यूपी में पीएम ने विपक्ष को लिया आड़े हाथ, कहा-मोदी हटाओ का नारा तो महामिलावटियों का बहाना

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/05/16 12:12

नई दिल्ली: लोकसभा चुनावों में 6 चरणों के मतदान संपन्न हो गए हैं और अब सातवें और आखिरी चरण के लिए प्रचार जोरो पर है.आखिरी चरण में पहुंचते ही चुनावी टक्कर दिलचस्प और कांटेदार हो गई है. 7वें चरण के प्रचार के लिए सभी पार्टियों मे अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. इसी कड़ी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज उत्तरप्रदेश के मऊ में चुनावी रैली को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने विपक्ष को आड़े हाथों लिया. 

मोदी हटाओ का नारा तो महामिलावटियों का बहाना 
पीएम मोदी ने सपा-बसपा गठबंधन को लेकर कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा बसपा ने जाति के आधार पर एक अवसरवादी गठबंधन किया। लखनऊ में एसी कमरे में बैठकर तो डील हो गयी, लेकिन जमीन से कटे हुए ये नेता अपने कार्यकर्ताओं को भूल गए.उन्होंने कहा कि मोदी हटाओ का नारा तो महामिलावटियों का बहाना था, असल में इन्हें अपने अपने भ्रष्टाचार के पाप को छुपाना था, इसलिए ये कोशिश कर रहे हैं कि देश में जैसे-तैसे खिचड़ी सरकार बन जाए. ये एक मजबूर सरकार चाहते थे, जिसे वो अपनी जरूरत के हिसाब से ब्लैकमेल कर सकें.

मायावती को कुर्सी की चिंता-मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि वो महामिलावटी जो महीनेभर पहले तक मोदी हटाओ का राग अलाप रहे थे, वो आज बौखलाए हैं। उनकी पराजय पर देश ने मुहर लगा दी है. उत्तर प्रदेश ने तो इनका सारा गुणा गणित ही बिगाड़ दिया है. जिसका ये नतीजा निकला कि सपा और बसपा के कार्यकर्ता आज भी एक दूसरे पर हमले कर रहे हैं. पीएम ने कहा कि जिस तरह ममता दीदी वहां पर यूपी बिहार और पूर्वांचल के लोगों पर निशाना साध रही हैं, मैंने सोचा था कि बहन मायावती इस पर ममता दीदी को जरूर खरी खोटी सुनाएंगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्हें आपकी चिंता नहीं है, उन्हें कुर्सी का खेल खेलना है.

दीदी का रवैया अब पूरा देश देख रहा है
उन्होंने यूपी में जनसभआ को संबोधित करते हुए सपा-बसपा पर निशाना साधा. पीएम ने कहा कि अब बुआ हो या बबुआ हो, इन लोगों ने खुद को गरीबों से इतना दूर कर लिया है, इन्होंने अपने आसपास पैसे की, वैभव की और अपने दरबारियों की इतनी बड़ी दीवार खड़ी कर ली है कि अब इन्हें गरीबों का दुःख नजर नहीं आता. दीदी का रवैया मैं काफी समय से देख रहा हूं लेकिन अब इसे पूरा देश देख रहा है. ईश्वरचंद्र विद्यासागर के विजन के लिए समर्पित हमारी सरकार उसी जगह पर ईश्वरचंद्र विद्यासागर की पंचधातु की मूर्ति स्थापित करेगी और टीएमसी के गुंडों को जवाब देगी.

अलवर गैंगरेप मामले में मोदी का माया और कांग्रेस पर तंज
वहीं प्रधानमंत्री ने अलवर के थानागाजी गैंगरेप का जिक्र करते हुए कांग्रेस के अलावा मायावती को जमकर निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि घटना को इतने दिन बीत गए लेकिन बहनजी ने इस पर कोई एक्शन नहीं लिया वो अभी भी राजस्थान सरकार के साथ गठबंधन में जुड़ी हुई हैं. मायावती सिर्फ दलित के नाम पर राजनीति कर रहीं हैं वरना तो उन्होंने अब तक रेप पीड़िता को न्याय दिला दिया होता. पीएम ने राजस्थान की गहलोत सरकार पर निशाना साधते हुए असफल करार दिया. बतादें, इस मामले में जानकारी के लिए राहुल गांधी गुरुवार को रेप पीड़िता से मिलने थानागाजी उसके घर पहुंचे थे. इसके अलावा राहुल गांधी मीडिया से भी मुखातिब हुए.उनके साथ सीएम गहलोत सहित कई वरिष्ठ कांग्रेसी मौजूद रहे.

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in