Live News »

प्रदेश में राजस्थान रॉयल्स के दो मैच कराने को लेकर याचिका, हाईकोर्ट में कल होगी सुनवाई

प्रदेश में राजस्थान रॉयल्स के दो मैच कराने को लेकर याचिका, हाईकोर्ट में कल होगी सुनवाई

जयपुर: आईपीएल के 13 वें सीजन में राजस्थान रॉयल्स से जुड़े दो मैच राजस्थान से बाहर कराने को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है. रणजी पूर्व खिलाड़ी राहुल कावंट, शैलेंद्र कौशिक और यूनुस अली ने एडवोकेट विमल जैन और योगेश टेलर के जरिए जनहित याचिका दायर की है. 

याचिका में कहा गया है कि राजस्थान रॉयल्स से जुड़े मैच राजस्थान में ही होने चाहिए, क्योंकि खिलाड़ियों को घरेलू मैदान पर खेलने का अनुभव है और इससे राजस्थान में रोजगार और व्यवसाय को भी प्रोत्साहन मिलेगा. जनहित याचिका पर शुक्रवार को मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति की खण्डपीठ सुनवाई करेगी. 

और पढ़ें

Most Related Stories

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 5 मौत, 269 नए संक्रमित केस आये सामने, कुल पॉजिटिव केस हुए 9100

जयपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढते जा रहे है. पिछले 24 घंटे में 5 मरीजों की मौत हो गई. ज​बकि 269 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. जयपुर में 3, बारां-बीकानेर में 1-1 मरीज की मौत हो गई. सर्वाधिक 52 केस अकेले पाली में  सामने आये है. राजस्थान में कुल 199 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है. वहीं कुल 9100 कोरोना पॉजिटिव केस है. 

देश में 200 ट्रेनों का संचालन शुरू, जयपुर जंक्शन से गुजरेंगी 10 ट्रेनें, पहले दिन जयपुर से जोधपुर गई ट्रेन

पाली में सामने आये 52 नए केस: 
सोमवार रात 8:30 बजे तक सर्वाधिक 52 केस अकेले पाली में सामने आये. अजमेर 7, अलवर 6, बारां 27, भरतपुर 44, भीलवाड़ा 2 पॉजिटिव, चूरू 7, दौसा 2, डूंगरपुर 3, जयपुर 36, झालावाड़ 5 पॉजिटिव, झुंझुनूं 6, जोधपुर 32, कोटा 11, राजसमंद एक, सीकर 12 पॉजिटिव, सिरोही 5, टोंक 1, उदयपुर में 10 मरीज पॉजिटिव केस सामने आये है. 

जयपुर में कोरोना का बढ़ता दायरा:
राजधानी जयपुर में कोरोना का दायरा बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटे में 3 लोगों की मौत हो गई. 36 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. सर्वाधिक 5 पॉजीटिव केस जयपुर के गंगापोल में मिले. आदर्श बस्ती,टोंक फाटक 4, कोटपूतली में 3,खजाने वालों का रास्ता,विद्याधर नगर, शास्त्री नगर में 2-2, डिस्ट्रिक जेल, सुभाष नगर,कच्ची बस्ती, ईदगाह, वन विहार, तिलक नगर, जौहरी बाजार, 22गोदाम, मच्छावा कालवाड रोड,सुभाष चौक, मानसरोवर, ज्योति नगर, आदर्श नगर, पावटा, पानीपेच, रामगंज, ब्रह्मपुरी में 11 पॉजिटिव केस सामने आये. जयपुर में अब तक 94 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है. वहीं कुल 2027 पॉजिटिव केस हो चुके है.

SHO विष्णुदत्त सुसाइड केस की CBI जांच की मांग, सीएम गहलोत से मिला विश्नोई समाज का प्रतिनिधिमंडल

देश में 200 ट्रेनों का संचालन शुरू, जयपुर जंक्शन से गुजरेंगी 10 ट्रेनें, पहले दिन जयपुर से जोधपुर गई ट्रेन

जयपुर: रेलवे प्रशासन ने सोमवार से देशभर में 200 स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया है. उत्तर-पश्चिम रेलवे से भी कुल 10 ट्रेनें चलाई जाएंगी. इनमें से 5 ट्रेनें जयपुर जंक्शन आएंगी और 5 जयपुर जंक्शन से जाएंगी. हालांकि सोमवार को पहले दिन जयपुर जंक्शन से मात्र एक ट्रेन का ही संचालन शुरू हो सका है. यूं तो देश में यात्री ट्रेनों का संचालन 12 मई से शुरू हो चुका था, लेकिन देश में सही मायनों में ट्रेन संचालन सोमवार  से शुरू हो गया. दरअसल 12 मई से मात्र 15 स्पेशल टेनें चलाई जा रही थीं, जबकि आज से 200 स्पेशल ट्रेनों को चलाने की मंजूरी दी गई है.

सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए ट्रेनों में होगी यात्रा:
उत्तर-पश्चिम रेलवे जोन ने 10 ट्रेनाें का संचालन शुरू किया है. इनमें से 5 ट्रेनों का आवागमन जयपुर जंक्शन से होकर भी होगा. सोमवार से जयपुर से जोधपुर के लिए स्पेशल ट्रेन शुरू हुई. यह ट्रेन अलसुबह 6 बजे जोधपुर के लिए रवाना हुई. ट्रेन से 234 यात्री जोधपुर के लिए रवाना हुए. अब रेल यात्रा के दौरान यात्रियों को कई तरह की सावधानियां रखनी होंगी. ट्रेन में यात्रियों को अलग-अलग गेट से उतरना और चढ़ाना होगा. प्लेटफॉर्म पर यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लाइन में लगकर स्टेशन के अंदर और बाहर आना-जाना होगा.

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की बिछी चौसर, तीन सीटों पर चार उम्मीदवार मैदान में 

कम से कम 90 मिनट पहले पहुंचना होगा स्टेशन:
सोशल डिस्टेंसिंग के लिए एंट्री गेट से लेकर प्लेटफॉर्म तक पीले और सफेद रंग के पेंट से गोले बनाए गए हैं. स्टेशन पर एंट्री के लिए एक ही गेट रहेगा. जबकि एग्जिट के लिए दो गेट होंगे. आने-जाने वाले सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी. सभी यात्रियों को 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा. अधिकतम 2 घंटे पहले यात्री स्टेशन पहुंच सकेंगे. यात्री में कोरोना के लक्षण दिखने पर यात्रा करने से रोक दिया जाएगा. बाहर निकलने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग प्लेटफॉर्म-1 के मजिस्ट्रेट गेट के सामने वाले और कॉनकोर्स हॉल वाले एग्जिट गेट पर बने काउंटर्स पर होगी.

ट्रेनों का यह रहेगा टाइम टेबल:
- 02307 हावड़ा-जोधपुर आज से शुरू, रात 12:35 बजे जयपुर पहुंचकर 12:45 बजे जोधपुर जाएगी
- 02308 जोधपुर-हावड़ा ट्रेन 3 जून से शुरू होगी, रात 1:50 बजे जयपुर पहुंचकर 2:05 बजे हावड़ा जाएगी
- 02464 जोधपुर-दिल्ली सराय 2 जून से चलेगी, रात 12:15 बजे जयपुर पहुंचकर 12:25 बजे दिल्ली जाएगी
- 02463 दिल्ली सराय-जोधपुर 3 जून से होगी शुरू, रात 3:05 बजे जयपुर पहुंचकर 3:15 बजे जोधपुर जाएगी
- 02915 अहमदाबाद-दिल्ली सराय का समय बदला, सुबह 4:42 बजे जयपुर पहुंचकर 4:52 बजे दिल्ली जाएगी
- 02478 जयपुर-जोधपुर शुरू हुई, जयपुर से सुबह 6 बजे जोधपुर जाएगी
- 02065 अजमेर-दिल्ली सराय शुरू हुई, किशनगढ़, फुलेरा, रींगस, नीमकाथाना होकर चलेगी ट्रेन
- 02955 मुंबई सेंट्रल-जयपुर शुरू हुई, मुम्बई से चलकर दोपहर 12:45 बजे जयपुर पहुंचेगी
- 02956 जयपुर-मुंबई सेंट्रल 2 जून से शुरू होगी, दोपहर 2 बजे जयपुर से मुंबई के लिए होगी रवाना
- 02916 दिल्ली-अहमदाबाद का 2 जून से समय बदलेगा, शाम 8:25 बजे जयपुर पहुंचकर 8:35 बजे अहमदाबाद जाएगी
- 02066 दिल्ली सराय-अजमेर शुरू हुई, नीम का थाना, रींगस, फुलेरा, किशनगढ़ होकर चलेगी ट्रेन
- 02477 जोधपुर-जयपुर ट्रेन शुरू हुई, जोधपुर से चलने वाली ट्रेन रात 9:15 बजे जयपुर पहुंचेगी

