Live News »

लॉक डाउन के दौरान प्राइवेट स्कूलों की नहीं हो सकेगी फीस वसूली, स्टाफ को देनी होगी पूरी सैलेरी

लॉक डाउन के दौरान प्राइवेट स्कूलों की नहीं हो सकेगी फीस वसूली, स्टाफ को देनी होगी पूरी सैलेरी

जयपुर: लॉक डाउन के दौरान प्राइवेट स्कूलों की फीस वसूली नहीं हो सकेगी. इसे लेकर शिक्षा विभाग ने निजी स्कूलों को निर्देशित किया है कि लॉक डाउन के दौरान कोई भी निजी शिक्षण संस्थाएं फीस वसूली नहीं करें. शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान अभिभावकों से फीस वसूली नहीं की जा सकेगी. 

Rajasthan Corona Update:  पिछले 12 घंटे में सामने आए 30 नये पॉजिटिव केस, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 413 

शैक्षणिक संस्थाओं को अपने स्टाफ को पूरी सैलेरी देनी होगी:
यदि स्कूल संचालक फीस मांगते या दबाव बनाते हुए पाए गए तो मामले में कार्रवाई की जाएगी, जब तक मामले की समीक्षा नहीं की जाती. तब तक फीस वसूली नहीं की जा सकेगी. वहीं दूसरी तरफ उन्होंने यह भी स्पष्ट किया है कि शैक्षणिक संस्थाओं को अपने स्टाफ को पूरी सैलेरी देनी होगी. कर्मचारियों को वेतन नहीं देने पर भी कार्रवाई की जा सकती है. 

शब-ए-बारात: घर में ही करें इबादत, कैबिनेट मंत्री सालेह मोहम्मद ने की अपील  

और पढ़ें

Most Related Stories

अब पोकरण में लगाई कांस्टेबल ने फांसी, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

अब पोकरण में लगाई कांस्टेबल ने फांसी, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

पोकरण(जैसलमेर): प्रदेश के पुलिस विभाग में 9 दिन में रविवार को चौथे पुलिसकर्मी ने जान दे दी. पोकरण थाना क्षेत्र अंतर्गत जैसलमेर पोकरण सड़क मार्ग पर स्थित एक निजी होटल में रविवार की देर रात एक पुलिस कांस्टेबल ने होटल की तीसरी मंजिल पर स्थित एक कमरे में फांसी का फंदा लगाकर ईह लीला समाप्त कर दी. कांस्टेबल द्वारा आत्म हत्या की खबर मिलते ही शहर में सनसनी फैल गई. 

मशहूर संगीतकार वाजिद खान का निधन, लंबे समय से किडनी की बीमारी से थे ग्रसित 

शव को कब्जे में ले मामले की जांच प्रारंभ:  
वहीं जानकारी मिलते ही पोकरण सींओ मोटाराम चौधरी, थाना अधिकारी सुरेंद्र प्रजापति मौके पर पहुंचे व मौका मुआयना कर जिला पुलिस अधीक्षक डॉ किरण कंग को मामले की जानकारी दी. वह जानकारी मिलते ही डॉ किरण कंग पोकरण पहुंची व मौका मुआयना कर घटना की जानकारी परिजनों को दी. पुलिस ने कांस्टेबल मायाराम के शव को कब्जे में ले मामले की जांच प्रारंभ कर दी है. साथ ही शव का आज पोस्मार्टम किया जाएगा.

 Lockdown 5.0: Unlock 1 होने का आगाज, राजस्थान में मिलेंगी कई तरह की छूट, ये अब भी बंद रहेंगे 

जैसलमेर रोड पर स्थित एक निजी होटल में रहता था कांस्टेबल: 
गौरतलब है कि पुलिस लाइन में कार्यरत 2015 बैच के कांस्टेबल मायाराम गत कुछ दिनों से पॉवर ग्रिड कंपनी में गार्ड के रूप में कार्यरत था. बताया जा रहा है कि मायाराम कंपनी के अधिकारियों के साथ पोकरण में जैसलमेर रोड पर स्थित एक निजी होटल में रहता था. रविवार को उसने अपने कमरे में फंदा लगाकर ईहलीला समाप्त कर ली. रविवार रात सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लिया. पुलिस उपाधीक्षक मोटाराम गोदारा व थानाधिकारी सुरेंद्रकुमार प्रजापति भी मौके पर आए. पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के साथ मामले की जांच शुरू कर दी है. जानकारी के मुताबिक मृतक के पास कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. पुलिस की कार्यवाही जारी है. 

मशहूर संगीतकार वाजिद खान का निधन, लंबे समय से किडनी की बीमारी से थे ग्रसित

मशहूर संगीतकार वाजिद खान का निधन, लंबे समय से किडनी की बीमारी से थे ग्रसित

मुंबई: बॉलीवुड की मशहूर संगीतकार जोड़ी साजिद-वाजिद के वाजिद खान का रविवार की रात निधन हो गया है. लंबे समय से किडनी की बीमारी से ग्रसित 43 वर्षीय वाजिद की मौत मुम्बई के चेम्बूर में स्थित सुरराणा सेठिया अस्पताल में हुई. कुछ दिन पहले वाजिद कोरोना से संक्रमित भी पाए गए थे. रिपोर्ट के अनुसार, उनकी मौत मल्टीप्ल ऑर्गन फेलियर के चलते हुई. वाजिद के जाने के बाद बॉलीवुड में शोक की लहर है.   

Lockdown 5.0: Unlock 1 होने का आगाज, राजस्थान में मिलेंगी कई तरह की छूट, ये अब भी बंद रहेंगे 

पिछले साल भी वाजिद को हार्ट अटैक आया था:
खबर है कि किडनी और गले के संक्रमण के लिए अस्पताल में भर्ती हुए वाजिद कुछ दिनों पहले कोविड-19 से भी संक्रमित हो गये थे. मगर अटकलें हैं कि हार्ट अटैक के चलते उनकी मौत हुई है. पिछले साल भी वाजिद को हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उनकी एंजिओप्लास्टी की गयी थी.

1998 में सलमान खान की फिल्म में बनाया था पहला म्यूजिक:
वाजिद ने अपने भाई साजिद खान के साथ मिलकर साल 1998 में सलमान खान की फिल्म प्यार किया तो डरना क्या में अपना पहला म्यूजिक बनाया था. वाजिद शुरुआत से ही अपने भाई के साथ जोड़ी के रूप काम करते रहे, जिसकी वजह से दोनों को साजिद-वाजिद के नाम से पहचाना गया.

VIDEO: आज से खुलेंगे प्रदेश के टाइगर रिजर्व और सफारी, टूरिज्म इंडस्ट्री में एक बार फिर बूम आने की उम्मीद 

सलमान खान की जिंदगी में दोनों भाईयों की अलग ही अहमियत:
सलमान खान की जिंदगी में वाजिद और उनके भाई साजिद की अलग अहमियत है. लॉकडाउन में भी वाजिद खान एक्टिव होकर काम कर रहे थे. सलमान खान के गानों के अलावा उन्होंने सिंगर जावेद अली संग अपनी नई एल्बम निकाली थी.

VIDEO: आज से खुलेंगे प्रदेश के टाइगर रिजर्व और सफारी, टूरिज्म इंडस्ट्री में एक बार फिर बूम आने की उम्मीद

जयपुर: ढाई महीने लॉक डाउन में रहने के बाद आखिर जंगलात को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है. रणथंभौर, सरिस्का के अलावा सभी वाइल्डलाइफ सफारी, बायोलॉजिकल पार्क और चिड़ियाघर में पर्यटक अब पहले की तरह आ जा सकेंगे. राजधानी जयपुर में भी तीनों सफारी आज से शुरू हो जाएंगी. माना जा रहा है कि सरकार का यह कदम कोरोना पर आखिर पर्यटन की एक मजबूत जीत साबित होगा. 

 Lockdown 5.0: Unlock 1 होने का आगाज, राजस्थान में मिलेंगी कई तरह की छूट, ये अब भी बंद रहेंगे  

- आज से खुलेंगे प्रदेश के टाइगर रिजर्व और सफारी
- वाइल्डलाइफ सफारी टाइगर रिजर्व और अन्य संरक्षित क्षेत्र के लिए  एसओपी
- वाइल्डलाइफ क्षेत्र में प्रवेश से पहले होगी थर्मल स्क्रीनिंग
- वर्ल्ड लाइव क्षेत्र में प्रवेश के लिए मांस व दस्ताने पहनना अनिवार्य
- पर्यटक वाहनों में भी सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी 
- सभी सफारी वाहनों का लगातार किया जाएगा सैनिटाइजेशन
- रोटेशन के आधार पर लगाई जाएगी स्टाफ की ड्यूटी
- एक फार्म बी भरना होगा जो गाइड और चालकों द्वारा भरा जाएगा 
- फार्म गाइड, ड्राइवर और पर्यटक का पूरा होगा ट्रैक रिकॉर्ड
- चिड़ियाघर बायोलॉजिकल पार्क और हाथी गांव के लिए एसओपी
- सभी वन कर्मियों की टूरिज्म लोकेशन पर होगी थर्मल स्क्रीनिंग 
- मास्क, दस्ताने और सैनिटाइजर का किया जाएगा उपयोग
- थोड़े-थोड़े अंतराल पर सोडियम हाइपोक्लोराइट का होगा छिड़काव 
- वॉशरूम और पेयजल पॉइंट पर रखा जाएगा खास ध्यान 
- रिसेप्शन क्षेत्र बैठने का क्षेत्र पर एक से डेढ़ मीटर की रखी जाएगी दूरी 
- ज्यादा भीड़ होने पर पर्यटन गतिविधि को रोका जाएगा 
- विजिटर बुक का संधारण होगा पता और मोबाइल नंबर लिखा जाएगा 
- कोविड-19 संदिग्ध के प्रवेश पर रहेगा प्रतिबंध
- ऑनलाइन टिकटिंग का अधिक उपयोग सुनिश्चित किया जाए 
- प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजर की होगी व्यवस्था 
- सेल काउंटर पर सैनिटाइजर, सेफ्टी किट, मास्क, दस्ताने  की होगी व्यवस्था 
- रेस्टोरेंट व अन्य दुकानों के लिए भी सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी 
- पर्यटक के पास आरोग्य सेतु एप होना जरूरी 
- 4 घंटे से ज्यादा पर्यटक नहीं रह पाएगा अंदर 
- चिड़ियाघर, बायोलॉजिकल पार्क और हाथी गांव के धार्मिक स्थल रहेंगे बंद

जंगलात में स्वच्छंद घूमते बाघ-बाघिन, भालू, पैंथर सहित अन्य वन्यजीवों की आकर्षित करती खेलें एक बार फिर पर्यटकों का मनोरंजन करने को तैयार हैं. कोविड-19 संक्रमण के चलते 18 मार्च को बंद किए गए प्रदेश के सभी टाइगर पार्क, सफारी, नेशनल पार्क, बायोलॉजिकल पार्क, चिड़ियाघर कल से खुल रहे हैं. राजधानी जयपुर में भी तीनों सफारी एक बार फिर शुरू हो रही हैं. हाथी गांव में हाथी सफारी, नाहरगढ़ में लॉयन सफारी और झालाना की विश्व प्रसिद्ध लेपर्ड सफारी पूरी तरह तैयार हैं. चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन अरिंदम तोमर ने केंद्र व राज्य सरकार की अनुमति मिलने के बाद प्रदेश के जंगलात को कल से पर्यटकों के लिए खोलने के आदेश जारी कर दिए हैं. केंद्र द्वारा जारी एसओपी के मुताबिक पर्यटक एक सख्त गाइडलाइन को फॉलो करते हुए नेशनल पार्क टाइगर पार्क और सफारी में प्रवेश कर सकते हैं.

टिकट दर में कोई बदलाव नहीं किया: 
रणथंभौर और सरिस्का सहित तमाम राष्ट्रीय उद्यान, टाइगर प्रोजेक्ट, बायोलॉजिकल पार्क और चिड़ियाघर में टिकट दर में कोई बदलाव नहीं किया है. पर्यटक अधिकतम 4 घंटे ही अंदर रह सकते हैं. इसके लिए भी मास्क लगाना जरूरी होगा, दस्ताने पहनने होंगे. एक ट्रैकिंग रजिस्टर भी मेंटेन किया जाएगा जिसमें सफारी संचालक गाइड और पर्यटक की तमाम डिटेल होगी. सैनिटाइजेशन और अन्य व्यवस्था भी पूरी तरह से चाक चौबंद रहेंगी. नेशनल पार्क को दोबारा शुरू किया जाने को लेकर सरिस्का फाउंडेशन के सचिव दिनेश दुर्रानी ने खुशी जाहिर की है और पर्यटकों से अपील की है कि वे गाइडलाइन को फॉलो करें ताकि पर्यटन तेजी से मुख्यधारा में आए. वहीं जयपुर चिड़ियाघर के डीसीएफ सुदर्शन शर्मा ने भी आज तमाम व्यवस्थाओं का जायजा लिया.

टूरिज्म इंडस्ट्री में एक बार फिर बूम आने की उम्मीद: 
करीब ढाई महीने बाद टाइगर रिजर्व नेशनल पार्क और तमाम जंगलात में होने वाली गतिविधियां शुरू होने से पर्यटन क्षेत्र को मजबूती मिलेगी. 1 जून से खुल रहे जंगलात को लेकर तमाम स्टेकहोल्डर्स में खुशी की लहर दौड़ गई है. दरअसल लॉक डाउन के चलते इस इंडस्ट्री को तकरीबन 10 करोड रूपए रोजाना का नुकसान उठाना पड़ रहा था. बहुत सारे जिप्सी संचालक, गाइड और होकर वेंडर अपनी रोजी-रोटी के लिए संघर्ष कर रहे थे. अब 8 जून से होटल रेस्टोरेंट खोलने को भी मंजूरी दे दी है. ऐसे में जंगलात से जुड़ी टूरिज्म इंडस्ट्री में एक बार फिर बूम आने की उम्मीद की जा रही है. हालांकि ऑफ सीजन के चलते अभी पर्यटकों की संख्या कम ही रहेगी. वैसे भी कोरोना संक्रमण में कोई उल्लेखनीय कमी नहीं आई है ऐसे में विदेशी पर्यटकों का आना तो अभी संभव नहीं ऐसे में पर्यटन उद्योग की नजरें घरेलू सैलानियों की तरफ है. दूसरी ओर वन्यजीव विशेषज्ञ टाइगर रिजर्व और जंगलात से जुड़ी पर्यटन गतिविधियां शुरू होने को लेकर उत्साहित हैं वन्यजीव विशेषज्ञ अनिल रोजर्स का कहना है कि पर्यटकों को सख्त गाइडलाइन का पालन करना होगा. इसके दो फायदे होंगे एक तो टाइगर रिजर्व सफारी और अन्य गतिविधियों में पर्यटकों का प्रवेश सीमित रहेगा. इससे ना तो वन्यजीवों को परेशानी होगी और ना ही महकमे को उनको नियंत्रित करने में मशक्कत करनी पड़ेगी. दूसरा सरकार को भी राजस्व मिलेगा इससे पर्यटन तेजी से मुख्यधारा में आएगा. झालाना लेपर्ड सफारी के रेंजर जनेश्वर सिंह का कहना है कि तमाम व्यवस्थाएं कर ली गई है पर्यटन शुरू होने से एक बार फिर हालात सामान्य होंगे इसका फायदा वन्य जीव और पर्यटन दोनों को होगा. 

UNLOCK-1: राजस्थान में होगी सार्वजनिक बस सेवा शुरू, कंटेनमेंट जोन को छोड़कर चलाई जाएगी बसें

देश में पर्यटन को शुरू करना निश्चित तौर पर स्वागत योग्य कदम:
कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि सामान्य जनजीवन की ओर बढ़ रहे देश में पर्यटन को शुरू करना निश्चित तौर पर स्वागत योग्य कदम है. कोरोना पर जीत के लिए जरूरी है कि गाइडलाइन को फॉलो करते हुए तेजी से मुख्यधारा की ओर बढ़ा जाए. इससे न केवल इस क्षेत्र से जुड़े लोगों का रोजगार बचेगा वरन सरकार को भी राजस्व मिलेगा. 

Lockdown 5.0: Unlock 1 होने का आगाज, राजस्थान में मिलेंगी कई तरह की छूट, ये अब भी बंद रहेंगे

Lockdown 5.0: Unlock 1 होने का आगाज, राजस्थान में मिलेंगी कई तरह की छूट, ये अब भी बंद रहेंगे

जयपुर: कोरोना वायरस के संकट के बीच आज देशभर के साथ राजस्थान में भी नई शुरुआत होने जा रही है. 24 मार्च से देश में जारी लॉकडाउन के आज पांचवें चरण की शुरुआत हो रही है, जिसे अनलॉक-1 का नाम दिया गया है. ऐसे में गहलोत सरकार ने भी रविवार को लॉकडाउन 5.0 को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी. सीएम गहलोत ने कहा कि प्रदेश में 1 जून से 30 जून तक लॉकडाउन 5.0 लागू होगा, लेकिन इस बार छूट का दायरा काफी बढ़ाया गया है. प्रदेश में रेड, ऑरेंज व ग्रीन जोन की श्रेणी को खत्म किया है. अब सिर्फ कंटेनमेंट जोन होगा. 

