Live News »

पिछले 14 दिन से पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि का दौर जारी, जानिए आज के दाम

पिछले 14 दिन से पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि का दौर जारी, जानिए आज के दाम

जयपुर: अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में उछाल और मंदी की मार झेल रहे पेट्रो सेक्टर में भी अब उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहे हैं. पिछले 14 दिन से पेट्रोल और डीजल के दामों में आंशिक वृद्धि का दौर जारी है. इन 14 दिनों में पेट्रोल जहां 2 रुपए 15 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ है वहीं डीजल के दाम में भी एक रूपए 93 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि देखने को मिली है. 

पेट्रोल और डीजल के दाम 30 और 20 पैसे की वृद्धि: 
आज भी पेट्रोल और डीजल के दाम 30 और 20 पैसे की वृद्धि हुई. आज पेट्रोल जहां 77 रुपए 81 पैसे प्रति लीटर मिल रहा है वहीं डीजल के दाम भी 72 रुपए 5 पैसे प्रति लीटर पर पहुंच गए हैं. दरअसल अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम लगातार बढ़े हैं ऐसे में मंदी की मार से बचने के लिए तेल कंपनियां अपना मार्जिन बना कर रखना चाहती हैं. इसके चलते पेट्रोल और डीजल के दाम में रोजाना छोटी-छोटी वृद्धि की जा रही है. आशंका इस बात की है कि अगले एक पखवाड़े तक पेट्रोल, डीज़ल के दाम में भी वृद्धि जारी रह सकती है. 

और पढ़ें

Most Related Stories

घट गई एयर कनेक्टिविटी! अब मात्र 13 शहरों के लिए चलेंगी जयपुर से फ्लाइट, अहमदाबाद और चेन्नई के लिए कोई फ्लाइट नहीं

जयपुर: सोमवार से देश में हवाई अड्डों पर घरेलू फ्लाइट्स का संचालन शुरू हो जाएगा. जयपुर हवाई अड्डे से कुल 21 फ्लाइट संचालित होंगी. हालांकि यह जरूर होगा कि कई प्रमुख शहरों के लिए जयपुर से अब सीधी फ्लाइट नहीं मिलेंगी. फ्लाइट्स की संख्या में कमी के चलते यात्रियों को परेशानी झेलनी होगी. कौन-कौन से शहरों के लिए नहीं मिलेगी सीधी फ्लाइट, चलिए जानते है. देश में हवाई सेवाओं का संचालन फिर से शुरू होना यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है. अब फिर से एक से दूसरे शहर तक पहुंचना सुगम हो जाएगा. हालांकि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार ने यात्रियों से जरूरी होने पर ही यात्रा करने की अपील की है.

जयपुर से चार एयरलाइंस की कुल 21 फ्लाइट होंगी संचालित:
सोमवार से जयपुर एयरपोर्ट से घरेलू फ्लाइट उड़ान भरने लगेंगी. जयपुर से चार एयरलाइंस की कुल 21 फ्लाइट संचालित होंगी. गौरतलब है कि लॉक डाउन से पहले जयपुर एयरपोर्ट से 63 फ्लाइट संचालित हो रही थी, जिनमें 7 इंटरनेशनल और 56 घरेलू फ्लाइट थी. जबकि अब केवल 21 फ्लाइट ही शुरू होंगी. नए शेड्यूल में समस्या यह है कि कई शहरों के लिए अब सीधी फ्लाइट नहीं मिल सकेंगी. जयपुर से अहमदाबाद, चेन्नई, जैसलमेर, देहरादून, भोपाल, लखनऊ आदि प्रमुख शहरों के लिए कोई फ्लाइट नहीं मिलेगी. इन शहरों के लिए अब यात्रियों को दिल्ली में फ्लाइट बदलने की जरूरत होगी.

भाई ने किया रिश्तों को शर्मसार, दोस्तों के साथ मिलकर नाबालिग बहन का रेप कर उतारा मौत के घाट 

