राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बोले, आइए ऐसा समाज बनाएं, जहां महिलाओं को ज्यादा सम्मान मिले 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बोले, आइए ऐसा समाज बनाएं, जहां महिलाओं को ज्यादा सम्मान मिले 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बोले, आइए ऐसा समाज बनाएं, जहां महिलाओं को ज्यादा सम्मान मिले 

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को दुर्गापूजा की पूर्व संध्या पर देशवासियों को शुभकामनाएं दीं और उनसे ऐसे समाज के निर्माण का संकल्प लेने का आह्वान किया, जहां राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में महिलाओं को ज्यादा सम्मान और समान सहभागिता मिले. राष्ट्रपति भवन की तरफ से जारी एक बयान के मुताबिक, राष्ट्रपति ने कहा कि देवी दुर्गा शक्ति का प्रतीक हैं और वह नारी शक्ति का दैवीय रूप भी हैं. 

कोविंद ने कहा कि दुर्गा पूजा बुराई पर अच्छाई की विजय का उत्सव है. मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूप जीवन के साथ प्रकृति के जुड़ाव को दर्शाते हैं. उन्होंने कहा कि इस त्योहार के अवसर पर, आइए हम एक ऐसे समाज के निर्माण का संकल्प करें, जहां समाज में महिलाओं को पहले से अधिक सम्मान एवं राष्ट्र निर्माण में उन्हें बराबरी की भागीदारी प्राप्त हो.

उन्होंने कहा कि दुर्गा पूजा के पावन अवसर पर, मैं भारत और विदेश में रह रहे सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं देता हूं. राष्ट्रपति ने कहा कि मेरी ईश्वर से कामना है कि हर्षोल्लास भरे इस पर्व से देशवासियों के बीच शांति, भाईचारे व एकता की भावना और सशक्त हो तथा हम सभी देश की प्रगति के लिए बढ़-चढ़कर काम करते रहें. (भाषा)

और पढ़ें