को सराहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात भाजपा को लिखा पत्र, 15 लाख पेज समितियां बनाने के प्रयासों को सराहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात भाजपा को लिखा पत्र, 15 लाख पेज समितियां बनाने के प्रयासों को सराहा

गांधीनगर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा की गुजरात इकाई को एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने 15 लाख ‘पेज समितियां’ बनाने के प्रयासों की सराहना की है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इससे पार्टी को राज्य में 2.25 करोड़ मतदाताओं से जुड़ने में मदद मिलेगी. यह पत्र गुजराती में लिखा गया है और पार्टी की राज्य इकाई ने गुरुवार को इसे जारी किया. गुजरात भाजपा के नेताओं ने कहा कि प्रधानमंत्री के पत्र की प्रतियां 58 लाख से अधिक, पेज समिति सदस्यों के बीच वितरित की जाएंगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की गुजरात भाजपा के प्रयासों की सराहनाः
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पत्र में कहा कि मैं गुजरात भाजपा को 'पेज समिति महा जनसंपर्क अभियान' शुरू करने के लिए बधाई देता हूं. जमीनी स्तर पर प्रतिबद्ध कार्यकर्ता किसी भी पार्टी के लिए महत्वपूर्ण संपत्ति हैं और ऐसे कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाने वाला संपर्क अभियान लोगों की सेवा करने के लिए एक माध्यम बन जाता है. उन्होंने 15 लाख ‘पेज समितियां’ गठित करने के लिए गुजरात भाजपा के प्रयासों की सराहना की और कहा कि इससे पार्टी को राज्य में 2.25 करोड़ मतदाताओं के साथ जुड़ने में मदद मिलेगी. उन्होंने आगामी स्थानीय निकाय चुनावों के लिए शुभकामनाएं भी दीं.

एक पेज के लिए एक ‘प्रमुख’ नियुक्तः
‘पेज समिति’ महा जनसंपर्क अभियान के तहत मतदाता सूची के एक पेज के लिए एक ‘प्रमुख’ नियुक्त किया गया है. प्रत्येक पेज (पृष्ठ) पर सामान्यतया उस मतदान केंद्र के पांच से छह मतदाताओं का विवरण होता है. प्रत्येक पेज प्रधान को बूथ प्रबंधन के हिस्से के तौर पर पांच से छह मतदाता परिवारों पर ध्यान केंद्रित करना होता है. गुजरात भाजपा के अध्यक्ष सी आर पाटिल ने पत्र जारी करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और राज्य के सभी मंत्रियों सहित पार्टी के प्रमुख पदाधिकारी इस अभियान के तहत 'पेज’ प्रमुख बनाए गए हैं. 

उपमुख्यमंत्री ने बताया लोगों की मदद के लिएः 
गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल भी एक ‘पेज’ प्रमुख हैं. उन्होंने कहा कि ऐसी सभी समितियों के सदस्यों को प्रधानमंत्री का पत्र सौंपा जाएगा. उन्होंने कहा, "हमने 2.25 करोड़ मतदाताओं वाले 58 लाख परिवारों तक पहुंचने के बाद ‘पेज’ समितियां बनाईं. यह सिर्फ चुनाव के लिए नहीं है. यह वास्तविक लाभार्थियों तक सेवा और योजनाओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने और किसी भी आपात या आकस्मिक स्थिति में लोगों की मदद करने के लिए है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें