close ads


नए कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन, अंबाला से हरियाणा सीमा में दाखिल हुए किसान, पुलिस पर पथराव, हुआ लाठीचार्ज

 नए कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन, अंबाला से हरियाणा सीमा में दाखिल हुए किसान, पुलिस पर पथराव, हुआ लाठीचार्ज

नई दिल्ली: नए कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी हैं. किसान अंबाला से हरियाणा सीमा में दाखिल हुए. अंबाला-पटियाला बॉर्डर पर किसानों ने बैरिकेड तोड़ दिए हैं. पुलिस ने किसानों पर पानी की बौछार, आंसू गैस के गोले छोड़े गए हैं. उग्र हुए किसानों ने पुलिस पर पथराव शुरू किया. आपको बता दें कि दिल्ली कूच कर रहे किसानों का प्रदर्शन अंबाला-पटियाला बॉर्डर पर आक्रामक होता नजर आ रहा हैं. यहां किसानों ने पुलिस द्वारा लगाएं गए बैरिकेडिंग को उखाड़ फेंका है, जिसके बाद किसानों पर पानी की बौछार की जा रही है, आंसू गैस के गोले छोड़े गए हैं. 

Image

किसानों के प्रदर्शन की वजह से मेट्रो बंद:
किसानों के प्रदर्शन के कारण मेट्रो को भी बंद रखा गया है.अंबाला पटियाला बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस ने कुछ ट्रकों को खड़ा किया है, ताकि किसान आगे ना आ सके. लेकिन अब किसानों ने उसी ट्रक को तोड़ना शुरू कर दिया और धक्का देकर आगे किया जा रहा है. जिसके बाद पुलिस ने फिर आंसू गैस के गोले छोड़े हैं और पानी की बौछार की जा रही है. 

किसानों और पुलिस में टकराव जारी:
किसानों की ओर से पुलिस पर पथराव किया गया है. अंबाला पटियाला बॉर्डर पर किसानों और पुलिस में टकराव जारी है. किसानों ने जबरन हरियाणा सीमा में प्रवेश कर लिया है, जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया है. किसान अब अपने ट्रैक्टर पर चढ़कर जबरन आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं और लगातार नारेबाजी कर रहे हैं.

Image

शांतिपूर्ण प्रदर्शन उनका संवैधानिक अधिकार है:
किसानों के प्रदर्शन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया है. केंद्र सरकार के तीनों खेती बिल किसान विरोधी हैं. ये बिल वापिस लेने की बजाय किसानों को शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने से रोका जा रहा है, उन पर वॉटर कैनन चलाई जा रही हैं. किसानों पर ये जुर्म बिलकुल गलत है, शांतिपूर्ण प्रदर्शन उनका संवैधानिक अधिकार है.

और पढ़ें