UNLOCK-1: राजस्थान में होगी सार्वजनिक बस सेवा शुरू, कंटेनमेंट जोन को छोड़कर चलाई जाएगी बसें

परकोटे में भी व्यापारिक गतिविधियां हो सकेगी:
ऐसे में कंटेनमेंट जोन को छोड़कर सभी जगह छूट दी गई है. हालांकि प्रदेश में इन सभी गतिविधियों पर रोक रहेगी, जिन्हें केंद्रीय गृह मंत्रालय ने नेगेटिव लिस्ट में रखा है. इसके साथ ही काफी लंबे समय से बंद परकोटे में भी व्यापारिक गतिविधियां हो सकेगी. वहीं  में अन्य राज्यों से आने-जाने के लिए प्रशासन की अनुमति की आवश्यकता अब नहीं है. अब वाहन में सिटिंग कैपिसिटी के अनुसार सवारी बैठाई जा सकेगी. प्रदेश में सरकारी व निजी कार्यालय अब पूरी क्षमता के साथ खुल सकेंगे. लेकिन वहीं अगले आदेश तक धार्मिक स्थल बंद रहेंगे.  

कर्फ्यू का समय भी अब रात 9 से सुबह 5 बजे तक किया: 
कर्फ्यू का समय भी सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे से घटाकर अब रात 9 से सुबह 5 बजे तक किया गया है. अब जयपुर शहर में 71 दिन बाद परकोटे में उन क्षेत्रों से कर्फ्यू हटा लिया जाएगा, जहां कोरोना के केस नहीं आ रहे हैं. हालांकि परकोटे में संकरी गलियों वाले 5 बाजार पुरोहितजी का कटला, घी वालों का रास्ता, लालजी सांड का रास्ता, दड़ा मार्केट व धूला हाउस अभी बंद रहेंगे. वहीं रामगंज में भी 23 कंटेनमेंट जोन रहेंगे. 

चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने प्रदेशवासियों से की अपील, तंबाकू,पान मसाला,अन्य व्यसनकारी पदार्थों को छोड़ने की अपील

अब किसी शहर में नहीं चलेगी सिटी बस:
लॉकडाउन 4.0 में सरकार ने ग्रीन जोन में सिटी बसें चलाने की छूट दी थी. संक्रमण फैलने की आशंका में अब कहीं नहीं चलेंगी. 

ये अब भी बंद रहेंगे:
सभी धार्मिक स्थल , स्कूल-कॉलेज , रेस्त्रां , जिम , सिनेमा हॉल , शॉपिंग मॉल , स्वीमिंग पूल ,एंटरटेनमेंट पार्क ,बार , ऑडिटोरियम , विदेशी उड़ानें और मेट्रो ट्रेन अब भी बंद रहेगी. 

जयपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट संचालन का सातवां दिन, कुल 8 फ्लाइट हुई संचालित, 12 रही रद्द

जयपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट संचालन का सातवां दिन, कुल 8 फ्लाइट हुई संचालित, 12 रही रद्द

जयपुर: जयपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट्स का संचालन शुरू हुए रविवार को 7 दिन हो चुके हैं. हालांकि फ्लाइट के संचालन की संख्या नहीं बढ़ पा रही है. रविवार को भी एयरपोर्ट से 20 फ्लाइट में से मात्र 8 फ्लाइट संचालित हुई. जबकि 12 फ्लाइट का संचालन निरस्त करना पड़ा. सर्वाधिक 6 फ्लाइट स्पाइसजेट एयरलाइन की रद्द हुई. इसके अलावा दूसरी सबसे ज्यादा फ्लाइट इंडिगो की रद्द रही.