एयरलाइन्स नहीं बना सकी यात्रियों की जरूरत के मुताबिक शेड्यूल
- जयपुर से अहमदाबाद के लिए रोजाना अच्छा हवाई यात्री भार रहता है
- लॉक डाउन से पहले जयपुर से अहमदाबाद के लिए रोज 4 फ्लाइट चल रही थी
- 1 इंडिगो, 1 गो एयर और 2 फ्लाइट स्पाइसजेट की हो रही थी संचालित
- लेकिन अब एक भी एयरलाइन ने अहमदाबाद के लिए नहीं दिया शेड्यूल
- भोपाल के लिए लॉक डाउन से पहले स्पाइसजेट और एयर इंडिया की 2 फ्लाइट चल रही थी
- लेकिन अब एक भी फ्लाइट नहीं चलेगी भोपाल के लिए
- चेन्नई के लिए जयपुर से कोई भी सीधी फ्लाइट नहीं मिलेगी
- इन शहरों को जाने के लिए पहले दिल्ली की फ्लाइट लेनी होगी
- इसके बाद दिल्ली से कनेक्टिंग फ्लाइट से यात्री दूसरे शहर तक पहुंच सकेंगे

कितनी कम हुई फ्लाइट्स
- मुंबई के लिए पहले रोज 9 फ्लाइट चल रही थी, अब मात्र 2 फ्लाइट मिलेंगी
- बेंगलुरु के लिए पहले रोज 6 फ्लाइट थी, अब मात्र 3 फ्लाइट मिलेंगी
- हैदराबाद के लिए पहले 6 फ्लाइट थी, अब मात्र 2 फ्लाइट मिलेंगी
- कोलकाता के लिए पहले 4 फ्लाइट थी, अब मात्र 1 फ्लाइट मिलेगी
- पुणे के लिए पहले तीन फ्लाइट थी, अब दो फ्लाइट मिलेंगी
- दिल्ली के लिए पहले 7 फ्लाइट थी, अब 4 फ्लाइट मिलेंगी

समर शेड्यूल में कई नए शहरों के लिए होनी थी फ्लाइट शुरू:
नए शेड्यूल में उन शहरों के लिए भी फ्लाइट संचालित नहीं होंगी, जिनके लिए एयरलाइंस ने समर शेड्यूल में प्रस्ताव दिए थे. दरअसल 31 मार्च से शुरू होने वाले समर शेड्यूल में कई नए शहरों के लिए फ्लाइट शुरू होनी थी. चंडीगढ़ और इंदौर के लिए इंडिगो को फ्लाइट शुरू करनी थी. इंडिगो एयरलाइन श्रीनगर और गोवा के लिए भी फ्लाइट शुरू करने के लिए शेड्यूल दे चुकी थी. लेकिन इन शहरों के लिए फिलहाल फ्लाइट शुरू नहीं होगी. कुल मिलाकर कोरोना महामारी ने एविएशन सेक्टर को करीब 1 साल पीछे धकेल दिया है. लॉक डाउन से पहले की गति पकड़ने के लिए एयरलाइंस को करीब 1 साल तक का समय लग सकता है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

दाती महाराज ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की शुरू 

3 माह और जारी रहेगी ईएमआई न भरने की मोहलत, आरबीआई ने कोरोना संकट के बीच लिया फैसला

3 माह और जारी रहेगी ईएमआई न भरने की मोहलत, आरबीआई ने कोरोना संकट के बीच लिया फैसला

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच आरबीआई ने लोन की किस्‍त देने पर 3 माह की अतिरिक्‍त छूट दी गई है. मतलब कि अगर आप अगले 3 माह तक अपने लोन की ईएमआई नहीं देते हैं तो बैंक दबाव नहीं डालेगा. आरबीआई ने लॉकडाउन के शुरुआती दिनों में प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर बैंकों से 3 माह के लिए लोन और ईएमआई पर छूट देने को कहा था.

23 मई से शुरू होगा रोडवेज बसों का संचालन, राजस्थान के 55 रूटों पर चलाई जाएगी बस

कुल 6 माह की मिली छूट:
इसके बाद अधिकतर बैंकों ने इसे 3 माह के लिए लागू कर दिया था. अब आरबीआई के नए 3 माह के लिए मोहलत के ऐलान के बाद ग्राहकों को कुल 6 माह की छूट मिल जाएगी. मतलब यह कि आप कुल 6 माह तक लोन की ईएमआई नहीं देना चाहते हैं तो बैंकों की ओर से कोई दबाव नहीं पड़ेगा. वहीं, आपका क्रेडिट स्‍कोर भी दुरुस्‍त रहेगा. यानी बैंक की नजर में आप डिफॉल्‍टर नहीं होंगे. हालांकि, इसके लिए आपको अतिरिक्‍त ब्‍याज देनी पड़ेगी.

रेपो रेट में 0.40 प्रतिशत की कटौती:
आरबीआई गवर्नर ने बताया कि पिछले 3 दिन में एमपीसी ने घरेलू और ग्लोबल माहौल की समीक्षा की. इसके बाद रेपो रेट में 0.40 प्रतिशत की कटौती का फैसला लिया गया है. लॉकडाउन में यह दूसरी बार है जब आरबीआई ने रेपो रेट पर कैंची चलाई है. इससे पहले 27 मार्च को आरबीआई गवर्नर ने 0.75 फीसदी कटौती का ऐलान किया था. इसके बार बैंकों ने लोन पर ब्‍याज दर कम कर दिया था. जाहिर सी बात है कि इससे आपकी ईएमआई भी पहले के मुकाबले कम हो गई है.

25 मई से शुरू होंगी घरेलू फ्लाइट्स, जयपुर से 1 घंटे में अधिकतम 2 फ्लाइट ही होंगी संचालित

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट कटौती का किया ऐलान, सस्‍ते होंगे लोन

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट कटौती का किया ऐलान, सस्‍ते होंगे लोन

नई दिल्लीः रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर शक्तिदांस दास ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें उन्होंने रेपो रेट में 0.4 फीसदी की कटौती करने का ऐलान किया. ऐसे में अब रेपो रेट घटकर 4 फीसदी पर आ गया है जो कि पहले 4.4 फीसदी था. हालांकि रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है और इसे 3.35 फीसदी पर बरकरार रखा गया है. मॉनिटरी पॉलिसी कमेटी के 6 में से 5 सदस्यों ने रेपो रेट घटाने के पक्ष में वोट दिया. कमेटी की बैठक 3 जून से होनी थी, लेकिन पहले ही कर ली गई. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 54 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, मरीजों को ग्राफ पहुंचा 6281 

बैंकों को आरबीआई से कम ब्याज पर कर्ज मिल सकेंगे:
आरबीआई गवर्नर ने कहा कि रेपो रेट घटाने से बैंकों को आरबीआई से कम ब्याज पर कर्ज मिल सकेंगे और इसका फायदा बैंक अपने ग्राहकों को देंगे जिसके बाद ग्राहकों की ईएमआई कम हो सकती है. कोरोना संकटकाल से अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा है लेकिन संयुक्त प्रयासों से इस स्थिति से देश उबर सकता है. हालांकि वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान देश की जीडीपी ग्रोथ निगेटिव रहेगी. आने वाले समय में देश में महंगाई को कम बनाए रखना एक चुनौती होगी.

विदेश से वतन लौटने वालों की आज आएगी पहली फ्लाइट, एयरपोर्ट के पास 10 होटल में क्वॉरंटीन के लिए 810 कमरे बुक 

पिछले दो महीनों में तीसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस:
आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कोरोनावायरस संबंधी उपायों से निपटने के लिए पिछले दो महीनों में यह तीसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. आरबीआई गवर्नर ने पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस 27 मार्च और दूसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस 17 अप्रैल को की थी. इन दोनों प्रेस कॉन्फ्रेंस में गवर्नर ने अर्थव्यवस्था में तेजी लाने और बैंकिंग सिस्टम में लिक्विडिटी बढ़ाने के लिए कई उपायों की घोषणा की थी. 

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास की PC आज, कर सकते हैं बड़े ऐलान

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास की PC आज, कर सकते हैं बड़े ऐलान

नई दिल्ली: आज सुबह 10 बजे एक भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. इस दौरान वह बड़ा ऐलान कर सकते हैं. इससे पहले हालही में एसबीआई की एक शोध रिपोर्ट में कहा गया था कि देशव्यापी लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ाने के चलते आरबीआई कर्ज अदायगी पर जारी ऋण स्थगन को और तीन महीनों के लिए बढ़ा सकता है. ऐसे में इस घोषणा को लेकर ऐलान होने की भी संभावना जताई जा रही है.

23 मई से शुरू होगा रोडवेज बसों का संचालन, राजस्थान के 55 रूटों पर चलाई जाएगी बस

वहीं इसके साथ ही मोदी सरकार द्वारा दिए गए करीब 21 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज को लेकर भी आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास प्रेस कॉन्फ्रेंस में विस्तार से चर्चा कर उसके मिलने वाले फायदों के बारे में अवगत करवा सकते हैं. 

बिजली बिल जमा कराओ, 5 फीसदी की छूट पाओ, कोरोना काल में जनता को दी गई छूट में 10 दिन शेष

पीएम ने किया था पैकेज का ऐलान:
गौरतलब है कि पीएम मोदी ने 12 मई को कोरोना से प्रभावित अर्थव्यवस्था को राहत देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया था. इसके बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लगातार पांच दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई ऐलान किए थे. 