निजी अस्पतालों के लिए एडवाइजरी जारी, कोरोना मरीजों का फ्री इलाज, अन्यथा होगी सख्त कार्रवाई 

यात्रियों के लिए अब होगा आवागमन सुगम:
शेड्यूल में हालांकि ट्रेनों का संचालन सोमवार से शुरू हो चुका है, लेकिन सोमवार से मात्र एक ट्रेन का संचालन ही जयपुर जंक्शन से हो रहा है. जयपुर से सुबह जोधपुर के लिए ट्रेन रवाना हुई और यही ट्रेन रात सवा नौ बजे जोधपुर से वापस जयपुर लौटेगी. मंगलवार को मुम्बई सेंट्रल से आने वाली ट्रेन भी जयपुर पहुंचेगी. यानी मंगलवार से अधिकांश ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा. कुलमिलाकर यात्रियों के लिए अब आवागमन सुगम होगा और लोग अपने गंतव्य तक पहुंच सकेंगे. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

SHO विष्णुदत्त सुसाइड केस की CBI जांच की मांग, सीएम गहलोत से मिला विश्नोई समाज का प्रतिनिधिमंडल

जयपुर: राजगढ़ एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या मामले की जांच अब सीबीआई से हो सकती है. विश्नोई समाज के एक बड़े प्रतिनिधि मंडल ने सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से उनके आवास पर मुलाकात करके पूरी मामले की सीबीआई जांच की मांग की है. सीएम गहलोत ने समाज के प्रतिनिधियों को कहा कि वे दो दिन में इस बारे में फैसला करेंगे. सीएम गहलोत से मुलाकात करके बिश्नोई समाज के प्रतिनिधि संतुष्ट नजर आए.

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की बिछी चौसर, तीन सीटों पर चार उम्मीदवार मैदान में 

सीबीआई से जांच की मांग :
राजगढ़ एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या का मामले में सीबीआई से जांच की मांग ने जोर पकड़ लिया है. सोमवार को अखिल भारतीय विश्नोई महासभा के संरक्षक कुलदीप विश्नोई और वन पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्नोई के नेतृत्व में समाज के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की. इस प्रतिनिधिमंडल में राजस्थान के 6 और हरियाणा के 2 विश्नोई समाज के विधायक शामिल थे. 

2 दिन का समय मांगा:
लोहावट विधायक किसनाराम, लूनी विधायक महेंद्र विश्नोई, नोखा विधायक बिहारीलाल, हरियाणा में विधायक डूडा राम और कई पूर्व विधायक व सांसद भी प्रतिनिधिमंडल में शामिल थे. उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से कहा प्रकरण में जिस तरह की बातें सामने आ रही है उसमें निष्पक्ष जांच की आवश्यकता है, लिहाजा सीबीआई जांच की मांग करवाई जाए.सीएम गहलोत ने प्रतिनिधिमंडल को सीबीआई जांच की अनुशंसा के लिए 2 दिन का समय मांगा है. मीडिया से बातचीत में सुखराम बिश्नोई ने कहा कि वे राज्य सरकार की जांच एजेंसी कार्रवाई से भी संतुष्ट हैं लेकिन समाज की भावना है लिहाजा यह भी चाहते हैं कि प्रकरण की सीबीआई जांच करवाई जाए. वहीं कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि हम सीएम के साथ बातचीत करके संतुष्ट है और उम्मीद है कि दो दिन में सीबीआई जांच का फैसला हो जाएगा.