फ्लाइट्स कम संख्या में संचालित: 
इंडिगो की कुल 6 फ्लाइट में से केवल 2 फ्लाइट संचालित हुई और 4 का संचालन रद्द करना पड़ा. यात्रीभार की कमी की वजह से फ्लाइट्स कम संख्या में संचालित हो रही हैं. रविवार को एयर इंडिया ने भी आगरा और दिल्ली की अपनी दो फ्लाइट रद्द कर दी. हालांकि सोमवार से फ्लाइट के संचालन में सुधार होने के संकेत हैं. सोमवार से कोलकाता की एकमात्र फ्लाइट भी नियमित रूप से संचालित होगी.

UNLOCK-1: राजस्थान में होगी सार्वजनिक बस सेवा शुरू, कंटेनमेंट जोन को छोड़कर चलाई जाएगी बसें

-जयपुर एयरपोर्ट से आज 12 फ्लाइट रद्द, मात्र 8 चल रहीं
-स्पाइसजेट की सुबह 5:45 बजे सूरत की फ्लाइट SG-2763 रद्द
-स्पाइसजेट की सुबह 7:20 बजे जालंधर की फ्लाइट SG-2750 रद्द
-इंडिगो की सुबह 6:40 बजे मुंबई की फ्लाइट 6E-218 हुई रद्द
-इंडिगो की सुबह 6:10 बजे बेंगलुरु की फ्लाइट 6E-839 रद्द
-एयर इंडिया की सुबह 7:35 बजे आगरा की फ्लाइट 9I-687 रद्द
-एयर इंडिया की सुबह 10:45 बजे दिल्ली की फ्लाइट 9I-844 रद्द
-इंडिगो की शाम 4:45 बजे कोलकाता की फ्लाइट 6E-6156 रद्द
-स्पाइसजेट की सुबह 8 बजे मुंबई की फ्लाइट SG-279 हुई रद्द
-स्पाइसजेट की सुबह 9:45 बजे उदयपुर की फ्लाइट SG-6632 रद्द
-स्पाइसजेट की दोपहर 2:15 बजे गुवाहाटी की फ्लाइट SG-448 रद्द
-इंडिगो की शाम 8:05 बजे हैदराबाद की फ्लाइट 6E-471 रद्द
-स्पाइसजेट की दोपहर 3:30 बजे की फ्लाइट SG-6636 रद्द

UNLOCK-1: यूपी सरकार की गाइडलाइंस जारी, 8 जून से सभी शॉपिंग मॉल और धार्मिक स्थलों को खोलने की मंजूरी

UNLOCK-1: यूपी सरकार की गाइडलाइंस जारी, 8 जून से सभी शॉपिंग मॉल और धार्मिक स्थलों को खोलने की मंजूरी

UNLOCK-1: यूपी सरकार की गाइडलाइंस जारी, 8 जून से सभी शॉपिंग मॉल और धार्मिक स्थलों को खोलने की मंजूरी

लखनऊ: अनलॉक-1 को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से नई गाइडलाइंस जारी की गई. 30 जून तक यूपी में अनलॉक-1 रहेगा.यूपी की योगी सरकार प्रदेश में 8 जून से धार्मिक स्थलों को सोशल डिस्टेंसिंग के सख्त पालन के साथ खोलने की अनुमति दी है. वहीं रेस्टोरेंट और शॉपिंग मॉल्स को खोलने को लेकर भी कुछ नियमों के साथ छूट दी गई है. केन्द्र सरकार की गाइडलाइन्स के मुताबिक कंटेनमेंट जोन में अब भी पूरी तरह से पाबंदी रहेगी, हालांकि बाकी जगहों पर धीरे-धीरे छूट दी जाएगी. 

अब जयपुर के प्रतापनगर RUHS और सांगानेरी गेट महिला अस्पताल में मिलेगा कोरोना का उपचार

धार्मिक स्थलों को भी खोलने की मंजूरी:
गाइडलाइंस के मुताबिक उत्तर प्रदेश में 8 जून से धार्मिक स्थलों को भी खोलने की मंजूरी दी गई है. लेकिन साथ ही यह बताया गया कि कंटेनमेंट जोन में किसी भी प्रकार की छूट नहीं दी जाएगी. सिर्फ जरूरी सेवाएं चालू रहेगी. 1 केस पर 250 मीटर,2 केस पर 500 मीटर कंटेनमेंट जोन घोषित है. 

यूपी में बाजार सुबह 9 से रात 9 बजे तक खुलेंगे:
गाइडलाइन के मुताबिक नोएडा और गाजियाबाद बॉर्डर पर डीएम फैसला लेंगे. जुलाई में स्कूल, कॉलेज खोलना प्रस्तावित बताया गया है. तीन शिफ्टों में सभी सरकारी दफ्तर खुलेंगे. यूपी में बाजार सुबह 9 से रात 9 बजे तक खुलेंगे.

UNLOCK-1: राजस्थान में होगी सार्वजनिक बस सेवा शुरू, कंटेनमेंट जोन को छोड़कर चलाई जाएगी बसें

चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने प्रदेशवासियों से की अपील, तंबाकू,पान मसाला,अन्य व्यसनकारी पदार्थों को छोड़ने की अपील

 चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने प्रदेशवासियों से की अपील, तंबाकू,पान मसाला,अन्य व्यसनकारी पदार्थों को छोड़ने की अपील

जयपुर: चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने प्रदेशवासियों से तंबाकू , पानमसाला एवं अन्य व्यसनकारी पदार्थों का सेवन त्याग कर स्वस्थ जीवन चुनने की अपील की है.डॉ शर्मा ने तम्बाकू निषेध दिवस के अवसर पर अपने संदेश में यह अपील की.उन्होंने प्रदेश वासियो से स्वयं तम्बाकू पदार्थो का सेवन छोड़ने के साथ ही अपने परिजनों , मित्रों एवं साथियों को भी तंबाकू एवं व्यसनकारी पदार्थों का सेवन नहीं करने के लिए प्रेरित करने का आग्रह किया है.

COVID-19: देश में पिछले 24 घंटों में सामने आए रिकॉर्ड 8380 केस, मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 5 हजार पार

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी आती कमी:
उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों के मुताबिक तंबाकू सेवन से गंभीर रोग होने की संभावना के साथ ही शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी आती है, जिससे कोरोना सहित अन्य संक्रमण होने की संभावना बढ़ सकती है.

टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 104 पर भी परामर्श सुविधाएं:
तंबाकू सेवन करने वाले व्यक्तियों के उपचार में भी जटिलता रहती है. डॉ शर्मा ने बताया कि तंबाकू पदार्थों के सेवन छोड़ने के लिए सभी जिला अस्पतालों में तंबाकू मुक्ति केंद्र संचालित किए जा रहे हैं. साथ ही टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 104 पर भी परामर्श सुविधाएं उपलब्ध है. 

शव के अंतिम संस्कार को लेकर बवाल, जलती चिता पर पानी डालकर पुलिस ने रोका अंतिम संस्कार

COVID-19: देश में पिछले 24 घंटों में सामने आए रिकॉर्ड 8380 केस, मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 5 हजार पार

COVID-19: देश में पिछले 24 घंटों में सामने आए रिकॉर्ड 8380 केस, मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 5 हजार पार

नई दिल्ली: देश में लगातार कोरोना वायरस का कहर बढता जा रहा है. जानलेवा कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में 193 लोगों की मौत हुई है. इसी के साथ देश में मरने वालों की संख्या 5 हजार पार पहुंच गई है. वहीं पिछले एक दिन में सबसे ज्यादा कोरोना के केस आये है. देश में कुल 8 हजार 380 नए केस सामने आए हैं. 

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 8 हजार 693 केस, पिछले 12 घंटे में सामने आये 76 पॉजिटिव, एक मरीज की मौत

देश में कुल एक लाख 82 हजार 143 मामले:
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अब तक एक लाख 82 हजार 143 मामले सामने आ चुके हैं. वहीं 5164 लोगों की मौत हो चुकी है. 86 हजार 984 लोग ठीक भी हुए हैं. भारत दुनिया में कोरोना वायरस से अब सबसे बुरी तरह से प्रभावित नौंवा देश है.

मरीजों के स्वस्थ होने की दर 47.40 फीसदी:
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले दोगुने होने के समय में सुधार हुआ है जो अब 13.3 दिन से बढ़कर 15.4 दिन हो गया है. वहीं देश में मरीजों के स्वस्थ होने की दर 47.40 फीसदी हो गई है.

रेडियो पर मन की बात: पीएम मोदी बोले, कोरोना संकट की सबसे बड़ी चोट गरीब मजदूर पर पड़ी, रेलवे ने लाखों श्रमिकों को घर पहुंचाया

Open Covid-19