Live News »

प्रतापगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किए 3 इनामी शूटर, हत्या के आरोप में चल रहे थे फरार

प्रतापगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किए 3 इनामी शूटर, हत्या के आरोप में चल रहे थे फरार

प्रतापगढ़: डेढ़ साल पहले प्रतापगढ़ में एक भाजपा कार्यकर्ता की गला रेतकर और गोली मारकर हत्या करने के मामले में फरार चल रहे तीन इनामी शूटर को गुरुवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. इस मामले में पुलिस पहले ही 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. गिरफ्तार शूटरों पर हत्या और लूट के कई मामले पहले ही दर्ज है. इन पर पुलिस ने पांच-पांच हजार रुपए का इनाम घोषित कर रखा था. अधीक्षक पूजा अवाना ने बताया कि 3 नवंबर 2018 को कोतवाली थाना क्षेत्र के संचई गांव के रहने वाले समरथ कुमावत की कड़ियावद फंटे पर तीन बदमाशों ने गोली मारकर और गला रेत कर हत्या कर दी थी.

जमीनी विवाद की वजह से की गई हत्या:
इस मामले में मृतक के भाई शांतिलाल की ओर से कोतवाली थाने में प्रकरण दर्ज करवाया गया था, जिसमें बताया गया कि उसका भाई दोपहर में अपने गांव से बाइक द्वारा प्रतापगढ़ आ रहा था तभी रास्ते में कड़ियावद फंटे के निकट बदमाशों ने उसकी गोली मारकर और गला रेत कर हत्या कर दी. इसके बाद वह मौके से फरार हो गए. शांतिलाल ने दी गई रिपोर्ट में बताया कि उनका गांव के ही कुछ लोगों से जमीनी विवाद चल रहा था जिसके कारण उसकी हत्या की गई है. इस मामले में पुलिस जांच के बाद सामने आया कि मृतक समरथ कुमावत के गांव में स्थित खेत के पास गायरी समाज का देवरा बना हुआ है. जिसको लेकर विवाद चल रहा था.

श्री खोले के हनुमान मंदिर में रामनवमी उत्सव सम्पन्न, दशमी को होगी हवन-पूजा

पुलिस ने कई ठिकानों पर दी दबिश:
इस मामले में अक्खेपुर निवासी रोशम खान ने मध्यस्थता कर समरथ कुमावत से बात की थी. जांच में सामने आया कि समरथ कुमावत ने रोशन खान की बात नहीं मानी और उसकी बेइज्जती कर दी तभी से रोशम खान ने उसको ठिकाने लगाने का मानस बना लिया था. रोशम खान ने मध्य प्रदेश के ताल के रहने वाले शार्प शूटर सोयद, साजिद और अमजद को इसके लिए सुपारी दी. साथ ही गांव के रविंद्र सिंह ,ओम प्रकाश गिरी सहित चार लोगों को समरथ की रेकी करने के लिए लगाया. पुलिस ने मामले में रोशम खान सहित रेकी करने वाले चारों लोगों को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था.

भरतपुर में कोरोना पॉजिटिव मिलने पर प्रशासन में मचा हड़कंप, जुरहरी में कर्फ्यू के आदेश

मध्य प्रदेश के रहने वाले यह शार्प शूटर तभी से फरार चल रहे थे. पुलिस ने इनके कई ठिकानों पर दबिश दी, लेकिन कभी हाथ नहीं आए. कोतवाली थाना अधिकारी मदन लाल खटीक को आज सूचना मिली कि हतुनिया थाना क्षेत्र के बागलिया गांव में यह तीनों शार्प शूटर आए हुए हैं. इस पर दो टीमें गठित कर इन को गिरफ्तार कर लिया गया. एसपी अवाना ने बताया कि इन तीनों शार्प शूटर पर पुलिस ने पांच पांच हजार का इनाम घोषित किया हुआ था . तीनों शार्प शूटर पर हत्या और लूट के कई मामले पहले से दर्ज है.

और पढ़ें

Most Related Stories

Panchayat Election: मतदान पर साफ तौर पर देखा जा रहा सर्दी का असर, कई मतदान केंद्रों के बाहर सन्नाटा

Panchayat Election: मतदान पर साफ तौर पर देखा जा रहा सर्दी का असर, कई मतदान केंद्रों के बाहर सन्नाटा

प्रतापगढ़: जिले में पंचायत राज चुनाव के पहले चरण में हो रहे मतदान पर सर्दी का असर साफ तौर पर देखा जा रहा है. कई मतदान केंद्रों के बाहर पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ है. इक्का-दुक्का मतदाता ही मतदान के लिए पहुंच रहे हैं. 

