नई दिल्ली पेट्रोल, डीजल की कीमतों में फिर बढ़ोतरी, कई शहरों में पेट्रोल 100 के पार, राजस्थान में 102 रुपए पर पहुंचे भाव

पेट्रोल, डीजल की कीमतों में फिर बढ़ोतरी, कई शहरों में पेट्रोल 100 के पार, राजस्थान में 102 रुपए पर पहुंचे भाव

पेट्रोल, डीजल की कीमतों में फिर बढ़ोतरी, कई शहरों में पेट्रोल 100 के पार, राजस्थान में 102 रुपए पर पहुंचे भाव

नई दिल्लीः पेट्रोल और डीजल की कीमतों में मंगलवार को एक बार फिर बढ़ोतरी हुई, जिसके चलते महाराष्ट्र के नांदेड़ से लेकर मध्य प्रदेश के रीवा और राजस्थान के जैसलमेर तक कई स्थानों पर पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर के स्तर को पार कर गया. जबकि राजस्थान में पेट्रोल 102.70 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गया है.

पेट्रोल में 27 और डीजल में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरीः
सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों द्वारा जारी मूल्य अधिसूचना के अनुसार पेट्रोल की कीमत में 27 पैसे लीटर और डीजल में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई. इस बढ़ोतरी के साथ देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें उच्चतम स्तर पर पहंच गई हैं. दिल्ली में अब पेट्रोल 91.80 रुपए प्रति लीटर और डीजल 82.36 रुपए में मिल रहा है.

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में छठी बढ़ोतरीः
यह चार मई के बाद से कीमतों में छठी बढ़ोतरी है. इससे पहले सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों ने पश्चिम बंगाल सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के दौरान 18 दिनों तक कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया. मूल्य वृद्धि के कारण राजस्थान, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के कई शहरों में पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर के स्तर को पार कर गया.

राजस्थान के गंगानगर जिले में पेट्रोल 102.70 और डीजल 95.06 रुपए लीटर सबसे महंगाः
वैट और मालभाड़े जैसे स्थानीय करों के आधार पर विभिन्न राज्यों में ईंधन की कीमत अलग-अलग होती हैं. देश में राजस्थान पेट्रोल पर सबसे अधिक मूल्य वर्धित कर (वैट) वसूलता है, इसके बाद मध्य प्रदेश का स्थान है. राजस्थान के गंगानगर जिले में पेट्रोल (102.70 रुपए प्रति लीटर) और डीजल (95.06 रुपए लीटर) सबसे महंगा है. इसके अलावा जैसलमेर और बीकानेर में भी पेट्रोल 100 रुपए के स्तर को पार कर गया. इसी तरह मध्य प्रदेश के शहडोल, रीवा, छिंदवाड़ा और बालाघाट में भी पेट्रोल का भाव 100 रुपए प्रति लीटर से पार हो गया. मुंबई में पेट्रोल 98.12 रुपए प्रति लीटर और डीजल 89.48 रुपए प्रति लीटर के भाव पर बिक रहा है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें