प्रदेश में उप चुनाव को लेकर निर्वाचन विभाग की तैयारियां पूर्ण, अधिकारी ले रहे नियमित फीडबैक 

प्रदेश में उप चुनाव को लेकर निर्वाचन विभाग की तैयारियां पूर्ण, अधिकारी ले रहे नियमित फीडबैक 

प्रदेश में उप चुनाव को लेकर निर्वाचन विभाग की तैयारियां पूर्ण, अधिकारी ले रहे नियमित फीडबैक 

जयपुर: विधानसभा की दो खाली मंडावा और खींवसर सीटों पर उप चुनाव की निर्वाचन विभाग ने तैयारी कर ली है. ईवीएम और बूथ्स से लेकर मतदाताओं को दी जाने वाली सुविधाओं की नियमित मॉनिटरिंग की जा रही है. साथ ही सुरक्षाबलों की तैनाती का खाका भी तैयार किया जा चुका है. एक रिपोर्ट:

नियमित फीडबैक:
खींवसर और मंडावा में होने वाले विधानसभा उप चुनाव की तिथि जैसे नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे निर्वाचन विभाग की तैयारियां भी तेज हो चली हैं. ईवीएम के रेंडमाइजेशन से लेकर बूथ्स में मतदाताओं की सुविधाओं को लेकर खास ध्यान रखा जा रहा है और स्थानीय जिला प्रशासन, कलेक्टर और अन्य अधिकारियों से निर्वाचन विभाग के आला अधिकारी नियमित फीडबैक ले रहे हैं. 

दिव्यांगजनों के लिए रहेगी विशेष सुविधा:
दिव्यांगों की शत-प्रतिशत भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सभी मतदान केन्द्रों पर रैम्प्स, सहायता के लिए स्काउट गाइड, एनएसएस और एनसीसी के वाॅलेंटियर लगाए जाएंगे. दिव्यांगों और उनके सहायकों को घर से लाने ले जाने के लिए भी स्थानीय स्तर पर परिवहन की व्यवस्था संभव है. दिव्यांग मतदाताओं के लिए ब्रेल लिपि में वोटर स्लिप एवं इपिक कार्ड का वितरण सुनिश्चित किया जा रहा है. महिलाओं की ओर से संधारित किये जाने वाले मतदान केंद्र संभव हैं. 

नाम वापसी के बाद 12 उम्मीदवार:
नागौर जिले की खींवसर विधानसभा क्षेत्र अब कुल 3 उम्मीदवार मैदान में है, जबकि झुंझुनूं की मंडावा विधानसभा क्षेत्र में 9 उम्मीदवार अपना भाग्य आमजाएंगे. दोनों विधानसभाओं के लिए मतदान 21 अक्टूबर को होगा तथा मतगणना 24 अक्टूबर को की जाएगी. खींवसर से इंडियन नेशनल कांग्रेस से हरेन्द्र मिर्धा, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी से नारायणराम बेनीवाल और निर्दलीय अंकुर शर्मा चुनाव लडेंगे. जबकि मंडावा से इंडियन नेशनल कांग्रेस की रीटा चौधरी, भारतीय जनता पार्टी की सुशीला सिगरा, अंबेडगराइट पार्टी आफ इंडिया से दुर्गा प्रसाद मीणा, राष्ट्रीय स्वर्ण दल से बेनी प्रसाद कौशिक व अल्तिफ,  गणेश कुमार जोशी, प्रताप सिंह ख्याली पीओ, सत्यवीर सिंह कृष्णिया और सुभाष बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव लडेंगे. नामांकन के आखिरी दिन दो विधानसभा क्षेत्रों से 14 उम्मीदवारों ने 21 नामांकन पत्र दाखिल किए. खींवसर में हनुमान बेनीवाल के सांसद चुने जाने के बाद सीट खाली हुई. वहीं 2018 में नरेंद्र कुमार मंडावा सीट से जीते, लेकिन 2019 में वे लोकसभा चुनाव में सांसद बन गए. तबसे यह सीट खाली हो गई थी।

मंडावा में उपचुनाव:
—मंडावा में 228201 मतदाता 
—इनमें से 118053 पुरुष और 
—110148 महिला मतदाता 
—2859 सेवा नियोजित मतदाता
—इस विधानसभा क्षेत्र में कुल 259 मतदान केंद्र 
—इससे दुगुनी है ईवीएम की संख्या
—करीब 518 हैं यहां ईवीएम
—भेल के इंजीनियर्स कर चुके हैं चेक

खींवसर उपचुनाव:
—खींवसर में 250180 कुल मतदाता 
—130919 पुरुष मतदाता 
—119261 महिला मतदाता 
—इस क्षेत्र में 596 सेवा नियोजित मतदाता
—इस क्षेत्र में 266 मतदान केंद्र 
—करीब 532 हैं यहां ईवीएम
—रेंडमाइजेशन की प्रक्रिया हो चुकी पूरी

दोनों क्षेत्रों में उपचुनाव की सभी प्रक्रिया 27 अक्टूबर तक पूरी होगी. दोनों विधानसभा क्षेत्रों में संवेदनशील केंद्रों की स्थिति को देखते हुए अर्द्धसैन्य बलों और सुरक्षा बलों की तैनाती सुनिश्चित की जाएगी, इसका ब्ल्यू प्रिंट तैयार कर लिया गया है. 

... संवाददाता ऋतुराज शर्मा की रिपोर्ट 

और पढ़ें