बुक स्टोर पर अवैध वसूली! निजी स्कूल की किताबों के नाम पर अवैध वसूली, स्टोर संचालक की मनमानी से अभिभावक परेशान

जयपुर: तस्वीरों में आप देख रहे है ये है शर्मा बुक स्टोर्स, जो कि लॉक डाउन के इस दौर में परिजनों से किताबों के नाम पर अवैध बसूली कर रहा है. दरअसल ये बुक स्टोर राजधानी के एक नामी स्कूल की किताबें बेचता है औऱ उसी की आड़ में परिजनों से किताबों के साथ अन्य चार्ज भी लगाकर वसूली कर रहा है, अगर कोई परिजन उस चार्ज को देने पर ऐतराज करता है तो फिर उसको किताबें भी नहीं दी जाती है. इसको लेकर परिजन बेहद परेशान औऱ अवसाद में है.

-शर्मा बुक स्टोर संचालक की खुलेआम अवैध वसूली
-किताबों के साथ लेब टेस्ट की फीस भी ले रहा बुक स्टोर संचालक
-जबकि नियमो के हिसाब से ये है पूरी तरह गलत
-आखिर बुक स्टोर संचालक कैसे ले सकता है लेब टेस्ट की फीस
-फीस लेने का अधिकार सिर्फ स्कूल प्रबंधन को
-ऐसे में कही स्कूल और बुक संचालक की है कोई मिलीभगत
-बुक स्टोर संचालक की मनमानी से परिजन हो रहे परेशान

1 जून से 200 स्पेशल ट्रेनें चलेंगी, उत्तर-पश्चिम रेलवे प्रशासन चलाएगा 9 ट्रेनें, रेलवे प्रशासन ने जारी की ट्रेनों की लिस्ट

परिजनों को थमाये महंगे-महंगे बिल: 
जरा सोचिए आप किसी बुक स्टोर पर किताबें खरीदने जाए और बुक स्टोर संचालक उन किताबों के अलावा आपको अन्य किताबे भी थमा दे जो कि आपके काम की नहीं और उन सभी के पैसे आपसे वसूले तो कैसा रहेगा. कुछ ऐसा ही हो रहा है राजधानी के वैशाली नगर स्थित चित्रकूट के शर्मा बुक स्टोर पर जो कि किताबों के साथ साथ लैब प्रक्टैकिल और टैस्ट सिरीज के नाम से परिजनों को मंहगे मंहगे बिल थमाये जा रहा है.दरअसल ये बुक स्टोर राजधानी के एक नामी स्कूल की किताबें बेचता है और उसी की आड़ मे ये अवेध वसूली कर रहा है. परिजन जब इन अन्य चार्जों को देने से मना करते है तो उन्हे किताबे भी नहीं दी जाती है. मजबूरी में आकर परिजनों को मनमाने दाम शर्मा बुक स्टोर संचालक को देने पड़ रहे है.

-शर्मा बुक स्टोर संचालक की खुलेआम अवैध वसूली
-एक निजी स्कूल की किताबो के नाम पर कर रहा वसूली
-बुक स्टोर से जुड़ा हुआ है राजधानी के एक बड़े स्कूल का नाम
-वसूली के चलते परिजनों में गहरा रोष व्याप्त
-किताबो के अलावा अन्य चार्ज भी वसूल रहा बुक संचालक
-जबकि बुक स्टोर से जुड़े स्कूल प्रबंधन का कहना
-हमारी ओर से नही है इस तरह के कोई दिशा निर्देश

बिजली बिल जमा कराओ, 5 फीसदी की छूट पाओ, कोरोना काल में जनता को दी गई छूट में 10 दिन शेष

इस तरह की फीस लेने के कोई दिशा निर्देश नहीं दिए:
लैव टेस्ट और टेस्ट सीरिज के नाम से बुक स्टोर संचालक परिजनों से अवैध वसूली कर रहा  है जो कि नियमों के विपरीत है.सिर्फ स्कूल संचालक ही इस प्रकार की फीस लेने के हकदार है इसके साथ ही परिजनों का कहना है कि उन्होने स्कूल प्रशासन को पहले  ही फीस जमा करा दी है फिर दोबारा फीस क्यो दे और फीस बुक स्टोर संचालक को क्यों.इसको लेकर कई प्रकार के सवाल खड़े होते है.बुक स्टोर्स पर एक परिजन की इसी बात को लेकर तकरार हो गई.आनन फानन में परिजन ने स्कूल संचालक को फोन मिलाया तो जबाव आया उन्होने बुक स्टोर संचालक को इस तरह की फीस लेने के कोई दिशा निर्देश नहीं दिए है. बुक स्टोर संचालक की इस तरह से की जा रही अवैध वसूली के पीछे कोई तो कारण है.आखिर एक नामचीन स्कूल के नाम पर बुक स्टोर संचालक भला कैसै लैब टेस्ट की बसूली कर सकता है.क्या इसके पीछ कोई मिलीभगत तो नहीं.

...फर्स्ट इंडिया के लिए भारत दीक्षित की रिपोर्ट

1 जून से 200 स्पेशल ट्रेनें चलेंगी, उत्तर-पश्चिम रेलवे प्रशासन चलाएगा 9 ट्रेनें, रेलवे प्रशासन ने जारी की ट्रेनों की लिस्ट

1 जून से 200 स्पेशल ट्रेनें चलेंगी, उत्तर-पश्चिम रेलवे प्रशासन चलाएगा 9 ट्रेनें,  रेलवे प्रशासन ने जारी की ट्रेनों की लिस्ट

जयपुर: 1 जून से देश में श्रमिक स्पेशल और 30 राजधानी स्पेशल ट्रेनों के अलावा 200 अन्य स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी. इन ट्रेनों में टिकट बुकिंग गुरुवार सुबह से शुरू हो गई है. इन ट्रेनों में एसी और नॉन एसी दाेनों तरह के कोच रहेंगे. रेलवे प्रशासन ने इन ट्रेनों में जनरल क्लास की अनुमति नहीं दी है.

टिकट कन्फर्म नहीं होने पर यात्रा नहीं कर सकेंगे:
अग्रिम आरक्षण की अवधि 30 दिन की रखी गई है. उत्तर-पश्चिम रेलवे प्रशासन इनमें से 9 ट्रेनें प्रदेश की सीमा में संचालित करेगा. इन ट्रेनों में हालांकि वेटिंग टिकट जारी होंगे, लेकिन टिकट कन्फर्म होने की स्थिति में ही यात्रा कर सकेंगे. टिकट कन्फर्म नहीं होने पर यात्रा नहीं कर सकेंगे, इसके लिए यात्रियों को चार्ट बनने का इंतजार करना होगा. इन ट्रेनों के ठहराव और आवागमन समय पूर्वनिर्धारित रखे गए हैं.

सामूहिक दुष्कर्म का आरोपी निकला कोरोना पॉजिटिव, अजमेर के दरगाह थाना क्षेत्र का मामला

ये 9 ट्रेनें 1 जून से चलेंगी
-02463/64, जोधपुर-दिल्ली सराय-जोधपुर संपर्क क्रांति त्रि-साप्ताहिक
-02479/80, बान्द्रा टर्मिनस-जोधपुर-बांद्रा सूर्यनगरी एक्सप्रेस प्रतिदिन
-02477/78, जोधपुर-जयपुर-जोधपुर एक्सप्रेस प्रतिदिन
-02963/64, हजरत निजामुद्दीन-उदयपुर मेवाड़ एक्सप्रेस प्रतिदिन
-02955/56, मुम्बई सैन्ट्रल-जयपुर-मुम्बई सैन्ट्रल एक्सप्रेस प्रतिदिन
-02307/08, हावड़ा-जोधपुर/बीकानेर-हावड़ा एक्सप्रेस प्रतिदिन
-02555/56, हिसार-गोरखपुर-हिसार एक्सप्रेस प्रतिदिन
-02916/15, दिल्ली-अहमदाबाद आश्रम एक्सप्रेस प्रतिदिन
-02065/66, अजमेर-दिल्ली सराय जनशताब्दी सप्ताह में 5 दिन

पीसीसी में मना राजीव गांधी का बलिदान दिवस, कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने अर्पित किए श्रद्धासुमन

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी का बयान, 20 हजार से ज्यादा लोगों को लाया गया स्वदेश

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी का बयान, 20 हजार से ज्यादा लोगों को लाया गया स्वदेश

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि 25 मई से घरेलू विमान सेवा शुरू की जाएगी.  इस दौरान कई तरह के नियम और शर्तें लागू होंगी, जिनका पालन करना होगा. धीरे-धीरे उड़ानों की संख्या बढ़ाई जाएगी. दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई से उड़ानें शुरू होगी. साथ ही बेंगलुरु से भी विमान सेवा शुरू की जाएगी. 

