चंडीगढ़ हरियाणा में धान की खरीद 25 सितंबर से, बाजरा खरीद 1 अक्टूबर से होगी शुरू

हरियाणा में धान की खरीद 25 सितंबर से, बाजरा खरीद 1 अक्टूबर से होगी शुरू

हरियाणा में धान की खरीद 25 सितंबर से, बाजरा खरीद 1 अक्टूबर से होगी शुरू

चंडीगढ़: हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में धान की खरीद 25 सितंबर से और बाजरा की खरीद एक अक्टूबर से शुरू होगी. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि 25 सितंबर से शुरू हो रहे खरीफ सत्र की फसलों की बिक्री के लिए मंडियों में आने वाले किसानों को किसी प्रकार की परेशानी न हो. उन्होंने अधिकारियों से मंडियों में शेड, सड़क, पैकेजिंग बैग, तौल मशीन तैयार करने को भी कहा, ताकि किसानों को कोई दिक्कत न हो. 

25 सितंबर से शुरू होगी धान की खरीद:
उपमुख्यमंत्री के पास खाद्य, आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों का विभाग है. उन्होंने विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ कृषि सहित कुछ अन्य विभागों के साथ बैठक की. बैठक के बाद चौटाला ने कहा कि राज्य भर में खरीफ फसलों की खरीद की तैयारी जोरों पर चल रही है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार धान की फसल की खरीद 25 सितंबर से शुरू करेगी और यह खरीद 15 नवंबर तक चलेगी. बाजरा, मक्का और मूंग जैसी फसलों की खरीद एक अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच की जाएगी. 

धान खरीद के लिए 200 खरीद केंद्र: 
उन्होंने कहा कि इस साल धान खरीद के लिए करीब 200 खरीद केंद्र बनाए होंगे. इसी तरह बाजरा के लिए 86, मक्का के लिए 19 और मूंग के लिए 38 खरीद केंद्र होंगे. चौटाला ने कहा कि सरकार ने इस खरीफ सत्र में धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1,940 रुपये प्रति क्विंटल, बाजरा 2,250 रुपये, मक्का 1,870 रुपये और मूंग 7,275 रुपये और मूंगफली का 5,550 रुपये प्रति क्विंटल तय किया है. 

फसल को बाजार में बेचने के लिए कराए पंजीकरण:
उन्होंने किसानों से अपील करते हुए कहा कि उन्हें अपनी फसल को बाजार में बेचने के लिए अपना पंजीकरण कराना होगा, क्योंकि 31 अगस्त तक मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकरण कराना अनिवार्य है. चौटाला ने कहा कि अब तक 2.9 लाख से अधिक किसानों ने धान बेचने के लिए, 2.45 लाख बाजरा के लिए और 66,000 मूंग बिक्री के लिए अपना पंजीकरण कराया है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें