Live News »

अजमेर में जबरन धर्म परिवर्तन के खिलाफ पाक पीएम इमरान खान का जलाया पुतला

अजमेर में जबरन धर्म परिवर्तन के खिलाफ पाक पीएम इमरान खान का जलाया पुतला

अजमेर: हिंदुस्तान को कौमी एकता की मिसाल कहा जाता है और उसी मिसाल का एक उदाहरण आज अजमेर में देखने को मिला जब जिला कलेक्ट्रेट पर राजस्थान पंजाबी महासभा की ओर से प्रदर्शन किया गया. प्रदर्शन के दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पुतला जलाया गया और जबरन धर्मांतरण, हिंदू और सिखों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ प्रदर्शन किया गया. 

मुस्लिम युवक ने इमरान खान के पुतले पर बरसाए जूते: 
इसी दौरान वहां से गुजर रहे मुस्लिम समाज के एक नौजवान ने यह प्रदर्शन देखा और वहां पहुंचकर इमरान खान के पुतले पर जमकर जूते बरसाए. युवक ने एक-दो नहीं कई जूते इमरान खान पर बरसाए और संदेश दिया कि हिंदुस्तान एक है. यहां हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई सब मिलकर एक साथ रहते हैं और जब भी दुनिया के किसी भी कोने पर मानवता के खिलाफ काम होता है तो हिंदुस्तान से एक ही आवाज उठती है. 

और पढ़ें

Most Related Stories

अजमेर के गुरुजी की रासलीला आयी सामने, परीक्षा देने गई नाबालिग छात्रा को घर ले जाकर की अश्लील हरकत

अजमेर के गुरुजी की रासलीला आयी सामने, परीक्षा देने गई नाबालिग छात्रा को घर ले जाकर की अश्लील हरकत

अजमेर: जिले में शिक्षा के मंदिर में पढ़ाने वाले गुरुजी की काली करतूत सामने आई है. नाबालिक छात्रा ने शिक्षक की करतूत का पर्दाफाश कर क्रिस्चनगंज थाने में छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर पड़ताल शुरू कर दी है. 

VIDEO: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दी चिकित्सा जगत को बड़ी सौगात, 108 भवनों का किया शिलान्यास 

घर ले जाकर अश्लील हरकत करने का मामला सामने आया: 
अजमेर के मॉडर्न स्कूल वैशाली नगर में कार्यरत नरेश प्रजापत नामक शिक्षक पर नाबालिक छात्रा को जबरन घर ले जाकर अश्लील हरकत करने का मामला सामने आया है. पीड़िता ने जानकारी देते हुए बताया कि वह दसवीं की परीक्षा देने के लिए वैशाली नगर स्तिथ महात्मा गांधी स्कूल गई थी वहां से परीक्षा खत्म होने के बाद शिक्षक नरेश प्रजापत गाड़ी लेकर उसके पास आया उसने कहा कि मैं तुम्हें घर छोड़ देता हूं. जिस पर छात्रा ने उसे मना कर दिया लेकिन वह जबरन उसे गाड़ी पर बैठा कर ले गया. वहीं बीच रास्ते से वह उसे अपने घर की ओर ले गया वहां पर कोई भी नहीं था. छात्रा ने उसका वहां भी विरोध किया और कहा कि मुझे घर जाना है जल्दी चलो.

कोरोनिल विवाद पर बाबा रामदेव की सफाई, कहा- हमने क्लीनिकल ट्रायल नियमों का पालन किया 

दुराचारी शिक्षक ने किया छात्रा का पीछा:
वहीं उसके बाद शिक्षक पानी पीने के बहाने उसके बगल में आकर बैठ गया उसके साथ अश्लील हरकतें करने लगा. पीड़िता घबराकर वहां से भागने लगी और उसके घर के मुख्य गली के बाहर आकर खड़ी हो गई. इसके बाद दुराचारी शिक्षक छात्रा का पीछा करते हुए आया और उसे वापस घर ले जाने की बात करने लगा. इतने में उसे उसका सहपाठी मिला और उसने उससे लिफ्ट मांग कर अपने घर तक छोड़ने की बात कही जिसके बाद वह अपने घर पहुंची. उसके बाद पीड़ित नाबालिग छात्रा ने अपने परिवार को आपबीती सुनाई और पीड़िता के परिजनों ने क्रिश्चियन गंज थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है. पुलिस ने पॉक्सो की धाराओं में शिक्षक नरेश प्रजापत के खिलाफ मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया. वहीं पीड़िता ने शिक्षक के खिलाफ शिक्षा विभाग में भी शिकायत दे दी है और न्याय की गुहार की है.  

...अजमेर से फर्स्ट इंडिया के लिए शुभम जैन की रिपोर्ट

पेट्रोल-डीजल के बढ़े हुए दामों का विरोध, एनएसयूआई के छात्रों ने किया अनोखा प्रदर्शन

पेट्रोल-डीजल के बढ़े हुए दामों का विरोध, एनएसयूआई के छात्रों ने किया अनोखा प्रदर्शन

अजमेर: पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि को लेकर रविवार को अजमेर के राजकीय कालेज चौराहे पर एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. लेकिन गाइडलाइन की पालना नहीं करने और धारा 144 का उल्लंघन करने पर पुलिस ने बल पूर्वक छात्रों को तीतर बितर किया. अचानक हुए इस लाठीचार्ज के बाद मौके पर हंगामा खड़ा हो गया ओर छात्र इधर उधर भागने लगे. घटना के बाद आक्रोशित छात्रों ने नारेबाजी कर विरोध जताया. 

मन की बात में बोले पीएम मोदी, लद्दाख में भारत की भूमि पर आंख उठाकर देखने वालों को मिला करारा जवाब

एनएसयूआई छात्रों का अनोखा प्रदर्शन:
देश में बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर के जगह-जगह पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. वहीं अजमेर में भी एनएसयूआई के छात्रों ने जीसीए चौराहे पर अनोखा प्रदर्शन कर डाला. छात्रों ने पेट्रोल से चलने वाली स्कूटी को ठेले पर लेटा करके धक्का मारा. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रावण का रूप बताकर रावण बना कर विरोध किया. साथ ही प्रधानमंत्री मोदी के पुतले को पैरों से रौंदा ओर विरोध किया. विरोध के दौरान मौके पर क्लॉक टावर थाना पुलिस भी पहुंची और छात्रों से समझाइश करने लगी.

पेट्रोल और डीजल के दाम पूरे देश में मचा रहे है हाहाकार मचा:
लेकिन छात्र समझने को तैयार नहीं हुए जिस कारण से पुलिस को मजबूरन कुछ छात्रों पर डंडे भी बरसाने पड़े इसके बाद छात्र डंडे बरसाने के विरोध में वहीं पर धरने पर बैठ गए पुलिस के आला अधिकारियों ने समझाइश की. जिसके बाद छात्र वहां से खड़े हुए और रवाना हुए. जिलाध्यक्ष ने जानकारी देते हुए बताया कि पेट्रोल और डीजल के दाम पूरे देश में हाहाकार मचा रहे हैं उसको देखकर अब यही लगता है कि अब जो वाहन है वह ठेले के धक्के से ही चलेंगे क्योंकि आम आदमी के लिए इतना महंगा पेट्रोल भरवाना काफी भारी पड़ रहा है गनीमत यह रही कि मामला जल्द ही शांत हो गया अन्यथा छात्र भड़क जाते तो बड़ा विरोध हो जाता.

गृहमंत्री अमित शाह बोले, दिल्ली में कोरोना को लेकर काबू में हालात, नहीं होंगे 31 जुलाई तक 5.50 लाख केस

बाबा साहेब की प्रतिमा से छेड़छाड़ पर उपजे विवाद ने पकड़ा तूल, उपखण्ड अधिकारी ने कहा नई प्रतिमा लगाने के होंगे प्रयास

बाबा साहेब की प्रतिमा से छेड़छाड़ पर उपजे विवाद ने पकड़ा तूल, उपखण्ड अधिकारी ने कहा नई प्रतिमा लगाने के होंगे प्रयास

पुष्कर(अजमेर): कस्बे के अम्बेडकर सर्किल स्थित संविधान निर्माता डॉ भीमराव अंबडेकर की खडित प्रतिमा से छेड़छाड़ से उपजा विवाद थमने का नाम नही ले रहा. आज अनुसूचित जाति जनजाति अधिकार मंच के प्रदेश अध्यक्ष छीतरमल टेपण के नेतृत्व में दलित समाज के जनप्रतिनिधियों और लोगों ने सीओ ग्रामीण विनोदकुमार से मुलाकात कर प्रतिमा से छेड़छाड़ के आरोपी उपखण्ड कार्यलय के कार्मिकों और प्रतिमा से छेड़छाड़ के आरोपी लोगो के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की मांग की.

VIDEO: SMS अस्पताल के चिकित्सकों ने फिर किया कमाल ! 4 घंटे के सफल ऑपरेशन के बाद एक बच्ची को अपंग होने से बचाया 

समाज के लोग आगे की रणनीति बनाने में जुटे: 
अम्बेडकर महासभा के जिलाध्यक्ष गोपाल तिलोनिया ने बताया कि इस मामले में कल उपखण्ड अधिकारी देविका तोमर सहित दूसरे लोगों के खिलाफ शिकायत की थी लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई. इसको लेकर आज दलित समाज के लोग आगे की रणनीति बनाने में जुटे. अनुसूचित जाति जनजाति अधिकार मंच के प्रदेश अध्यक्ष छीतरमल टेपण ने बताया कि दलित सामज के लोग बैठकर मामले की सुलह करना चाहते थे लेकिन कई बार फ़ोन करने के बावजूद भी उपखण्ड अधिकारी देविका तोमर नही आई इसका मतलब वो मामले को सुलझाने के प्रति गंभीर नहीं है.

ऋणी किसानों के लिए फसल बीमा योजना स्वैच्छिक 

मुख्यमंत्री गहलोत के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा:
टेपण ने कहा कि उपखण्ड अधिकारी दलित सामज की भावनाओं को भड़काकर ठेस पहुंचाना चाहती है इसलिये उनको निलंबित या एपीओ किया जाए. टेपण ने कहा कि यदि सुनवाई नहीं हुई तो सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा. वहीं उपखण्ड अधिकारी देविका तोमर ने बताया दलित सामाज की और से प्रतिमा के खंडित होने की शिकायत मिली थी इस पर मरम्मत के लिए निरीक्षण के लिए नगर पालिका की और से कुछ लोग गए थे. तोमर ने बताया कि बाबा साहेब की नई प्रतिमा लगाने के लिए जिला कलेक्टर और नगर पालिका से आग्रह किया जाएगा. सीओ विनोदकुमार सीपा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है. 

VIDEO- अजमेर: शहीदों के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में भिड़े कांग्रेसी कार्यकर्ता, जमकर चले लात-घूंसे

अजमेर: लद्दाख के गवलान घाटी में शहीद हुए भारतीय सैनिकों को प्रदेश कांग्रेस आज सभी जिला मुख्यालयों पर श्रद्धांजलि अर्पित कर रही है. अजमेर में भी शहर कांग्रेस की ओर से स्टेशन रोड पर स्थित शहीद स्मारक पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हुआ. इस श्रद्धांजलि कार्यक्रम में दो कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए और जमकर एक दूसरे को लात घूंसों से मारने लगे. श्रद्धांजलि सभा में एकाएक हुए इस घटनाक्रम से वरिष्ठ नेता हैरान रह गए.  

जेएलएन मार्ग स्थित सरस पार्लर किराया विवाद से बंद, 15 करोड़ रुपए तक सालाना रहा है टर्न ओवर 

पुष्प अर्पित करने को लेकर हुई कहासुनी: 
दरअसल, कांग्रेस कार्यकर्ता शमशुद्दीन और सोना धनवानी के बीच पिछले काफी लंबे समय से मनमुटाव चल रहा है. इसी के चलते श्रद्धांजलि सभा के दौरान पुष्प अर्पित करने की बात को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई. इस बात पर दोनों ने वहीं पर एक दूसरे से जमकर मारपीट शुरू कर दी. यहां तक की दोनों ने एक दूसरे के कपड़े फाड़ दिए. उसके बाद मौके पर मौजूद कांग्रेसी नेताओं ने मामले को शांत कराया.  

सरकारी बंगले से किरोड़ीलाल मीणा अब रहेंगे निजी आवास पर! राजनीतिक गलियारों में एक बड़ी चर्चा 

महिला का काल बनकर आई कार, सीसीटीवी में कैद हुई दर्दनाक फुटेज, देखें वीडियो

अजमेर: जिले अलवर गेट थाना क्षेत्र के गुर्जर धरती में एक कार चालक ने बुधवार को शराब के नशे में वाहन चलाते हुए वृद्ध महिला को टक्कर मार दी जिससे उसकी मौत हो गई. पुलिस ने आरोपियों को दबोच कर मामले की जांच शुरू कर दी है. वहीं पूरी वारदात का आज सीसीटीवी फुटेज भी जारी हुआ है. 