सर्द मौसम के कारण मतदान केंद्रों पर सन्नाटा पसरा हुआ:  
प्रतापगढ़ में आज पंचायत समिति एवं जिला परिषद सदस्यों के लिए पहले चरण की मतदान प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. प्रतापगढ़ और धरियावद पंचायत समितियों में 8 जिला परिषद और 36 पंचायत समिति सदस्यों के लिए वोट डाले जा रहे हैं. ग्रामीण इलाकों में सर्द मौसम के कारण मतदान केंद्रों पर सन्नाटा पसरा हुआ है. सुबह के समय तापमान में कमी के कारण मतदाता घरों में रुके हुए हैं. धरियावद पंचायत समिति में 129000 और प्रतापगढ़ में 88000 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे. सर्दी का प्रकोप बढ़ने के कारण मतदान पर भी इसका असर देखा जा रहा है.

{related}

तापमान में बढ़ोतरी होने पर मतदाताओं की संख्या बढ़ेगी:
मतदान केंद्रों पर कर्मचारी मतदाताओं का इंतजार कर रहे हैं. जैसे जैसे समय बढ़ेगा और तापमान में बढ़ोतरी होगी वैसे वैसे मतदाताओं की संख्या बढ़ेगी. दोपहर तक मतदान में तेजी आने की पूरी संभावना है. सुबह 7:30 बजे से मतदान की यह प्रक्रिया शुरू हुई है जो शाम 5:00 बजे तक चलेगी. फिलहाल मतदाता अभी धूप निकलने और तापमान के बढ़ने का इंतजार कर रहा है.  

प्रतापगढ़: घर में घुसकर विधवा महिला के साथ दुष्कर्म और लूट का आरोप

प्रतापगढ़: घर में घुसकर विधवा महिला के साथ दुष्कर्म और लूट का आरोप

प्रतापगढ़: जिले में एक विधवा महिला के साथ दुष्कर्म और लूट का मामला सामने आया है. महिला ने कार्रवाई की मांग को लेकर पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई है. फिलहाल आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर है. मामला 4 दिन पहले का बताया जा रहा है.

गले में पहनी सोने और चांदी की चेन भी लूटने का आरोप: 
शहर के बगवास इलाके में रहने वाली प्रार्थीया ने पुलिस अधीक्षक को सौपे गए ज्ञापन में बताया कि बीती 26 अक्टूबर की रात को 2:00 बजे जब वह घर में अकेली थी तो पड़ोस में ही रहने वाले लक्ष्मण और इसके तीन बेटों ने घर के बाहर गाली गलौज की और बाहर निकलने के लिए धमकाया. जब वह बाहर नहीं निकली तो आरोपी मकान की खिड़की तोड़कर अंदर घुस गए. आरोपियों के हाथों में लट्ठ, चाकू आदि हथियार थे. इन्होंने पहले प्रार्थीया के साथ मारपीट की और बाद में घसीटते हुए पीपल के पेड़ के पास ले गए. जहां पर प्रार्थीया के कपड़े खोल कर उसके साथ दुष्कर्म किया गया. इस दौरान प्रार्थीया के गले में पहनी सोने और चांदी की चेन को आरोपियों ने लूट लिया. 

{related}

आरोपियों की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई:
चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और पीड़िता को बचाया अन्यथा यह लोग उसको जान से खत्म कर देते. मामले की रिपोर्ट कोतवाली थाने में दर्ज करवाई गई लेकिन आरोपियों की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई है. पीड़िता ने ज्ञापन में आरोप लगाया कि लक्ष्मण मीणा और उसके बेटों ने पहले भी उसको रुपयों के लिए धमकाया था. तब लोगों के बीच बचाव से मामला शांत हो गया था. मिली जानकारी के अनुसार दोनों परिवारों के बीच प्रेम संबंधों को लेकर पहले से ही विवाद चल रहा है. फिलहाल कोतवाली थाना पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

प्रतापगढ़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 1 करोड़ के अफीम डोडा चूरा के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार 

प्रतापगढ़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 1 करोड़ के अफीम डोडा चूरा के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार 

प्रतापगढ़: प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले की छोटीसादड़ी थाना पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए एक ट्रक से बड़ी मात्रा में डोडाचूरा जप्त कर दो आरोपी को गिरफ्तार किया है. वहीं पुलिस ने ट्रक भी जब्त कर लिया है. तस्करी का यह डोडा चूरा मक्का के बोरों के बीच छिपाकर ले जाया जा रहा था. बरामद अफीम डोडा चूरा की कीमत एक करोड़ रुपए बताई जा रही है.

मुखबीर की सूचना पर हुई कार्रवाई:
छोटी सादड़ी थाना अधिकारी रवींद्र प्रताप सिंह ने बताया कि पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गोमाना पुलिया के पास नाकाबंदी के दौरान एक ट्रक से 13 क्विटंल डोडाचूरा बरामद किया है और दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि कोई संदिग्ध वस्तु ले जाई जा रही है. 

{related}

पुलिस ने मामला किया दर्ज, जांच शुरू:
पुलिस ने गोमाना पुलिया पर उपनिरीक्षक बलवंत सिंह चूंडावत मय जाब्ता ने नाकाबंदी के दौरान एक ट्रक संदिग्ध लगने पर तलाशी तो सामने आया कि मक्का के बोरों के नीचे डोडाचूरा है. 65 कट्टों में भरे इस डोडा चूरा का तौल किया गया तो 13 क्विटंल डोडाचूरा निकला और आरोपी परसाराम एवं राजुराम विश्नोई निवासी डांगियावास जोधपुर को गिरफ्तार किया है. पुलिस एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

प्रतापगढ़: बकरियां चराने गई तीन मासूम बालिकाओं की तलाई में डूबने से मौत

प्रतापगढ़: बकरियां चराने गई तीन मासूम बालिकाओं की तलाई में डूबने से मौत

प्रतापगढ़: जिले में आज तीन मासूम बालिकाओं की तलाई में डूबने से मौत हो गई. हादसे के समय यह बालिकाएं बकरियां चराने गई थी और तलाई में नहाने के लिए उतरी थी. तीनों मासूम आपस में चचेरी बहन है. 

तीनों मृतक चचेरी बहने:
धोलापानी थाने के हेड कांस्टेबल कल्याण सिंह ने बताया कि दोपहर में सिया खेड़ी गांव के रहने वाले कांतिलाल, कैलाश और शंकर मीणा की बेटियां पास ही रूपारेल तलाई जो इनके घर से तीन सौ चार सौ मीटर की दूरी पर है बकरियां चराने के लिए गई थी. इनमें से एक लड़की दूर बकरियां चरा रही थी और 7 वर्षीय पिंकी, 8 वर्षीय माया और 11 वर्षीय अनीता जो कि आपस में चचेरी बहनें हैं तलाई में नहाने के लिए उतरी. कुछ समय बाद चौथी लड़की ने आकर देखा तो तीनों के केवल कपड़े और चप्पल तलाई के बाहर दिख रहे थे. 

{related} 

बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंचे: 
इस पर लड़की ने घरवालों को जाकर सूचना दी और बड़ी संख्या में ग्रामीण और पुलिस भी मौके पर पहुंचे. लड़कियों के तालाब में डूबने की आशंका पर छानबीन शुरू की गई बाद में ग्रामीणों की सहायता से तीनों बालिकाओं के शव तलाई से बाहर निकाले गए. परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम करवाने से इनकार किया है. हादसे के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है. फिलहाल तीनों मासूम के शवों को परिजनों के सुपुर्द किया गया है. 

प्रतापगढ़ में भीषण सड़क हादसा, CI अखिलेश सिंह सहित 4 की मौके पर ही मौत

प्रतापगढ़ में भीषण सड़क हादसा, CI अखिलेश सिंह सहित 4 की मौके पर ही मौत

प्रतापगढ़: जिले में बीती रात हुए एक दर्दनाक सड़क हादसे में बांसवाड़ा सीआई और उनके मौसेरे भाई सहित उनकी पत्नियों की मौत के बाद शवों को जिला चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया गया है. पुलिस अब पोस्टमार्टम के लिए परिजनों के जयपुर से यहां पहुंचने का इंतजार कर रही है. हादसे की सूचना मिलने के बाद कई पुलिस अधिकारी भी जिला चिकित्सालय पहुंचे. 