जयपुर एयरपोर्ट पर बढ़ा फ्लाइट संचालन, कोलकाता, आगरा, गुवाहाटी के लिए फ्लाइट शुरू

जयपुर एयरपोर्ट पर बढ़ा फ्लाइट संचालन, कोलकाता, आगरा, गुवाहाटी के लिए फ्लाइट शुरू

जयपुर एयरपोर्ट पर बढ़ा फ्लाइट संचालन, कोलकाता, आगरा, गुवाहाटी के लिए फ्लाइट शुरू

जयपुर: जयपुर एयरपोर्ट से सोमवार से फ्लाइट संचालन में बढ़ोतरी देखी जा रही है. सोमवार से तीन नए शहरों के लिए फ्लाइट्स शुरू हुई हैं. जयपुर से कोलकाता, आगरा और गुवाहाटी के लिए फ्लाइट्स शुरू हो गई हैं. हालांकि फ्लाइट्स के संचालन की शुरुआत 25 मई से हुई थी, लेकिन अभी तक इन तीनों शहरों के लिए एक भी फ्लाइट संचालित नहीं हो सकी थी. सोमवार से इंडिगो ने कोलकाता के लिए, स्पाइसजेट ने गुवाहाटी के लिए और एयर इंडिया ने आगरा के लिए फ्लाइट शुरू कर दी हैं.

स्पाइसजेट ने बढ़ाई फ्लाइट्स की संख्या:
स्पाइसजेट ने आज से मुम्बई के लिए भी फ्लाइट शुरू कर दी है. देश में कई एयरपोर्ट से गो एयर ने आज से फ्लाइट शुरू कर दी हैं, लेकिन जयपुर एयरपोर्ट से गो एयर ने अभी फ्लाइट संचालन शुरू नहीं किया है. आपको बता दें कि चार एयरलाइंस ने जयपुर एयरपोर्ट से कुल 20 फ्लाइट्स का शेड्यूल दिया हुआ है, इनमें से आज 7 फ्लाइट रद्द हैं, जबकि 13 फ्लाइट संचालित हो रही हैं.

निजी अस्पतालों के लिए एडवाइजरी जारी, कोरोना मरीजों का फ्री इलाज, अन्यथा होगी सख्त कार्रवाई 

जयपुर एयरपोर्ट से 7 फ्लाइट रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 5:40 बजे सूरत जाने वाली फ्लाइट SG-2763 हुई रद्द
- इंडिगो की सुबह 6:10 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट 6E-839 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 7:20 बजे जालंधर जाने वाली फ्लाइट SG-2750 हुई रद्द
- एयर एशिया की सुबह 9:15 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट I5-1721 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 10 बजे उदयपुर जाने वाली फ्लाइट SG-6632 हुई रद्द
- इंडिगो की दोपहर 12:40 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट 6E-498 हुई रद्द
- एयर इंडिया की शाम 5 बजे दिल्ली जाने वाली फ्लाइट AI-492 हुई रद्द

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट 

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की बिछी चौसर, तीन सीटों पर चार उम्मीदवार मैदान में 

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की बिछी चौसर, तीन सीटों पर चार उम्मीदवार मैदान में 

जयपुर: राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की चौसर बिछ गई है.3 सीटों पर 4 उम्मीदवार चुनावी समर में उतरे है, दो भाजपा से और दो कांग्रेस से.तीसरी सीट के लिये रोमांचक जंग के आसार है. वोटों का गणित कांग्रेस के पक्ष में है,करीब 122 से 125 वोट कांग्रेस खेमे में माने जा रहे ,बीजेपी को उम्मीद है सेंध लगाने की.  