Corona Updates: कोरोना के पहली बार एक दिन में आए करीब 17 हजार नए मामले, 418 लोगों की मौत  

घर के बाहर बैठी थी वृद्धा:  
घर के बाहर बैठी वृद्ध महिला का काल बनकर आयी कार ने उसे कुचल दिया और उसकी मौत हो गयी. वहीं शराब के नशे में कार चलाने वाले युवक और उसके 2 अन्य साथियों को क्षेत्रवासियों ने दबोचा और पुलिस के हवाले कर दिया. पूरी वारदात का सीसीटीवी जारी होने के बाद घटना सामने आई है. फर्स्ट इंडिया ने कल ही इस वारदात की जानकारी देते हुए बताया था कि पुलिस ने शराबी कार चालक सहित उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया है और पड़ताल शुरू कर दी है. वहीं आज वारदात का सीसीटीवी भी जारी हो गया.

लोगों ने चालक सहित कार में सवार तीनों युवकों को दबोच लिया: 
सीसीटीवी वीडियो में आप देख सकते हैं कि महिला अपने घर के बाहर सुबह बैठी थी और अचानक एक कार ने उसे सामने से आकर कुचल दिया. वहीं क्षेत्रवासियों ने चालक सहित कार में सवार तीनों युवकों को दबोच लिया और पुलिस के हवाले कर दिया. वहीं पुलिस मामले को पड़ताल में जुट गई है. 

लगातार 19 वें दिन पेट्रोल-डीजल की दर में वृद्धि जारी, पेट्रोल 9.22 रुपए तो डीजल 10.42 रुपए हुआ महंगा 

तीनों का शराब संबंधित परीक्षण भी करवाया:
अलवर गेट थाना पुलिस के अनुसार गुर्जर धरती निवासी राममूर्ति जिनके परिजनों व उनके क्षेत्रवासियों ने गंभीर हालत में जिला अस्पताल पहुंचाया था जहां चिकित्सकों ने महिला को मृत घोषित कर दिया. वहीं दुर्घटना के बाद शहरवासियों ने दुर्घटना करने वाले कार चालक सहित कार में बैठे दो अन्य युवकों को भी दबोच कर उनकी धुनाई करने बाद पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस ने जेएलएन अस्पताल में तीनों का शराब संबंधित परीक्षण भी करवाया है. पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर पड़ताल शुरू कर दी. 

तीर्थ नगरी पुष्कर में सूर्यग्रहण पर हुई रामधूनी और भजन कीर्तन, श्रद्धालुओं ने किया पवित्र सरोवर में शुद्धिकरण स्नान 

तीर्थ नगरी पुष्कर में सूर्यग्रहण पर हुई रामधूनी और भजन कीर्तन, श्रद्धालुओं ने किया पवित्र सरोवर में शुद्धिकरण स्नान 

पुष्कर: साल 2020 का पहला सूर्यग्रहण रविवार को संपन्न हुआ है. देशभर के कई राज्यों में सूर्यग्रहण के अद्भुत नजारे देखे गए. कहीं चंद्रमा के आकार का सूर्य नजर आया, तो कहीं पर रिंग के आकार का सूर्य नजर आया. वहीं सूर्यग्रहण के चलते दिन में अंधेरा छा गया. तीर्थ नगरी पुष्कर में रविवार को सूर्य ग्रहण के चलते जहां एक तरफ तीर्थ पुरोहित पवित्र घाटों पर रामधुनी और भजन कीर्तन और सरोवर की परिक्रमा करने में मंत्र मुग्ध हो रखे थे. तो वहीं दूसरी तरफ पुष्कर समेत आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों ने शुद्धिकरण स्नान करके पुण्य के भागीदार बने. 

राजस्थान के कई जिलों में दिखे सूर्यग्रहण के अद्भुत नजारे, कहीं दिन में छाया अंधेरा, तो कहीं दिखा रिंग ऑफ फायर

राम धूनी और भजन कीर्तन हुए: 
रविवार सुबह से ही सरोवर के पवित्र घाटों पर स्थानीय तीर्थ पुरोहित सरोवर की परिक्रमा की तो वहीं यज्ञ घाट और ब्रह्म घाट पर स्थानीय तीर्थ पुरोहितों ने सोशल डिस्टेंस की पालना के साथ राम धूनी और भजन कीर्तन किए. इसके बाद में पवित्र सरोवर में शुद्धिकरण  स्नान किया. सभी तीर्थ पुरोहितों ने पुष्कराज के जयकारों के साथ शुद्धीकरण स्नान किया.  इसके अलावा आसपास के ग्रामीण क्षेत्र में श्रद्धालुओं ने भी पवित्र सरोवर में शुद्धिकरण स्नान कर दान पुण्य किया.

श्रद्धालुओं ने किया दानपुण्य:
इसके अलावा शुद्धिकरण के साथ ही पुष्कर के मन्दिरों के आरती के साथ कपाट खोले गए हालांकि कोरोना महामारी के चलते मंदिरों में श्रदालुओं के प्रवेश पर राज्य सरकार ने रोक लगाने की वजह से श्रद्धालुओं ने जगतपिता ब्रह्मा मंदिर के सीढ़ियों से ही दर्शन किए. प्रशासन और पुलिस द्वारा कोरोना महामारी के चलते पवित्र सरोवर में स्नान करने पर प्रतिबंध लगाने की वजह से इस बार दूर दराज से श्रदालुओं की आवक काफी कम रही और पुष्कर के आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के ही श्रदालु आए, जिन्होंने शुद्धिकरण स्नान करके पवित्र सरोवर की पूजा अर्चना कर दान पुण्य किया.

आगरा रोड इलाके के विकास का खुला रास्ता, जेडीए ने इलाके के लिए गाइडलाइंस की  मंजूर

इस राशि के लोगों को सूर्यग्रहण के नहीं करने चाहिए दर्शन, जानिए क्या रहेगा राशियों पर सूर्यग्रहण का प्रभाव 

इस राशि के लोगों को सूर्यग्रहण के नहीं करने चाहिए दर्शन, जानिए क्या रहेगा राशियों पर सूर्यग्रहण का प्रभाव 

पुष्कर: देश के सभी हिस्सो में कल खंडग्रास सूर्य ग्रहण होगा. जिसका सूतक आज ही लग जाएगा. ग्रहण की अवधि के दौरान पुष्कर के सभी मंदिरों के पट बन्द रहेंगे. वहीं कोरोना आपदा के चलते पवित्र पुष्कर सरोवर में आस्था की डुबकी पर प्रतिबंध रहेगा. उपखण्ड अधिकारी देविका तोमर ने बताया कि कोरोना संकमण को रोकने के लिये स्वास्थ विशेषज्ञ की राय से यह निर्णय पहले ही लिया गया है जिसकी पालना करवाई जाएगी. ग्रहण का सूतक लगते ही शनिवार रात से ही पुष्कर के सभी मंदिरों के कपाट बंद हो जाएंगे जो ग्रहण शुद्ध होने के बाद ही खुलेंगे. 

देश और विदेशों में दिखाई देगा ग्रहण नजारा: 
देश के जाने माने ज्योतिषाचार्य पंडित कैलाशनाथ दाधीच ने बताया कि सूर्यग्रहण खंडग्रास और कंकणाकृती ग्रहण होगा. दाधीच के मुताबिक  21 जून सन 2020 आषाढ़ कृष्ण अमावस्या को देश और विदेशों में यह ग्रहण मान्य होगा. 20 जून सन 2020 शनिवार को रात्रि में 10:09 से ग्रहण का सूतक लग जाएगा. 21 जून 2020 रविवार को सिंह लग्न में ग्रहण प्रभावी होगा. सुबह 10:09 से दोपहर 1:00 बज कर 36 मिनट तक रहेगा. 