एक ट्रोले और कार में जोरदार टक्कर हो गई: 
सुहागपुरा थाना अधिकारी हिम्मत लाल बुनकर ने बताया कि थाना क्षेत्र के पाड़लिया गांव के निकट बीती रात 3:30 बजे के करीब बांसवाड़ा की ओर से आ रहे एक ट्रोले और कार में जोरदार टक्कर हो गई. कार जयपुर से बांसवाड़ा की ओर जा रही थी. हादसा इतना भयानक था कि कार में सवार 2 महिलाओं सहित चार व्यक्तियों की मौके पर ही मौत हो गई. बुनकर ने बताया कि कार सवार सीआई अखिलेश सिंह जो बांसवाड़ा में तैनात थे अपने मौसेरे भाई विनय यादव के साथ जयपुर से बांसवाड़ा के लिए निकले थे कि यह हादसा हो गया. कार में दोनों की पत्नियां भी सवार थी जिन की भी मौत हो गई.

{related} 

पुलिस ने ट्रोला चालक को हिरासत में लिया:
हादसे के बाद 108 एंबुलेंस कर्मियों की मदद से सभी को जिला चिकित्सालय लाया गया लेकिन चिकित्सकों ने सभी को मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने ट्रोला चालक को हिरासत में लिया है. हादसे की सूचना मिलने पर बड़ी संख्या में पुलिस अधिकारी और परिचित भी जिला चिकित्सालय पहुंचे. फिलहाल पोस्टमार्टम के लिए परिजनों के प्रतापगढ़ पहुंचने का इंतजार किया जा रहा है.  

प्रतापगढ़ में जमीनी विवाद को लेकर वृद्ध की हत्या, सालमगढ़ थाना क्षेत्र के दलोट की घटना

प्रतापगढ़ में जमीनी विवाद को लेकर वृद्ध की हत्या, सालमगढ़ थाना क्षेत्र के दलोट की घटना

प्रतापगढ़: प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के अरनोद उपखंड के दलोट कस्बे के एक वृद्ध की शनिवार रात को भूमि विवाद के चलते धारदार हथियारों से हमला कर हत्या कर दी गई. आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आक्रोशित परिजनों का सुबह से ही थाने पर जमावड़ा लगा हुआ है. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. इस मामले में बांसवाड़ा से एफएसएल टीम भी मौके पर पहुंची है और साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं. 

अटल बिहारी वाजपेयी की दूसरी पुण्यतिथि आज, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

भूमि विवाद से उत्पन्न रंजिश का मामला:
पुलिस और परिजनों के मुताबिक दलोट निवासी बालमुकुंद शर्मा शनिवार रात को खेत पर गए थे. देर रात तक जब घर नहीं लौटे तो परिजन ढूंढते हुए खेत पर पहुंचे. वहां बालमुकुंद लहूलुहान पड़े थे. उन्हें तुरंत दलोट अस्पताल लाया गया. जहां उपचार के दौरान दम तोड़ दिया. पुलिस के मुताबिक के मामला भूमि विवाद से उत्पन्न रंजिश का लग रहा है. खेत से अस्पताल लाते समय बालमुकुंद ने हमलावारों के नाम भी बताए थे. 

जगह-जगह चोट के गहरे निशान:
परिजनों अनुसार हमलावर  6-7 जने थे. उन्होंने वृद्ध पर धारदार हथियारों से हमला किया. मृतक के सिर और हाथ पैरों सहित जगह-जगह चोट के गहरे निशान है. फिलहाल पुलिस सालमगढ़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में शव का पोस्टमार्टम करवा रही है. इधर हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिजन थाने के सामने जमा है. वहीं थानाधिकारी कृष्णचन्द्र बुनकर ने बताया कि पुलिस ने एक व्यक्ति को हिरासत में लिया है अनुसंधान जारी है.

सीजे इंद्रजीत महांती की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव, कन्फर्मेशन टेस्ट में रिपोर्ट आई नेगेटिव

प्रतापगढ़ के बाजार में एक कोरोना संक्रमित के खुलेआम घूमने की सूचना पर मचा हड़कंप

प्रतापगढ़ के बाजार में एक कोरोना संक्रमित के खुलेआम घूमने की सूचना पर मचा हड़कंप

प्रतापगढ़: जिले के बाजार में एक कोरोना संक्रमित के खुलेआम घूमने की सूचना पर हड़कंप मच गया. बाद में पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर इस कोरोना संक्रमित की निगरानी करते हुए स्वास्थ्य विभाग को सूचना दी. लेकिन डेढ़ घंटे से भी ज्यादा का इंतजार करने के बाद उसे पैदल ही जिला चिकित्सालय ले जाया गया और आइसोलेशन वार्ड में ले जाकर भर्ती करवाया. ऐसे में लोगों ने स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली पर सवाल उठाए हैं. 