पूरे 200 विधायकों के वोट हैं मान्य: 
राज्यसभा चुनाव की गणित की बात करे तो एक सीट को जीतने के लिए कितने वोट चाहिए?  दरअसल, प्रदेश की तीन सीटों पर हो रहे चुनाव को लेकर पूरे 200 विधायकों के मान्य वोट हैं. प्रदेश की इन तीनों सीटों की बात करें तो हर एक सीट को जीतने के लिए प्रथम वरीयता के लिए 51 वोट चाहिए. कांग्रेस ने दोनों उम्मीदवारों को बराबरी का वोट दिलाने की रणनीति बना ली थी.

सत्ताधारी दल के पास वोटों की गणित की बात करे तो
कांग्रेस - 107
निर्दलीय - 13
बीटीपी-2
आरएलडी-1
सीपीएम - 2
कांग्रेस +=125 

बीजेपी +
72 वोट
RLP - 2
कुल वोट-74

कांग्रेस को दो सीट जीतने के लिए चाहिए 102 वोट:
तय फॉर्मूले के अनुसार कांग्रेस को दो सीट जीतने के लिए 102 वोट चाहिए जो कि पर्याप्त रूप से उसके पास हैं. वहीं बात करते है कि भाजपा के पास सदन में 72 विधायक हैं, ऐसे में प्रथम वरीयता के 51 वोट चाहिए लिहाजा भाजपा के खाते में भी एक सीट आने वाली है. दो सीटों पर बीजेपी की जीत की संभावना तभी है जब निर्दलियों और कांग्रेस कैम्प में सेंध लगे.

दक्षिण-पश्चिमी मॉनसून पहुंच गया केरल, अगले 24 घंटे में लक्षद्वीप में भारी बारिश की संभावना

बीजेपी की रणनीति
-असंतुष्ट कांग्रेस विधायकों का समर्थन जुटाना
-लेकिन वोट दिखाकर देना होगा
-कांग्रेस विधायक दल के व्हीप का पालन करना अनिवार्य होगा
-क्रास वोट, अनुपस्थित और पेन/स्याही की गलती करने पर ही बीजेपी को लाभ
-निर्दलीय विधायकों का वोट गोपनीय होता है दिखाकर और नहीं दिखाकर दोनों तरीके से वोट दे सकते है
-बीजेपी की कोशिश निर्दलियों के वोट में सेंध लगे, हालांकि कार्य आसान नहीं है

बहरहाल चुनाव तो चुनाव ही है.लॉक डाउन के कारण रिसोर्ट राजनीति भले ही नजर ना आये लेकिन खेमेबंदी साफ नजर आने वाली है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए योगेश शर्मा की रिपोर्ट 

निजी अस्पतालों के लिए एडवाइजरी जारी, कोरोना मरीजों का फ्री इलाज, अन्यथा होगी सख्त कार्रवाई 

कोरोना से मुकाबले के बीच अनूठी मिसाल, राज्यपाल कलराज मिश्र ने की 200 विधायकों से बात

कोरोना से मुकाबले के बीच अनूठी मिसाल, राज्यपाल कलराज मिश्र ने की 200 विधायकों से बात

जयपुर: कोरोना के बीच राज्य में शासन तंत्र की एक अलग मिसाल कायम हुई है. राजभवन और 8 सिविल लाइंस दोनों सक्रिय दिखे ,चाहे लॉकडाउन रहा हो या अन लॉक डाउन. राजभवन ने प्रत्येक विधानसभा के विधायक और सांसदों से उनके क्षेत्र का हाल जाना, राज्यपाल कलराज मिश्र ने जन प्रतिनिधियों से बात की. वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना के खिलाफ अपने स्टेप्स से देश में मिसाल कायम की. राज्यपाल ने सभी 200 विधायकों से फोन पर बात की. इस दौरान राजभवन और 8सिविल लाइंस के बीच अद्भुत समन्वय नजर आया.

200 विधायकों और 25सांसदो से फोन पर बात:
राजभवन, नाम से ही आभामंडल का अहसास होता है ,धारणा रहती है कि राजभवन तक पहुंच आसां नहीं है ,लेकिन बीते दिनों कोरोना के प्रकोप के बीच राजभवन एक हमदर्द के तौर पर सामने आया. प्रदेश के 200 विधायकों और 25सांसदो से फोन पर बात की और हाल-चाल जाना. राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रत्येक विधायक और सांसद से फोन पर बात की ,मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से तो उनकी दर्जनों बार बातचीत हुई ,कोरोना महामारी के उपायों पर विस्तृत विचार विमर्श हुआ. महामहिम ने लीक से हटकर प्रत्येक मंत्री को भी फोन किये और हाल-चाल जाना , कांग्रेस, बीजेपी ,सी पी एम,आर एल पी,बीटीपी और निर्दलीय विधायकों से बात की. ऐसा पहली बार शायद राजस्थान के राज्यपाल ने किया.  

कोरोना संकट के बीच राहतभरी खबर, इटली के टॉप डॉक्टर्स का दावा, कोरोना वायरस पड़ रहा है कमजोर!

राज्यपाल की अनूठी पहल
-राज्यपाल की 200 विधायकों से फोन पर बात
-25 सांसदों से बात की
-निर्वाचन क्षेत्र में कोरोना की स्थिति की जानकारी ली
-किस तरह से महामारी से मुकाबला कर रहे हो ये पूछा राज्यपाल ने
-राज्यपाल ने समस्याओं के बारे में भी जाना 
-मंत्रियों से उनके प्रभार क्षेत्र के बारे में जानकारी ली 
-सरकारी स्तर पर किये जा रहे प्रयासों को जाना
-लोगों की समस्याओं और निदान के बारे में पूछा
-कलराज मिश्र को प्रशासनिक दक्षता हासिल है वे केन्द्र में मंत्री और यूपी सरकार में  विभिन्न महकमें संभाल चुके.
-कोरोना महामारी से रोकथाम को लेकर उन्होंने महत्वपूर्ण सुझाव राज्य सरकार को दिये. 
-यूपी भाजपा के राजस्थान प्रभारी रहे लिहाजा भौगोलिक स्थिति पहले से जानते है

निजी अस्पतालों के लिए एडवाइजरी जारी, कोरोना मरीजों का फ्री इलाज, अन्यथा होगी सख्त कार्रवाई 

राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने मिलकर किया है कोरोना का मुकाबला:
राज्यपाल की अनूठी पहल में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चार चांद लगा दिए. राज्यपाल ने जमीनी स्तर पर बात कर हालात जाने तो मुख्यमंत्री उनसे विचार विमर्श कर सुझावों पर गंभीरता बरती. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उनके सुझावों पर अमल करने के निर्देश ब्यूरोक्रेसी को दिए. राजभवन से आये कोरोना सम्बंधी हर सुझाव पर तत्परता से काम किया. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के उठाये गये स्टेप्स को देशभर ने सराहा तो राजस्थान का राजभवन भी पीछे नहीं रहे. अक्सर कई राज्यों में देखा जाता है कि राजभवन ओर मुख्यमंत्री आवास के बीच दूरियां और अदावत पनपी रहती है लेकिन राजस्थान अपवाद है.  यहां राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने मिलकर किया है कोरोना का मुकाबला. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी के साथ योगेश शर्मा की रिपोर्ट 

SMS अस्पताल कोरोना फ्री ! सोशल डिस्टेंसिंग के साथ नॉन COVID मरीजों का इलाज शुरू

SMS अस्पताल कोरोना फ्री ! सोशल डिस्टेंसिंग के साथ नॉन COVID मरीजों का इलाज शुरू

जयपुर: राजस्थान का सबसे बड़ा सवाई मानसिंह अस्पताल करीब ढाई महीने बाद फिर से नॉन कोविड मरीजों के लिए सोमवार से शुरू किया गया.हालांकि, रोजमर्रा की तुलना में पहले दिन महज 20 फीसदी के आसपास ही मरीज अस्पताल पहुंचे.इस दौरान मेडिकल ओपीडी हो या फिर कार्डियोलॉजी, न्यूरोलॉजी ओपीडी सभी में सोशल डिस्टेसिंग बनाए रखने के लिए चिकित्सकों के कमरे के बाहर तीन-तीन फुट और एक-एक मीटर की लाइनें खींची गई.

