प्रधानमंत्री ने कोविड-19 प्रबंधन को लेकर सेना की तैयारियों की समीक्षा की

प्रधानमंत्री ने कोविड-19 प्रबंधन को लेकर सेना की तैयारियों की समीक्षा की

प्रधानमंत्री ने कोविड-19 प्रबंधन को लेकर सेना की तैयारियों की समीक्षा की

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुवार को कोविड-19 प्रबंधन को लेकर सेना की ओर से उठाए गए कदमों और अन्य तैयारियों की समीक्षा की. सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे (Army Chief General M.M. Narwane) ने प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात कर सेना द्वारा कोविड-19 के प्रबंधन को लेकर उठाए गए कदमों की जानकारी दी.

सेना की ओर से किया जा रहा है अस्थाई अस्पतालों का निर्माण:
PMO (prime Minister Office) की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक नरवणे ने प्रधानमंत्री को बताया कि विभिन्न राज्य सरकारों को सेना के चिकित्साकर्मी उपलब्ध कराए जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि इसके अलावा देश के विभिन्न हिस्सों में सेना की ओर से अस्थायी अस्पतालों का भी निर्माण किया जा रहा है.

Reviewed the efforts being taken by the Indian Army in the fight against COVID-19. https://t.co/bulevS6Kvu

— Narendra Modi (@narendramodi) April 29, 2021

 

अस्पतालों को जनता की सेवा में इस्तेमाल किया जा रहा है: नरवणे
नरवणे ने प्रधानमंत्री को बताया कि जहां संभव हो रहा है वहां सेना के अस्पतालों में आम जनता की सेवा में इस्तेमाल किया जा रहा है और इसके लिए आम नागरिक चाहें तो पास के सेना के अस्पताल से संपर्क साध सकते हैं. सेना प्रमुख ने प्रधानमंत्री को इस बात से भी अवगत कराया कि आयात किए गए ऑक्सीजन टैंकरों (Oxygen Tankers) और गाड़ियों के प्रबंधन में जहां विशेषज्ञ कौशल की जरूरत पड़ रही है वहां सेना के श्रमबल की ओर से मदद पहुंचाई जा रही है।

कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए रावत और भदौरिया ने लिया था जायजा:
देश में तेजी से बढ़ते कोविड-19 के मामलों के मद्देनजर प्रधानमंत्री ने पिछले दिनों प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) और वायुसेना अध्यक्ष आर के एस भदौरिया (Air Force President RKS Bhadauria) से मुलाकात कर सेना के विभिन्न अंगों द्वारा इस महामारी से लड़ने के मद्देनजर उठाए गए कदमों की तैयारियों का जायजा लिया था.

अब तक 2,04,832 लोगों की जा चुकी है जान:
ज्ञात हो कि गुरुवार को देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus infection) के रिकॉर्ड 3,79,257 मामले दर्ज किए गए. इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामले 1,83,76,524 हो गए हैं. सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक एक दिन में 3,645 लोगों की मौत होने के बाद इस घातक बीमारी के मृतकों की संख्या 2,04,832 हो गई है.


 

और पढ़ें