VIDEO- Rajasthan Political Crisis: महिला विधायकों ने मुख्यमंत्री को बांधे रक्षा सूत्र, सीएम गहलोत ने दी बधाई 

15 दिन पहले ही सिरोही जिले से लौटा था: 
शहर पुलिस चौकी इंचार्ज प्रभु लाल गुर्जर ने बताया कि आज स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा पुलिस को सूचना दी गई की नाया खेड़ी गांव का रहने वाला रमेश पुत्र रूपा मीणा जो कि 15 दिन पहले ही प्रदेश के सिरोही जिले से लौटा था और 4 दिन पहले कोरोना की जांच के लिए इस के सैंपल लिए गए थे. सैंपल लेने के बाद इसे होम क्वॉरेंटाइन किया गया था. आज इसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जब स्वास्थ्य विभाग की टीम नया खेड़ी गांव में इसके घर पर पहुंची तो इसकी पत्नी ने बताया कि यह प्रतापगढ़ गया हुआ है. इस पर स्वास्थ्य विभाग की सूचना पर पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की, देवगढ़ दरवाजा बाहर इसके होने की जानकारी मिलने पर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और स्वास्थ्य विभाग को इसकी सूचना दी गई. लेकिन डेढ़ घंटे के इंतजार के बाद भी जब स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर नहीं पहुंची तो इस शख्स को पैदल ही जिला चिकित्सालय ले जाया गया और आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया.

Rajasthan Political Crisis: अब दिल्ली से आ रही एक चौंकाने वाली खबर, सोनिया गांधी के स्तर पर हो रही एक आखिरी कोशिश!  

खुलेआम घूमने से लोगों में दहशत फैल गई:
बताया जा रहा है कि 15 दिन पहले लगभग डेढ़ सौ से 200 व्यक्ति सिरोही से वापस लौटे थे यह लोग वहां पर भवन निर्माण के काम में लगे हुए थे. रमेश मीणा भी इन्हीं व्यक्तियों में शामिल था. इस व्यक्ति के बाजार में इस तरह खुलेआम घूमने से लोगों में दहशत फैल गई है. समाजसेवी प्रहलाद गुर्जर ने स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली पर सवाल उठाए हैं. 

ACB Trap: प्रतापगढ़ में गिरदावर रामलाल 4 हजार की घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

प्रतापगढ़: जिले में आज भ्रष्टाचार निरोधक विभाग की टीम ने एक गिरदावर को 4000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. गिरदावर ने यह राशि कृषि भूमि की पत्थर गढ़ी करवाने के एवज में मांगी थी. परिवादी 7000 रूपए में से 3000 रुपए  आरोपी को पहले ही दे चुका था. 

VIDEO:SMS स्टेडियम का बैडमिंटन कोच कोरोना पॉजिटिव, खिलाड़ियों व अधिकारियों पर भी संक्रमण का खतरा 

पिछले वर्ष हो चुका था आदेश: 
प्रतापगढ़ एसीबी के पुलिस उप अधीक्षक हेरंब जोशी ने बताया कि छोटी सादड़ी के कारूंडा गांव के रहने वाले दशरथ रैगर ने अपनी कृषि भूमि पर पत्थर गढ़ी के लिए आवेदन किया था और पिछले वर्ष उसका आदेश भी हो चुका था लेकिन गिरदावर रामलाल गायरी उसको लगातार चक्कर दे रहा था और 7000 रुपए की मांग कर रहा था. इस पर दशरथ ने एसीबी में शिकायत की जिस पर बीती 2 जुलाई को 2000 रुपए की राशि और 4 जुलाई को 1000 रुपए की राशि देकर शिकायत का सत्यापन करवाया गया. 

 गैंगस्टर राजू ठेहट को 20 दिन की पैरोल, पुलिस और प्रशासन ने कहा जेल से बाहर आने पर गैंगवार की संभावना 

एसीबी की टीम ने गिरदावर रामलाल को दबोच लिया:
आज आरोपी रामलाल गायरी के छोटी सादड़ी स्थित आवास पर जहां वहां किराए से रहता है दशरथ 4000 रुपए की बकाया राशि लेकर पहुंचा. रामलाल ने वह राशि ली, तभी इशारा पाकर एसीबी की टीम ने गिरदावर रामलाल को दबोच लिया. फिलहाल एसीबी की टीम आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है.