रजिस्ट्रेशन काउंटर पर भी विशेष व्यवस्था:
इसके साथ ही रजिस्ट्रेशन काउंटर पर भी विशेष व्यवस्था की गई.अस्पताल में कई मरीज ऐसे आए जिन्होंने मास्क नहीं लगा रखे थे, लेकिन अस्पताल प्रशासन ने उनके लिए आउटडोर के बाहर फ्री में मास्क की व्यवस्था करवाई. खुद अस्पताल अधीक्षक डॉ राजेश शर्मा ने ओपीडी और आईपीडी की व्यवस्थाओं का जायजा लिया. इस दौरान फर्स्ट इंडिया संवाददाता विकास शर्मा ने अस्पताल अधीक्षक डॉ राजेश शर्मा से की खास बातचीत. 

कोरोना संकट के बीच राहतभरी खबर, इटली के टॉप डॉक्टर्स का दावा, कोरोना वायरस पड़ रहा है कमजोर!

कोरोना फ्री एसएमएस अस्पताल का पहला दिन
-अस्पताल में आमदिनों की तुलना में आए महज 20 फीसदी मरीज
-पहले दिन दोपहर 2 बजे तक 2120 मरीज ओपीडी में रजिस्टर्ड
-अस्पताल अधीक्षक डॉ राजेश शर्मा ने दी जानकारी
-जनरल ओपीडी में आए 1819 मरीज, 301 ILI के केस
-जनरल ओपीडी के 119 मरीज, 18 ILI केस किए गए भर्ती
-पहले दिन कुल 137 मरीज किए गए है अस्पताल में भर्ती

निजी अस्पतालों के लिए एडवाइजरी जारी, कोरोना मरीजों का फ्री इलाज, अन्यथा होगी सख्त कार्रवाई 

निजी अस्पतालों के लिए एडवाइजरी जारी, कोरोना मरीजों का फ्री इलाज, अन्यथा होगी सख्त कार्रवाई 

जयपुर: प्रदेश में सरकारी रियायत लेकर संचालित हो रहे निजी अस्पतालों में कोरोना का फ्री इलाज होगा.सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के बाद चिकित्सा विभाग ने इसके लिए एडवाइजरी निकाल दी है. सूबे के चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा है कि सरकार इस पूरे मामले को लेकर गंभीर है.चिकित्सा मंत्री ने कहा है कि कोरोना महामारी के दौरान हमें कई शिकायतें मिल रही थी. कई निजी अस्पताल कोरोना के मरीजों को उपचार के बजाय तत्काल रैफर कर रहे थे.कोरोना जैसी महामारी में इस तरह की सोच सरासर गलत है.ऐसे में उन सभी निजी अस्पतालों के लिए एडवाजरी जारी की गई है. जिन्होंने सरकार से रियायत लेकर निजी अस्पताल शुरू किए है. चिकित्सा मंत्री ने साफ कहा है कि यदि सरकार के निर्देशों की पालना में कोई कोताही बरती जाएगी तो फिर निजी अस्पताल कार्रवाई के लिए तैयार रहे.इस पूरे मामले को लेकर चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा से खास बातचीत की हमारे संवाददाता विकास शर्मा ने

-कोरोना मरीजों को ठीक करने में राजस्थान अव्वल
-मंत्री डॉ रघु शर्मा ने की प्रदेशभर के प्रकरणों की समीक्षा
-चिकित्सा मंत्री ने फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत में कहा,
-प्रवासी राजस्थानी और मजदूरों के प्रकरणों को हटा दें
-तो प्रदेश में फिलहाल मात्र 199 कोरोना के एक्टिव केस
-प्रवासियों के प्रकरणों को जोड़कर देखे तो 2742 केस है
-कुल 8980 प्रकरणों में से 6040 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके है
-राजस्थान में रिकवरी प्रतिशत अब तक का सर्वाधिक 67 % है
-जैसे ही प्रवासियों का क्वारेंटाइन पीरियड पूरा होगा
-तो राजस्थान में एक्टिव केस का आंकड़ा जरूरी डाउन होगा

