अशोक गहलोत-अविनाश पांडे का बड़ा फैसला ! 19 बागी कांग्रेस विधायकों के क्षेत्रों में उपचुनाव कराने की तैयारियां शुरू 

अशोक गहलोत-अविनाश पांडे का बड़ा फैसला ! 19 बागी कांग्रेस विधायकों के क्षेत्रों में उपचुनाव कराने की तैयारियां शुरू 

जयपुर: राजस्थान के सियासी घटनाक्रम में कांग्रेस ने एक बड़ा फैसला लिया है. सूत्रों के मुताबिक 19 बागी कांग्रेस विधायकों के क्षेत्रों में उपचुनाव कराने की तैयारियां शुरू हो गई है. यह फैसला मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने लिया. इन सभी क्षेत्रों में उपयुक्त उम्मीदवारों की खोज का काम भी शुरू हो गई है. जैसे ही विधानसभा अध्यक्ष द्वारा इनकी सदस्यता समाप्त होने की कार्यवाही पूरी होगी. तो वहां उसी दिन से उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. इन क्षेत्रों के कुछ भाजपा नेता भी कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने के इच्छुक है. इन सभी सीटों पर चुनाव लड़ने वालों की लंबी कतार है. 

विधानसभा स्पीकर ने नोटिस किया जारी:
इससे पहले विधानसभा स्पीकर डॉ. सीपी जोशी ने कांग्रेस के 19 बागी विधायकों को नोटिस जारी किया है. नोटिस में विधायकों से 3 दिन में जवाब मांगा है. जवाब नहीं देने पर स्पीकर विधायकों को अयोग्य घोषित कर सकते हैं. स्पीकर 3 माह तक समय ले सकते हैं. हालांकि मौजूदा परिस्थितियों के तहत लगता यही है कि स्पीकर जल्द ही निर्णय लेंगे. 

रिलायंस जियो 5जी का ऐलान, मुकेश अंबानी बोले, यह तकनीक आत्मनिर्भर भारत अभियान को समर्पित

सीएम गहलोत ने साधा बीजेपी पर निशाना:
इससे पहले राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली में लोकतंत्र खत्म करने वाली सरकार बैठी है. राजनीति में खरीद-फरोक्त ठीक नहीं है. उन्होंने कहा कि सरकार गिराने के षडयंत्र में डिप्टी सीएम भी शामिल थे, हमारे यहां डिप्टी सीएम ही डील कर रहा था. जो हमारे साथ नहीं है वो पैसे ले चुके हैं. षड्यंत्र में शामिल होने वाले लोग खुद सफाई दे रहे हैं. इसके साथ ही सीएम गहलोत ने कहा कि केन्द्र सरकार से मीडिया फाइनेंस हो रहा है. ऐसे में मीडिया ईमानदारी का साथ दे, लोकतंत्र को अखंड रखना है. अब जो लोग देश में शासन कर रहे वे लोकतंत्र को खत्म कर रहे हैं. कांग्रेस ने 76 साल तक लोकतंत्र को बचाए रखा. राजनीति में खरीद-फरोख्त ठीक नहीं है. सरकार गिराने का प्रयास करने वालों के पास धन और बल की कमी नहीं है.

भाजपा का षड्यंत्र औंधे मुंह गिरा: 
राजस्थान में सियासी संकट के बीच कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मंगलवार को प्रेसवार्ता की. रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा का षड्यंत्र औंधे मुंह गिर गया. भाजपा की साजिश फेल हो गई है. भाजपा के सतीश पूनियां की पीसी से साबित हुआ है. साथ ही उन्होंने कहा कि सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों को AICC ने आने का आग्रह किया. कई बार आग्रह किया. इससे पहले दो विधायक दल की बैठक में हमारे साथियों को बुलाया गया.पार्टी फॉर्म में बात रखने की अपील की थी.कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि सोनिया गांधी-राहुल गांधी ने उदार दिल से कहा कि घर का व्यक्ति घर में आ जाये तो अच्छा है. अगर कांग्रेस से निष्ठा और प्यार है. तब आप कहिये कि कांग्रेस में संपूर्ण निष्ठा है. भारी दिल से कल कार्रवाई की घोषणा करनी पड़ी.रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि सचिन पायलट जी ने मीडिया से कहा कि वे भाजपा में नहीं जाना चाहते है. अगर वे भाजपा में शामिल नहीं होना चाहते है तो पायलटजी और साथी विधायकों से हमारी है अपील है कि वे जयपुर लौट आएं.

रणदीप सुरजेवाला बोले, भाजपा का षड्यंत्र औंधे मुंह गिर गया, साजिश हो गई फेल 

और पढ़ें