प्रयागराज: प्रियंका गांधी ने मौनी अमावस्या पर गंगा में लगाई डुबकी, नाव चलाने का भी लिया आनंद

प्रयागराज: प्रियंका गांधी ने मौनी अमावस्या पर गंगा में लगाई डुबकी, नाव चलाने का भी लिया आनंद

प्रयागराज: प्रियंका गांधी ने मौनी अमावस्या पर गंगा में लगाई डुबकी, नाव चलाने का भी लिया आनंद

प्रयागराज: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को नैनी स्थित अरैल घाट पर मौनी अमावस्या के शुभ अवसर पर गंगा में डुबकी लगाई और स्नान के बाद पूजा अर्चना की. इसके अलावा उन्होंने द्वारिका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती से आशीर्वाद लिया. कांग्रेस के एक नेता ने इसकी जानकारी दी.

Image

प्रियंका गांधी ने गंगा में जमकर स्नान किया और नाव चलाने का भी आनंद लिया:
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने ‘पीटीआई भाषा’ को बताया, ‘‘प्रियंका गांधी ने गंगा में जमकर स्नान किया और नाव चलाने का भी आनंद लिया. उन्होंने स्नान के बाद पूजा अर्चना की. गांधी के साथ उनकी बेटी और बेटी की सहेली भी थी.’’ तिवारी ने बताया कि प्रियंका आज दिन में 12 बजे बम्हरौली हवाई अड्डा पहुंची जहां से वह सीधे स्वराज भवन गयीं. उन्होंने बताया कि स्वराज भवन में करीब एक घंटा बिताने के बाद प्रियंका गंगा में स्नान के लिए अरैल घाट रवाना हो गयीं.

Image

मनकामेश्वर मंदिर स्थित शंकराचार्य के आवास पर पहुंचीं: 
उन्होंने बताया कि गंगा स्नान के बाद कांग्रेस महासचिव मनकामेश्वर मंदिर स्थित शंकराचार्य के आवास पर पहुंचीं जहां उन्होंने स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती से आशीर्वाद लिया और प्रसाद ग्रहण किया. जगद्गुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती से भेंट के बाद प्रियंका गांधी ने संवाददाताओं को बताया, "आज यहां आकर बहुत खुशी हुई क्योंकि शंकराचार्य जी और हमारे परिवार के बीच बहुत पुराना रिश्ता है. मैं हमेशा उनके संपर्क में रहती हूं और आज उनसे मिलने का मौका मिला, इसलिए बहुत खुशी हुई."

Image

हेलीकाप्टर से श्रद्धालुओं पर पुष्प वर्षा की:
इस बीच, मौनी अमावस्या स्नान पर जिला प्रशासन ने हेलीकाप्टर से श्रद्धालुओं पर पुष्प वर्षा की. इस बारे में पूछे जाने पर प्रियंका गांधी ने कहा, “मैंने नहीं देखी”. तिवारी ने बताया कि शंकराचार्य से भेंट के बाद प्रियंका गांधी दिल्ली के लिए रवाना हो गईं. उन्होंने बताया कि यह प्रियंका गांधी की निजी यात्रा थी. सोर्स- भाषा

और पढ़ें