इंदौर Madhya Pradesh: इंदौर में कोविड वैक्सीन की दूसरी खुराक नहीं लेने वाले लोगों को चिड़ियाघर और मनोरंजन स्थलों में नहीं दिया जाएगा प्रवेश

Madhya Pradesh: इंदौर में कोविड वैक्सीन की दूसरी खुराक नहीं लेने वाले लोगों को चिड़ियाघर और मनोरंजन स्थलों में नहीं दिया जाएगा प्रवेश

Madhya Pradesh: इंदौर में कोविड वैक्सीन की दूसरी खुराक नहीं लेने वाले लोगों को चिड़ियाघर और मनोरंजन स्थलों में नहीं दिया जाएगा प्रवेश

इंदौर: इंदौर में प्रशासन ने तय समयसीमा बीतने के बावजूद कोविड-19 रोधी टीके की दूसरी खुराक नहीं लेने वाले वाले लोगों का चिड़ियाघर और अन्य मनोरंजन स्थलों में प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया है. शहर के कमला नेहरू चिड़ियाघर के प्रभारी उत्तम यादव ने मंगलवार को ‘‘पीटीआई-भाषा’’ को बताया, "हम दर्शकों की सेहत की हिफाजत के लिए उन्हीं वयस्कों को चिड़ियाघर का टिकट बेच रहे हैं जिन्होंने महामारी रोधी टीके की दोनों खुराकें ले रखी हैं. उन्होंने बताया कि दर्शकों की सुविधा के लिए चिड़ियाघर के बाहर टीकाकरण केंद्र भी चलाया जा रहा है.

इंदौर नगर निगम (आईएमसी) की आयुक्त प्रतिभा पाल ने बताया कि शहर में आईएमसी संचालित प्रमुख मनोरंजन केंद्र रीजनल पार्क में भी उन्हीं लोगों को प्रवेश दिया जा रहा है जिन्होंने महामारी रोधी की दोनों खुराकें ले रखी हैं. इस बीच, जिलाधिकारी मनीष सिंह ने बताया कि श्रम विभाग के निरीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं कि वे वाणिज्यिक संस्थानों के कर्मचारियों के टीकाकरण की स्थिति की जांच करें. उन्होंने कहा, "सभी वाणिज्यिक संस्थानों के मालिकों को सुनिश्चित करना होगा कि उनके कर्मचारी तय अवधि में महामारी रोधी टीके की दोनों खुराकें ले लें. उन्हें अपने कर्मचारियों के पूर्ण टीकाकरण के प्रमाणपत्र अपने पास रखने होंगे.

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर तरुण गुप्ता ने बताया कि इंदौर में पात्र आयु वर्गों के 30.07 लाख लोगों को महामारी रोधी टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है और इनमें शामिल 21.22 लाख लोग टीके की दूसरी खुराक भी ले चुके हैं. उन्होंने कहा, ‘‘जिले में करीब छह लाख लोग तय समयसीमा बीतने के बावजूद दूसरी खुराक लेने के लिए टीकाकरण केंद्रों पर नहीं पहुंचे हैं. गौरतलब है कि इंदौर, सूबे में कोविड-19 की पिछली दो लहरों से सबसे ज्यादा प्रभावित रहा है. हालांकि, बढ़ते टीकाकरण के बीच इन दिनों जिले में महामारी के बेहद कम नये मामले सामने आ रहे हैं. सोर्स- भाषा

और पढ़ें