प्रशांत किशोर का तंज, कहा-नीतीश कुमार गोडसे की विचारधारा वाले लोगों के साथ

प्रशांत किशोर का तंज, कहा-नीतीश कुमार गोडसे की विचारधारा वाले लोगों के साथ

प्रशांत किशोर का तंज, कहा-नीतीश कुमार गोडसे की विचारधारा वाले लोगों के साथ

नई दिल्ली: राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कई ऐलान किए. जनता दल (यूनाइटेड) से अलग होने के बाद प्रशांत किशोर ने अब अपने अलग रास्ते का ऐलान किया है, लेकिन वह किसी राजनीतिक पार्टी की शुरुआत नहीं करेंगे. पीके ने बताया कि ना ही किसी गठबंधन का प्रचार करने वाले हैं. प्रशांत किशोर ने बताया कि नीतीश कुमार ने उन्हें बेटे की तरह रखा.

VIDEO: मंत्री प्रताप सिंह का बड़ा बयान, सीएम और मंत्री की इच्छा के बिना एसीबी कोई कार्रवाई नहीं करती

मैं फिर भी उनका सम्मान करता हूं.:

उन्होंने कहा कि उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया, लेकिन मैं फिर भी उनका सम्मान करता हूं. प्रशांत किशोर ने कहा कि मुझे पार्टी में शामिल करने और पार्टी से निकालने के फैसले को दिल से स्वीकार करता हूं. उन पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं और आगे भी नहीं करना चाहता. ये उनका एकाधिकार था. वो पार्टी में रखना चाहते थे और नहीं रखना चाहते थे ये भी उनका अधिकार है. उनके लिए हमेशा मेरे दिल में आदर रहेगा. 

डोनाल्ड ट्रंप का भारत दौरा अगले हफ्ते, स्वागत के लिए अहमदाबाद पूरी तरह से तैयार

नीतीश कुमार गोडसे की विचारधारा वाले लोगों के साथ:
पटना में मीडिया को संबोधित करते हुए प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार से मतभेद की वजहें भी बताईं और कहा कि नीतीश कुमार गोडसे की विचारधारा वाले लोगों के साथ हैं, जबकि वे कहते हैं कि वे गांधी, लोहिया और जेपी को मानते हैं. भले ही प्रशांत किशोर ने किसी पार्टी का ऐलान नहीं किया हो लेकिन उन्होंने लोगों की बात जानने का प्लान बनाया है. 20 फरवरी से पीके एक कैंपेन लॉन्च करने जा रहे हैं जिसका नाम होगा ‘बात बिहार की’. इस दौरान बिहार को देश के टॉप 10 राज्यों में शामिल करने के लिए चर्चा की जाएगी.

और पढ़ें