खुली आंखों से नहीं देखना चाहिए सूर्यग्रहण, पहुंच सकता है आंखों को नुकसान 

इस राशि पर रहेगा प्रभावी:
यह गृहण मृगशिरा नक्षत्र ,आद्रा नक्षत्र पर मिथुन राशि पर ग्रहण प्रभावी होगा. इसलिए इस राशि वालों को ग्रहण के दर्शन नहीं करने चाहिए.महिला, नवविवाहित कन्या, नवविवाहित बालक और बालिकाओं पर इस ग्रहण का दुष्प्रभाव रहेगा. वहीं उद्योग पतियों के लिए आर्थिक संकट एवं व्यापार में परेशानी का सामना करना पड़ेगा. मंत्री गण शासक वर्ग में पार्टी स्तर पर परेशानियां देखने को मिलेगी. धर्म के महापुरुषों को जनमानस में अशांति और अपीयर झेलना पड़ेगा. राजनेताओं के लिए संकट की घड़ी रहेगी इनको भी दर्शन नहीं करने चाहिए.

इन राशियों के लिए रहेगा शुभ:
मेष ,सिंह, कन्या, मकर राशि वालों के लिए यह ग्रहण शुभ बताया जा रहा है. वृषभ, तुला, धन, कुंभ के लिए मध्यम रहेगा. जबकि मिथुन, कर्क, वृश्चिक ,मीन राशि वालों के लिए अशुभ योग है. इस ग्रहण में सूर्य मंत्र का जाप ,शिव मंत्र का जाप, शक्ति मंत्र का जाप, गायत्री का जाप, धार्मिक पुस्तकों का पठन हवन यज्ञ मंत्र जाप एक जगह स्थिर होकर करने चाहिए. सूर्य के दर्शन करने का साहस नहीं करें. विदेशों में भी इस ग्रहण का दुष्प्रभाव रहेगा. 

इन देशों में रहेगा प्रभाव:
दक्षिण रूस, बांग्लादेश ,,मंगोलिया, श्रीलंका, नेपाल ,पाकिस्तान, थाईलैंड, जापान, इंडोनेशिया, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, इराक, ईरान ,अफगानिस्तान मैं पूर्ण प्रभाव रहेगा. इन देशों में अशांति परेशानी झगड़े और बीमारियों का प्रभाव बढ़ेगा. भारत में उत्तर प्रदेश में विशेष तौर पर इस ग्रहण का प्रभाव रहेगा जहां पूर्ण रूप से ग्रहण प्रभावी होगा. 

चरणामृत लेने से शरीर की शुद्धि:
कुरुक्षेत्र, देहरादून ,जोशीमठ ,गोपेश्वर, सूरतगढ़ ,मानेसर, रुद्रप्रयाग, चमोली क्षेत्रों में कंकणाकृती और खंडग्रास ग्रहण के दर्शन होंगे. ग्रहण के शुद्ध होने के बाद तीर्थों में नदियों में पवित्र सरोवर में स्नान करना चाहिए. अनदान, जल दान, वस्त्र दान, फल, गुड ,मक्का, ज्वार ,बाजरा ,गेहूं दक्षिणा  बर्तन कपड़े दान करने का अक्षय गुना फल लिखा है. तीर्थ में दान करें और ब्राह्मण को दान करें इसका कोठी गुना फल है पुष्कर जैसे महान तीर्थ ब्रह्मा के इस ब्रह्म सरोवर में स्नान करने से परिक्रमा करने से चरणामृत लेने से शरीर की शुद्धि एवं आत्मा की शुद्धि होती है. 

साल का पहला सूर्यग्रहण कल, नहीं देखें गर्भवती महिलाएं ग्रहण, जानिए कहां-कहां दिखेेगा ग्रहण 

शादी का झांसा देकर दुष्कर्म, मामला दर्ज

शादी का झांसा देकर दुष्कर्म, मामला दर्ज

अजमेर: जिले के सिविल लाइन थाने में आज शादी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. उसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर पड़ताल शुरू कर दी है. 

VIDEO: मैंने जनता की समस्याओं का मुद्दा उठाया, मेरी कोई समस्या नहीं- मंत्री रमेश मीणा  

सिविल लाइन थाना अधिकारी रवि समरिया ने जानकारी देते हुए बताया कि एक युवती ने थाने में आकर परिवाद पेश किया कि उसके साथ उसके पड़ोस में रहने वाले युवक ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया. जिस पर हम ने मामला दर्ज कर पड़ताल शुरू कर दी है. 

ये गलतियां Immune System को करती हैं कमजोर! 

वहीं समरिया ने यह भी बताया कि वह महिला को एक बार बीकानेर भी लेकर गया था वहां पर भी उसके साथ गलत काम किया था. हमने मामला दर्ज कर लिया है और पड़ताल जारी है. 

Open Covid-19