नई दिल्ली प्रियंका गांधी बोलीं- जनता के पास मौका है कि भाजपा पर वोट की चोट करके महंगाई और बेरोजगारी को हराया जाए

प्रियंका गांधी बोलीं- जनता के पास मौका है कि भाजपा पर वोट की चोट करके महंगाई और बेरोजगारी को हराया जाए

प्रियंका गांधी बोलीं- जनता के पास मौका है कि भाजपा पर वोट की चोट करके महंगाई और बेरोजगारी को हराया जाए

नई दिल्ली: कांग्रेस ने पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव तिथियों की घोषणा होने के बाद शनिवार को कहा कि इन प्रदेशों में लोगों के पास सुनहरा मौका है कि वे भाजपा के खिलाफ वोट की चोट करके महंगाई, बेरोजगारी, किसानों और महिलाओं पर अत्याचार को पराजित करें. कांग्रेस ने यह भी कहा कि चुनाव आयोग को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव लिए सभी के लिए समान अवसर सुनिश्चित करना चाहिए तथा आने वाले दिनों में नुक्कड़ सभाओं की अनुमति प्रदान करनी चाहिए. चुनावों की तिथियों की घोषणा के बाद कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया कि 10 मार्च को उप्र के नौजवानों, किसानों, महिलाओं, श्रमिकों, व्यापारियों एवं आमजनों की जीत का मार्च होगा. 

इन चुनावों में कांग्रेस पार्टी नौजवानों, किसानों, महिलाओं, श्रमिकों, व्यापारियों एवं आमजनों के हकों की लड़ाई लड़ेगी. लड़ेगा, बढ़ेगा, जीतेगा यूपी. कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि इन प्रदेशों में लोगों के पास सुनहरा मौका है कि वे भाजपा के खिलाफ वोट की चोट करके महंगाई, बेरोजगारी, किसानों और महिलाओं पर अत्याचार को पराजित करें. उन्होंने यह भी कहा कि पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में कांग्रेस की जीत होगी और उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के बिना कोई सरकार नहीं बनेगी. सुरजेवाला ने संवादाताओं से कहा कि लोगों के पास अवसर है कि वे भाजपा को भी हराएं और महंगाई को भी हराएं. किसानों के पास मौका है कि वे लखीमपुर खीरी में टायरों के नीचे कुचलने वालों और ऐसे लोगों को मंत्री बनाकर बैठाने वाली भाजपा को सजा दें. सुरजेवाला ने लोगों से अपील की कि वे खेती के व्यापार को कुछ उद्योगपतियों को बेचने की साजिश करने वालों को हराएं. उन्होंने कहा कि युवाओं के पास मौका है कि वे भाजपा पर वोट की चोट करें और बेरोजगारी को हराएं. महिलाओं के पास स्वर्णिम मौका है कि भाजपा को हराकर अत्याचार और महंगाई से निजात पाएं. दलितों और पिछड़ों के पास मौका है, कि भाजपा को हराएं और अत्याचार एवं अधिकारों पर कुठाराघात से मुक्ति पाएं.

 

उन्होंने जोर देकर कहा कि भाजपा सिर्फ चुनावी हार से घबराती है. सुरजेवाला ने कहा कि चुनाव आयोग को सुनिश्चित करना चाहिए कि इन चुनावों में सभी के पास बराबर मौके वाली स्थिति हो तथा उम्मीद है कि आगे नुक्कड़ सभाओं की अनुमति मिलेगी. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पंजाब में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और चुनाव अभियान समिति के प्रमुख सुनील जाखड़ पार्टी के तीन प्रमुख चेहरे हैं और ये मिलकर वहां कांग्रेस की जीत सुनिश्चित करेंगे. निर्वाचन आयोग ने शनिवार को पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों के कार्यक्रमों की घोषणा कर दी. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के तहत 10 फरवरी से लेकर सात मार्च तक सात चरणों में मतदान होगा, वहीं उत्तराखंड, पंजाब और गोवा में एक ही चरण में 14 फरवरी को वोट डाले जाएंगे. मणिपुर में दो चरणों में 27 फरवरी और तीन मार्च को मतदान होगा और इन सभी राज्यों के विधानसभा चुनाव की मतगणना 10 मार्च को होगी. सोर्स- भाषा

और पढ़ें