प्रियंका गांधी बोलीं, देश-विदेश घूमने वाले प्रधानमंत्री किसानों से बात नहीं कर सकते

प्रियंका गांधी बोलीं, देश-विदेश घूमने वाले प्रधानमंत्री किसानों से बात नहीं कर सकते

प्रियंका गांधी बोलीं, देश-विदेश घूमने वाले प्रधानमंत्री किसानों से बात नहीं कर सकते

वाराणसी: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने लखीमपुर खीरी हिंसा और किसानों के आंदोलन को लेकर रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि देश-विदेश घूमने वाले प्रधानमंत्री अपने आवास से कुछ दूरी पर बैठे किसानों से बात नहीं कर सकते. प्रियंका गांधी ने "जय माता दी" के उद्घोष के साथ भाषण की शुरुआत की. उन्होंने सोनभद्र, उन्नाव, हाथरस की घटनाओं और कोरोना महामारी की दूसरी लहर के समय की स्थिति का उल्लेख करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधा. 

उन्होंने कहा कि इस देश में गृह राज्य मंत्री के बेटे ने किसानों को गाड़ी के नीचे कुचल दिया. लेकिन प्रशासन उसे बचाने में लगा रहा. कहीं ऐसा नहीं हुआ होगा कि हत्या के आरोपी को पुलिस निमंत्रण दे कि आपसे पूछताछ करनी है. प्रियंका गांधी ने दावा किया कि मुख्यमंत्री ने आरोपी का बचाव दिया. प्रधानमंत्री लखनऊ में उत्सव मनाने आये, लेकिन लखीमपुर खीरी तक नहीं जा सके. उन्होंने यह दावा किया कि इस सरकार की वजह से देश में लोग न्याय की उम्मीद छोड़ चुके हैं. 

उन्होंने सवाल किया कि अगर सरकार, प्रधानमंत्री, सभी मिले हुए हैं और किसानों की तरफ से मुंह मोड़ लें तो लोग क्या करें? प्रियंका ने किसान आंदोलन का उल्लेख करते हुए कहा कि जब तीनों कानून लागू होंगे तो किसानों की जमीन और फसल छीन ली जाएगी. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री अमेरिका जा सकते हैं, जापान जा सकते हैं, देश विदेश घूम सकते हैं, लेकिन अपने घर से 10 मिनट दूर बैठे किसानों से बात नहीं कर सकते. सोर्स- भाषा

और पढ़ें