-जयपुरिया-SMS की तर्ज पर अब जिला अस्पताल होंगे कोरोना फ्री
-जिला अस्पतालों में भर्ती कोरोना मरीजों को लेकर लिया जा रहा फीडबैक
-चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा खुद ले रहे हर जिले से फीडबैक
-चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा का बयान, कुछ जिलों में जिला अस्पताल में इक्का-दुक्का मरीज
-जबकि शेष बचे जिलों में भी शुरू हो चुके हैं कोरोना केयर सेंटर
-ऐसे में जिला अस्पतालों को आम मरीजों के लिए संचालित करने पर चल रहा विचार
-ताकि नॉन कोविड मरीजों को नही हो दिक्कते
-इसके लिए बकायदा अधिकारियों को एक्शन प्लान के दिए है निर्देश

कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार के बड़े ऐलान, MSME को 20 हजार करोड़ लोन के प्रस्ताव को मंजूरी

-एसएमएस के चिकित्सक करेंगे आरयूएचएस में ट्रीटमेंट
-एसएमएस को कोरोना फ्री करने पर बोले चिकित्सा मंत्री
-मंत्री डॉ रघु शर्मा ने की फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत
-कहां, कोविड-नॉन कोविड दोनों श्रेणी के मरीजों के प्रति सरकार गंभीर
-RUHS में कोरोना मरीजों के ट्रीटमेंट के लिए लगाए गए है चिकित्सक
-एसएमएस मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों की लगाई गई है ड्यूटी

-SMS के चरक भवन से जल्द शिफ्ट होगी कोरोना ओपीडी
-एसएमएस को कोरोना फ्री करने पर बोले चिकित्सा मंत्री
-मंत्री डॉ रघु शर्मा ने की फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत
-चिकित्सा मंत्री ने कहा, चरक भवन में देखे जा रहे ILI केस
-लेकिन जल्द ही फार्मेंसी काउंसिल के भवन में शिफ्ट होगा ओपीडी
-ताकि, नेत्र रोग, ईएनटी और स्क्रीन के मरीजों को मिले राहत

-कोरोना जांच में राजस्थान ने बताया कीर्तिमान
-कम जांच होने के आरोप पर बोले चिकित्सा मंत्री
-मंत्री रघु शर्मा का बयान, पूरे आंकड़े पारदर्शी है
-सरकार रोजाना जांच के आंकड़े जारी कर रही है
-प्रदेश में फिलहाल 17650 सैम्पलों की जांच हो रही है
-एक-दो राज्य ही राजस्थना के बराबर जांच करने वाले होंगे
-चिकित्सा मंत्री ने किया स्पष्ट, हर संदिब्ध की जांच हो रही है
-बगैर किसी लक्षण के जांच करने का कोई फायदा नहीं है

-कोरोना को लेकर राजनीति करना ठीक नहीं
-केन्द्रीय टीम के जयपुर आने के सवाल पर बोले चिकित्सा मंत्री
-कहां, केन्द्रीय चिकित्सा मंत्री ने मुझे फोन करके कहा था कि...
-कम्यूनिटी स्प्रेड का पता लगाने के लिए टीम भेजना चाहते है
-राजस्थान में बेहतर काम हुआ है, तो हमें क्यों आपत्ति होगी
-मेरे से बात करने के बाद ही टीम जयपुर भेजी गई है
-केन्द्रीय टीम की जांच रिपोर्ट जब आएगी
-तो सब दूध का दूध और पानी का पानी सामने आ जाएगा
-राजनीति करने वालों को भी खुद ब खुद जवाब मिल जाएगा

कोरोना संकट के बीच राहतभरी खबर, इटली के टॉप डॉक्टर्स का दावा, कोरोना वायरस पड़ रहा है कमजोर!

Open Covid-19