जयपुर बसपा विधायकों के खिलाफ लंबित शिकायत को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर, 27 जुलाई को होगी सुनवाई

बसपा विधायकों के खिलाफ लंबित शिकायत को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर, 27 जुलाई को होगी सुनवाई

बसपा विधायकों के खिलाफ लंबित शिकायत को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर, 27 जुलाई को होगी सुनवाई

जयपुर: प्रदेश में सियासी संकट के बीच एक ओर नया मामला अदालत पहुंच गया है.बसपा के छह विधायकों के कांग्रेस में विलय का मामले में 4 माह पूर्व कि गयी शिकायत पर अब तक कार्यवाही नही होने को लेकर राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका दायर कि गयी है.भाजपा विधायक मदन दिलावर की ओर से दायर याचिका पर 27 जुलाई को जस्टिस महेन्द्र गोयल की एकलपीठ सुनवाई करेगी.एकलपीठ में सुनवाई के लिए मामला मुख्यवाद सूची में 56 नंबर पर सूचीबद्ध किया गया है.

राजभवन के बाहर रणदीप सुरजेवाला का बयान, कहा-BJP प्रजातंत्र का कर रही है चीरहरण 

शिकायत पर अभी तक नहीं हुई कोई कार्रवाई:
याचिका में विधायक मदन दिलावर ने विधानसभा अध्यक्ष, सचिव और सीपी जोशी सहित बसपा के छह विधायकों को भी पक्षकार बनाया है. याचिका में कहा है कि विधानसभा अध्यक्ष को याचिकाकर्ता ने चार महीने पहले मार्च 2020 में बसपा विधायक लखन सिंह, राजेन्द्र सिंह गुढ़ा, दीपचंद खेड़िया, जोगेन्दर सिंह अवाना, संदीप कुमार व वाजिब अली के कांग्रेस में विलय के खिलाफ शिकायत की थी. इसमें अध्यक्ष से आग्रह किया था कि वे इन छह एमएलए को दलबदलू कानून के तहत राजस्थान विधानसभा की सदस्यता से अयोग्य घोषित करे.लेकिन अध्यक्ष ने उनकी शिकायत पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है. इसलिए अदालत अध्यक्ष को बसपा विधायकों को अयोग्य घोषित करने से संबंधित लंबित शिकायत याचिका पर जल्द सुनवाई का आदेश दे.

सितंबर 2019 में हुए थे बसपा के 6 विधायक कांग्रेस में शामिल:
विधानसभा चुनावों के करीब 6 माह बाद बसपा के 6 विधायक 17 सिंतबर 2019 को कांग्रेस में शामिल हो गये.राजेन्द्र गुढा (विधायक, उदयपुरवाटी), जोगेंद्र सिंह अवाना (विधायक, नदबई), वाजिब अली (विधायक, नगर), लाखन सिंह मीणा (विधायक, करोली), संदीप यादव (विधायक, तिजारा) और बसपा विधायक दीपचंद खेरिया ने कांग्रेस की सदस्यता ली.चुनावों में  कांग्रेस की 200 विधानसभा सीटों में से 99 पर ही जीत मिल पायी थी.उपचुनाव में कांग्रेस को मिली एक ओर से जीत के बाद कांग्रेस ने 100 का आंकड़ा छुआ था. बहुजन समाज पार्टी के सभी 6 विधायकों को कांग्रेस में शामिल कर अशोक गहलोत ने राजस्थान में अपनी स्थिति मजबूत कर ली.

संजय जैन 5 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में, 29 जुलाई को लिया जाएगा ऑडियो सैंपल

और पढ़ें