Live News »

पुलिस ने किया सेब से भरे ट्रक की लूटा का पर्दाफ़ाश

पुलिस ने किया सेब से भरे ट्रक की लूटा का पर्दाफ़ाश

बीकानेर: जिले की कोलायत थाना पुलिस ने आज हाईवे पर हुई सेब से भरे ट्रक की लूट का पर्दाफ़ाश कर दिया है. ट्रक चालक ने ट्रक की बकाया किश्तों को भरने के लिए ट्रक लूट की झूठी साजिश रची थी और सेबों को बेच दिया था. कोलायत थानाधिकारी विकास विश्नोई ने बताया कि गत 15 सितम्बर को ट्रक ड्राइवर शुंभम कुमार ने कंट्रोल रूम को सूचना दी कि बोलेरो गाड़ी में सवार बदमाश सेब से भरा ट्रक लूट कर ले गए. पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए नाकाबंदी करते हुए ट्रक को रामदेवरा के पास से बरामद कर लिया लेकिन ट्रक खाली था. ट्रक में भरी सेब की पेटियां नही थी. 

बकाये किश्ते चुकाने के लिए ट्रक लूट की झूठी साजिश रची: 
मामला संदिग्ध प्रतीत होने पर ट्रक चालक से गंभीरता से पूछताछ में पता चला कि ट्रक की किश्ते बकाया थी जिसके चलते चालक शुभम ने ट्रक लूट की झूठी साजिश रची. उसने अपने दोस्त को बुलाकर सेब की पेटियां दूसरे ट्रक में भरवा दी और खुद का ट्रक खलासी को देकर भेज दिया. इस घटना के दो घण्टे बाद पुलिस को ट्रक लूट की झूठी सूचना दी. फिलहाल पुलिस ने ट्रक ड्राइवर को गिरफ्तार कर आगे की जांच शुरू कर दी है. 
 

और पढ़ें

Most Related Stories

हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा, एनसीसी, स्काउट-गाइड ने निकाली जागरूकता रैली

हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा, एनसीसी, स्काउट-गाइड ने निकाली जागरूकता रैली

बीकानेर: हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा अभियान के तहत सोमवार को एनसीसी, स्काउट एवं गाइड द्वारा जागरुकता रैली निकाली गई. खाजूवाला विधायक गोविंद राम मेघवाल एवं जिला कलक्टर नमित मेहता ने गांधी पार्क से हरी झंडी दिखाकर इसे रवाना किया. इस दौरान मेघवाल ने कहा कि कोरोना के विरूद्ध जागरुकता की दिशा में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश भर में उल्लेखनीय कार्य हुए हैं.

मुख्यमंत्री द्वारा संकट के इस दौर में प्रत्येक वर्ग के लोगों से सतत संवाद और बैठकें करते हुए, राहत के महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं. ऐसे प्रयासों की बदौलत प्रदेश कोरोना पर जीत की ओर अग्रसर हुआ है. उन्होंने कहा कि हमें इस जज्बे को बनाए रखना है तथा यह सुनिश्चित करना है कि प्रत्येक व्यक्ति कोरोना एडवाइजरी की पालना करें. वहीं कलक्टर मेहता ने कहा कि हारेगा कोरोना, जीतेगा बीकाणा अभियान के माध्यम से अब तक लाखों लोगों तक कोरोना एडवाइजरी की पालना का संदेश पहुंचा दिया गया है.

{related}

अभियान के तहत गांव-गांव में कार्यक्रम हुए हैं. उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक जागरुक हो और  कोरोना योद्धा की भांति इन परिस्थितियों का पूरी सावधानी से मुकाबला करें. उन्होंने बताया कि अभियान से अब पचास से अधिक स्वयंसेवी संस्थाएं जुड़ चुकी हैं. जागरुकता की यह गतिविधियां सतत रूप से संचालित की जाती रहेंगी.

बीकानेर में अपराधों का ग्राफ निरंतर बढ़ रहा, पार्टियां अपनी फिक्र कर रही जनता की नहीं - देवी सिंह भाटी

बीकानेर में अपराधों का ग्राफ निरंतर बढ़ रहा, पार्टियां अपनी फिक्र कर रही जनता की नहीं - देवी सिंह भाटी

बीकानेर: जिले में बढ़ रहे अपराधों को लेकर पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीकानेर में अपराधों का ग्राफ निरंतर बढ़ रहा है साथ ही सट्टे की प्रवृत्ति भी बढ़ी है ऐसे में जरूरी है कि समाज खुद चौकस रहे. पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े हो रहे है. अपराधी पुलिस अधिकारियों को धमका रहे हैं.

{related}

पार्टियां अपनी फिक्र कर रही है जनता की नहीं: 
भाटी ने कहा मोहल्ला समितियों के माध्यम से सुरक्षा व्यवस्था पर फोकस करने का प्रयास करेंगे. भाजपा में वापस जाने या कांग्रेस जॉइन करने के सवाल पर भाटी ने कहा कि पार्टियां अपनी फिक्र कर रही है जनता की नहीं. संवाददाता लक्ष्मण राघव ने की पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी ने की खास बातचीत...
 

बीकानेर का PBM अस्पताल बना 'हंगामा हॉस्पिटल', महिला की मौत पर परिजनों और डॉक्टर के बीच हुई हाथापाई

बीकानेर: जिले का PBM अस्पताल 'हंगामा हॉस्पिटल' बन गया है. अस्पताल के J वार्ड में मरीज के परिजनों और डॉक्टर के बीच हाथापाई होने का मामला सामने आया है. मरीज के परिजनों ने डॉक्टर पर उपचार में लापरवाही का आरोप लगाया है. वहीं हाथापाई से नाराज रेजिडेंट्स ने कार्य बहिष्कार किया है. डॉक्टर्स ने नाराजगी जताते हुए कहा कि हम पिटने के लिए नहीं है. इधर, परिजन भी महिला की मौत से आक्रोशित है. उन्होंने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है. 

{related}

हंगामें की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची. बताया जा रहा है कि चिकित्सकों का आरोप है कि मरीज के परिजन ने ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को थपड़ मार दिया. जिसके बाद चिकित्सक इक्कठे होकर पीबीएम अधीक्षक के कार्यालय के सामने एकत्रित होकर घटना का विरोध कर रहे हैं. बता दें कि इससे पहले भी शुक्रवार को इस तरह का विवाद PBM अस्पताल में देखने को मिला था. जहां मरीज की मौत के बाद वहां के चिकित्सकों व मृतक के परिजनों में कहासुनी हुई हो गई थी. 


 

दो वर्षीय बीएड के लिए PTET का परिणाम जारी, उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने ऑनलाइन किया परिणाम घोषित

दो वर्षीय बीएड के लिए PTET का परिणाम जारी, उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने ऑनलाइन किया परिणाम घोषित

बीकानेर: सम्भाग के सबसे बड़े राजकीय डूंगर महाविद्यालय द्वारा आयोजित प्रदेश स्तरीय दो वर्षीय बीएड प्रवेश परीक्षा पीटीईटी का परिणाम आज उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने जयपुर स्थित अपने आवास से बटन दबाकर घोषित किया. डूंगर कॉलेज स्थित पीटीईटी कार्यालय में हुए एक संक्षिप्त कार्यक्रम में परीक्षा परिणाम की घोषणा की गयी.

पीटीईटी समन्वयक डॉ. जी पी सिंह,कॉलेज प्राचार्य डॉ शिशिर शर्मा भी इस दौरान मोजूद रहे. दो वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षा पीटीईटी में विज्ञान संकाय में बाड़मेर के ओमप्रकाश बेनीवाल ने 600 में से 521 अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान प्राप्त किया. कला वर्ग में बाड़मेर के गजेन्द्र सिंह भादू ने 509 अंक ओर वाणिज्य वर्ग में बूंदी के हेमन्त पालीवाल ने 494 अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान प्राप्त किया. मंत्री भाटी ने टॉपर्स अभ्यर्थियों को फोन करके बधाई शुभकामनाएं दी. 

{related}

इस अवसर पर मंत्री भाटी ने कहा कि लगातार दूसरी बार डूंगर महाविद्यालय ने पीटीईटी परीक्षा का सफल आयोजन किया एव समय पर परिणाम भी घोषित किया है.  उन्होनें इसके लिए पूरी पीटीईटी टीम एवं डूंगर महाविद्यालय का आभार प्रकट किया.   

कोरोना से रोजी रोटी पर संकट, राम से लेकर रावण का किरदार निभाने वाले सब परेशान

कोरोना से रोजी रोटी पर संकट, राम से लेकर रावण का किरदार निभाने वाले सब परेशान

बीकानेर: कोरोना ने हमारी रोजमर्रा की जिंदगी को तो बुरी तरह से प्रभावित किया ही है. साथ ही साथ आर्थिक हालातों को और भी विकट बना दिया है. खासतौर पर कामगारों के लिए कोरोना का संकट किसी आपदा से कम नहीं है. भक्त और भगवान के बीच भी कोरोना ने दीवार खड़ी खड़ी कर दी है तो राम से लेकर रावण का किरदार निभाने वाले लोककलाकारों को भी बेरोजगार कर दिया है. 

रामलीला नहीं होने के चलते रंगकर्मियों पर आर्थिक संकट:
कोरोना की वैक्सीन को लेकर दुनिया भर में रिसर्च चल रहा है. अभी भी कई देशों में कोरोना का टाइगर बरकरार है. भारत में भी संख्या लगातार बढ़ रही है, लेकिन सबके बीच कोरोना ने अर्थव्यवस्था को बुरी तरह से प्रभावित किया है. गरीब तक का सर्वाधिक प्रभावित हुआ है. हालांकि अब धीरे-धीरे गाड़ी पटरी पर लौट रही है, लेकिन बहुत से प्रतिबंधों के चलते थिएटर सिनेमा हॉल वेडिंग व्यापार से जुड़े छोटे कामगार ज्यादा प्रभावित हुए हैं. बीकानेर में बरसों से रामलीला कर रहे लोक कलाकार इस बार परेशान है क्योंकि इस बार रामलीला नहीं हो रही है. वे रंगकर्मियो के लिए सरकार के स्तर पर सहयोग की मांग कर रहे है. साथ ही अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए नो मास्क नो एंट्री के स्लोगन का प्रचार भी कर रहे है.

{related}

कोरोना से बैंड बाजा बारात हुए सर्वाधिक प्रभावित:
कोरोना से बैंड बाजा बारात सर्वाधिक प्रभावित हुए हैं. 50 से अधिक लोगों की अनुमति नहीं मिलने के चलते आयोजन ना के बराबर हुए हैं साथ ही साथ भीड़ ना दिखे इसके लिए इन लोगों को भी दूर रखा जा रहा है. ढोल बजाने वाले भी इन दिनों ठाली है. वे कहते है कि कि सरकार से निश्चित तौर पर लोक डाउन के दौरान खूब मदद मिली है, लेकिन अब सामने समस्या आन खड़ी हुई है, धंधा पानी है नहीं और खर्चे उतने ही है. कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि कोरोना का प्रभाव वैश्विक है और हर तबके पर देखा जा रहा है, लेकिन गरीब तबके को सर्वाधिक मार पड़ी है. बस अब तो उम्मीद पर ही दुनिया कायम है कि कोरोना की वैक्सीन आएगी और फिर गरीब की अर्थव्यवस्था की गाड़ी भी पटरी पर लौटेगी.

बीकानेर: ट्रेलर में घुसी कार, पूगल SHO व एक कांस्टेबल सहित तीन की मौत

बीकानेर: जिले के जयपुर रोड पर पेमासर के पास आज अलसुबह एक कार ट्रेल में घुस गई. हादसे में कार सवाल पूगल एसएचओ महावीर प्रसाद और कांस्टेबल काशीराम सहित एक अन्य की मौत हो गई. ASP ग्रामीण सुनील कुमार ने हादसे की पुष्टि की है. 

पुलिस ने तीनों को पीबीएम अस्पताल के ट्रोमा सेंटर पहुंचाया:
हादसे की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों को कार से निकलवा कर पीबीएम अस्पताल के ट्रोमा सेंटर पहुंचाया. ASP ग्रामीण सुनील कुमार ने बताया कि पूगल एसएचओ महावीर प्रसाद, कांस्टेबल काशीराम व एक अन्य किसी मामले में मल्जिमों की तलाश में बीकानेर आए थे. 

{related} 

एसएचओ महावीर व काशीराम की मौके पर ही मौत हो गई: 
उन्होंने बताया कि वो आज अलसुबह वापस पूगल जा रहे थे तभी जयपुर रोड स्थित पेमासर के पास कार ट्रेलर में जा घुसी, जिससे एसएचओ महावीर व काशीराम की मौके पर ही मौत हो गई. एक अन्य सवार ने पीबीएम अस्पताल दम तोड़ दिया. तीनों के शव को पीबीएम अस्पताल की मोर्चरी में रखवाए गए हैं. 

बीकानेर ACB टीम की नोहर में कार्रवाई, सहायक लेखाधिकारी सुरेन्द्र दायमा 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते ट्रैप

बीकानेर ACB टीम की नोहर में कार्रवाई, सहायक लेखाधिकारी सुरेन्द्र दायमा 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते ट्रैप

नोहर: गलत कटे चालान की राशि रिफंड करने की एवज में 5 हजार रुपए मांगने वाले नोहर जिला परिवहन अधिकारी कार्यालय के रिश्वतखोर बाबू को आज एसीबी ने धर दबोचा. इस रिश्वतखोर बाबू के दलाल को भी एसीबी की टीम ने पकड़ा है. तलाशी के दौरान रिश्वत की राशि 5 हजार रुपए दलाल की जेब से बरामद कर ली गई है.

कार्रवाई के बाद डीटीओ दफ्तर में मचा हड़कंप: 
आपको बता दें कि नोहर डीटीओ कार्यालय में लंबे समय से भ्रष्टाचार होने की शिकायत मिल रही थी. एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रजनीश पूनिया व निरीक्षक आनंद प्रकाश के नेतृत्व में हुई इस कार्रवाई के बाद डीटीओ दफ्तर में हड़कंप मच गया. एसीबी के एएसपी रजनीश पूनिया ने फर्स्ट इंडिया को बताया कि नोहर डीटीओ दफ्तर के बाहर ईमित्र संचालन करने वाले परिवादी से ट्रेक्टर के ऑन लाइन चालान की राशि 19 हजार 850 दो बार भर दी गई.

{related}

आरोपी ने की थी 5 हजार रुपए की मांग:
उक्त राशि को रिफंड करने की एवज में सहायक लेखाधिकारी सुरेंद्र दायमा 5 हजार की रिश्वत मांग रहा था. इस संबंध में परिवादी ने एसीबी को शिकायत की. इस पर एसीबी ने जाल बिछाते हुए बाबू सुरेन्द्र दायमा और दलाल रामकुमार को रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया. करवाई के दौरान आरोपी बाबू के नोहर स्थित घर की तलाशी भी ली गई. 

बीकानेर: टायर फटने से पलटी सफारी कार, सेना के दो अधिकारियों की मौत

बीकानेर: टायर फटने से पलटी सफारी कार, सेना के दो अधिकारियों की मौत

बीकानेर: जिले से बड़ी खबर आ रही है जहां एक सफारी कार का टायर फट गया. जिससे कार अनियंत्रित होकर पलट गई. हादसे में सेना के दो अधिकारियों की मौत हो गई. हादसा इतना भीषण था इन दोनों अधिकारियों की मौके पर ही मौत हो गई. दोनों अफसर उत्तरप्रदेश के शाहजहांपुर से बीकानेर में एक अभ्यास में शामिल होने के लिए आ रहे थे. बताया जा रहा है कि हादसा सड़क पर एक गाय को बचाने के प्रयास में हुआ है.

{related}

वहीं 2 अन्य कार सवाल घायल हो गए. जिन्हे इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. वहीं हादसे की सूचना मिलते ही सैरुणा थानाधिकारी अजय गिरधर मौके पर पहुंचे. सड़क हादसे में देश के इन दो सपूतों की जान जाने की सूचना पर पूरे क्षेत्र में मायूसी छा गई. मौके पर बड़ी संख्या में सेना के वाहन भी पहुंच गए.