प्रणब, नानाजी और हजारिका के अलावा 112 लोगों को मिलेंगे पद्म सम्मान

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/01/26 03:12

नई दिल्ली। 70वें गणतंत्र दिवस की पूर्वसंध्या पर सरकार ने भारत रत्न के साथ साथ पद्म अवॉर्ड की भी घोषणा की है। राष्ट्रपति भवन की ओर से शुक्रवार को जारी बयान के अनुसार इस बार राष्ट्रपति ने 112 पद्म सम्मान दिये जाने की अनुमति दी है। जिनमें 4 पद्म विभूषण, 14 पद्म भूषण और 94 पद्मश्री सम्मान शामिल हैं।

गौरतलब है कि लोक गायिका तीजनबाई, जिबोती के राष्ट्रपति इस्माइल उमर गुएलेह, उद्योगपति अनिल कुमार मणिभाई नाईक और रंगमंच कलाकार बलवंत मोरेश्वर पुरांदरे को पद्म विभूषण से सम्मानित किया जायेगा। पद्म भूषण से सम्मानित किये जाने वालों में पूर्व नियंत्रक और महालेखाकार वी के शुंगलू, अकाली दल के नेता सुखदेव सिंह ढिडसा और एक विदेशी-जॉन चैम्बर्स शामिल हैं। पत्रकार कुलदीप नैय्यर को मरणोपरांत पद्म भूषण दिया जायेगा। पद्मश्री के लिए घोषित 94 हस्तियों में अभिनेता मनोज वाजपेयी, क्रिकेटर गौतम गंभीर और पूर्व राजनयिक एस. जयशंकर प्रमुख हैं।

बता दें कि समाजसेवी नानाजी देशमुख, गायक भूपेन हजारिका और पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान-भारत रत्न दिये जाने की घोषणा की गई है। राष्ट्रपति कार्यालय की प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार नानाजी देशमुख और भूपेन हजारिका को यह सम्मान मरणोपरांत दिया जायेगा। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने ट्वीट संदेश में कहा कि नानाजी देशमुख के अतुलनीय योगदान के कारण ग्रामीण विकास की दिशा में अभूतपूर्व बदलाव आया। प्रधानमंत्री ने कहा कि भूपेन हजारिका की गीतों और संगीत से हर पीढ़ी प्रेरित रही, इसलिए वे भारत रत्न के पात्र हैं। पीएम मोदी ने कहा कि पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी हमारे समय के उत्कृष्ट राजनेता हैं और उन्होंने कई दशकों तक देश की निस्वार्थ और निरंतर सेवा की है। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in