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान के 33 में से 32 जिलों में कोरोना वायरस की दस्तक, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 6 हजार 146

विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने का काम जारी:
हरदीप पुरी ने कहा कि 5 मई को वंदे भारत की शुरूआत की गई थी, लेकिन कुछ देश लोगों को वापस नहीं आने दे रहे हैं. 20 हजार से ज्यादा लोगों को स्वदेश लाया गया है. विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने का काम जारी है. निजी एयरलाइंस ने भी अभियान में दिलचस्पी दिखाई है. जो विदेशों में फंसे है उन्हें लाना ही हमारा मकसद है. एयर इंडिया के साथ निजी विमान भी विदेशों से भारतीय को स्वदेश ला रहे है. यात्रियों को गाइडलाइंस का पालन करना होगा.

मेट्रो टू मेट्रो शहरों में कुछ नियम होंगे: 
घरेलू उड़ान को लेकर मंत्री ने कहा कि मेट्रो टू मेट्रो शहरों में कुछ नियम होंगे, मेट्रो टू नॉन मेट्रो शहरे के लिए अलग नियम होंगे. मेट्रो शहरों में दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई जैसे शहर शामिल होंगे. केंद्रीय मंत्री ने बताया कि शुरुआती तौर पर एयरपोर्ट का एक तिहाई हिस्सा ही शुरू होगा, किसी भी फ्लाइट में खाना नहीं दिया जाएगा. सिर्फ 33 फीसदी विमानों को उड़ान की इजाजत दी गई है.

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में एक पुलिसकर्मी शहीद, 4 घायल

जोधपुर: महज सवा दो करोड़ रुपए में खरीदी नीरव मोदी की साढ़े आठ करोड़ की कार, पूर्व महाराजा गजसिंह के बाद...

जोधपुर: महज सवा दो करोड़ रुपए में खरीदी नीरव मोदी की साढ़े आठ करोड़ की कार, पूर्व महाराजा गजसिंह के बाद...

जोधपुर: आप माने या नहीं लेकिन आपको एक ऐसी हकीकत से रूबरू कराते हैं कि, भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की साढ़े आठ करोड़ कीमत की गाड़ी को जोधपुर के एक हैंड कार्ट निर्यातक ने खरीद लिया है वह भी महज सवा दो करोड़ रुपए में. इतनी कीमती गाड़ी पूर्व महाराजा गज सिंह के बाद अब हैंडीक्राफ्ट निर्यातक मनोज शर्मा के पास हो गई है जिन्होंने नीलामी में इस कीमती कार को खरीदा है.

मनरेगा में राजस्थान ने श्रमिक नियोजन का गत दस वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ा: पायलट 

मनोज के पास सभी कीमती गाड़ियों का कलेक्शन: 
राजस्थान में जोधपुर के बाद उदयपुर राजघराने के पूर्व महाराजा अरविंद सिंह मेवाड़ के पास भी इस तरह की गाड़ी है. महंगी से महंगी गाड़ियों और मोटरसाइकिल के शौकीन मनोज शर्मा के गैराज में देश विदेश की लगभग सभी कीमती गाड़ियों का कलेक्शन है उसमें अब यह रोल्स रॉयस घोस्ट गाड़ी भी शामिल हो गई है.

 प्रदेश की अदालतों में अब ई कोर्ट फीस की सुविधा, सीधे राज्य सरकार के खाते में जाएगा पैसा 

प्रवर्तन निदेशालय ने नीरव मोदी की 13 कारों को हाल ही में जब्त किया था:
गौरतलब है कि भारत के भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को लंदन की कोर्ट से राहत नहीं मिली है और उसे जेल में ही रहना होगा. वहीं भारत में प्रवर्तन निदेशालय ने नीरव मोदी की 13 कारों को हाल ही में जब्त किया था, जिसकी ऑनलाइन नीलामी की गई जिसमें से 12 कारों को खरीदार मिलें. इस नीलामी में प्रवर्तन निदेशालय को 3.29 करोड़ रुपये की वसूली करने में सफलता मिली. नीरव मोदी कारों में रोल्स रॉयस घोस्ट, मर्सिडिज बेंज जीएल क्लॉस और पोर्शे पैनेमेरा जैसी लग्जरी कारें शामिल थीं. इस नीलामी में शामिल साढ़े आठ करोड़ कीमती रोल्स रॉयस घोस्ट कार को जिस हैंडीक्राफ्ट निर्यातक मनोज शर्मा ने खरीदा है. 

Open Covid-19