Live News »

अजीतगढ़ में पैंथर के मूवमेंट की घटना से फैली दहशत, कड़ी मशक्कत के बाद पिंजरे में किया कैद

अजीतगढ़ में पैंथर के मूवमेंट की घटना से फैली दहशत, कड़ी मशक्कत के बाद पिंजरे में किया कैद

सीकर: जिले के अजीतगढ़ कस्बे के आबादी इलाकों में रात के समय पैंथर के मूवमेंट की घटना के बाद रविवार को पैंथर दोपहर साढ़े 12 बजे शिखवाल बगीची से ग्राम पंचायत भवन तक करीबन 100 मीटर तक सड़क पर दौड़ता देखकर लोगों और दुकानदारों की सांसे फूल गई. पैंथर पंचायत में घुसने का प्रयास किया लेकिन भीड़ के हो-हल्ले के चलते जलदाय विभाग परिसर व बडगुजर कॉलोनी में छुपकर गौशाला के सामने पिपली के पेड़ पर चढ़ गया. सूचना पर सीकर डीएफओ विजय शंकर पांडे, श्रीमाधोपुर तहसीलदार महिपाल सिंह राजावत, एसीएफ वीरेंद्र कृष्णिया, रेंजर देवेंद्र सिंह, एसएचओ सवाई सिंह मय जाब्ता मौके पर पहुंचे. जानकारी मुताबिक रविवार को दोपहर करीबन साढ़े 12 बजे अचानक शिखवाल बगीची की ओर से सड़क पर दौड़ता हुआ पैंथर पंचायत भवन की ओर आया. अचानक पैंथर को मुख्य बाजार की सड़क पर दौड़ते देख कर लोग हक्के-बक्के रह गए. दुकानदारों ने दुकानें बंद कर दी तथा लाठियां लेकर पैंथर को भगाने के पीछे दौड़ने लगे. भीड़ को पीछे देख कर पैंथर पंचायत में घुसने का प्रयास किया लेकिन पंचायत का गेट बंद होने से खेल मैदान होकर जलदाय विभाग के जेईएन ऑफिस में छिप गया. इसकी सूचना जैसे ही लोगों को लगी बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए तथा एसएचओ सवाई सिंह मय जाब्ता मौके पर पहुंचे. 

लोगों की भीड़ देख कर पैंथर पीपल के पेड़ पर चढ़ गया: 
भीड़ के हो-हल्ले और भीड़ के हाथ मे लाठियां देख कर पैंथर 20 मिंट में ही पास की गली फांद कर बडगुजर कॉलोनी में घुस गया. यहां पर काफी देर तक छिपा रहा, एसएचओ सवाई सिंह ने वन विभाग एवम पुलिस के उच्चाधिकारियों को सूचना दी.  कॉलोनी में भी आधे घण्टे बाद पैंथर अजीतगढ़-चौमू स्टेट हाइवे क्रॉस कर गौशाला की ओर भाग गया. यहां पर लोगों और वाहनों की भीड़ देख कर पैंथर पास ही पीपल के पेड़ पर चढ़ गया. पैंथर होने की सूचना मिलने पर आसपास के गांवो-ढाणियों से बड़ी संख्या में लोग गोशाला के पास एकत्रित हो गए तथा मोबाइल से फ़ोटो, वीडियो बनाने की होड़ लग गई. इसी के चलते सैकड़ों लोगों की भीड़ स्टेट हाइवे पर आने से जाम लगा गया. सूचना पर करीबन 2.20 बजे नीमकाथाना डीएसपी रामावतार सोनी मौके पर पहुंचे तथा पीपल के पेड़ के नीचे खड़े लोगों को समझाइश कर हटवाया. इसी दौरान अजीतगढ़ वन चौकी प्रभारी शिवसहाय के मौके पर पहुंचने पर लोगों ने वन विभाग की लापरवाही का आरोप लगा कर देर तक सक्षम अधिकारी नही आने पर प्रदर्शन करने की चेतावनी दी. दोपहर तीन बजे श्रीमाधोपुर तहसीलदार महिपाल सिंह, रेंजर देवेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे जहां वन रेंजर को ग्रामीणों ने खूब खरी खोटी सुनाई. इसके बाद शाम 4 बजे जयपुर से ट्रेंक्यूलाइजन टीम पहुंची. 

शाम 5 बजे ट्रेंक्यूलाइजन इंजेक्शन लगा कर गिराया, जाल में कैद कर पिंजरे में लेकर गए: 
अजीतगढ़ में रविवार दोहपर साढ़े 12 बजे से शुरू हुए पैंथर के आतंक से निजात शाम 5 बजे मिली. जयपुर से आई टीम ने क्रेन की सहायता से पेड़ पर चढ़े पैंथर को इंजेक्शन लगाया गया. इसके कुछ देर बाद टहनियों को हिलाने से पैंथर गिर गया, इसके बाद दौड़ने लगा. मौके पर वन विभाग टीम ग्रामीणों की सहायता से जाल में फंसा कर पिंजरे में कैद किया. इसके बाद वन विभाग उसको सीकर के लिए लेकर रवाना हो गए. तब जाकर लोगों को राहत मिली. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in