सूरत, गुजरात टीके की मंजूरी पर सवाल उठाने वाले लोग मंदबुद्धि हैं: Union Minister प्रधान

टीके की मंजूरी पर सवाल उठाने वाले लोग मंदबुद्धि हैं: Union Minister प्रधान

टीके की मंजूरी पर सवाल उठाने वाले लोग मंदबुद्धि हैं: Union Minister  प्रधान

सूरतः केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भारत में निर्मित कोरोना वायरस के टीके को मंजूरी देने पर सवाल उठाने वाले लोगों को आज एक बयान में मंदबुद्धि बताया है. आपको बता दें कि प्रधान का बयान ऐसे वक्त आया है, जब कांग्रेस के कुछ नेताओं ने तीसरे चरण का परीक्षण जारी रहने के बावजूद भारत बायोटेक के टीके को सीमित आपात इस्तेमाल को लेकर मंजूरी देने पर आशंकाएं जाहिर की है.

प्रधान ने कहा है कि जो मंदबुद्धि हैं और जिन्हें वैज्ञानिकों और भारत की शक्ति पर भरोसा नहीं है, वही ऐसे बेतुके बयान दे रहे हैं. प्रधान ने कहा है कि ये टीके भारतीय कंपनियों और हमारे वैज्ञानिकों की खास उपलब्धियां हैं. लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल का स्वागत किया है. कुछ मंदबुद्धि लोग कभी ठीक नहीं होंगे, खासकर कांग्रेस का नेतृत्व, जिन्हें हर चीज में गड़बड़ी दिखती है.

सूरत नगर निगम के प्रवासी प्रकोष्ठ का उद्घाटन करने के लिए मुख्य अतिथि के तौर पर आए प्रधान ने केंद्र के नए कृषि कानूनों का भी बचाव किया था और कहा था कि इनकी बदौलत कृषि क्षेत्र में निवेश आएगा और किसान बाजार मूल्यों पर अपनी उपज बेच सकेंगें. आपको बता दें कि अखिलेश यादव ने कहा था कि वे वैक्सीन नहीं लगवाएंगें और यदि उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो ही वे इसका उपभोग करेगें. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें