Whatsapp बढ़ा रहा ग्राहकों की सुरक्षा: चैट बैकअप के लिये एंड-टू-एंड कूटलेखन का देगा विकल्प

Whatsapp बढ़ा रहा ग्राहकों की सुरक्षा: चैट बैकअप के लिये एंड-टू-एंड कूटलेखन का देगा विकल्प

Whatsapp बढ़ा रहा ग्राहकों की सुरक्षा: चैट बैकअप के लिये एंड-टू-एंड कूटलेखन का देगा विकल्प

नई दिल्ली: व्हाट्सएप ने शुक्रवार को कहा कि वह अपने उपयोगकर्ताओं को एंड-टू-एंड कूटलेखन के तहत बातचीत का बैकअप रखने की सुविधा देगा.  इस कदम से केवल उपयोगकर्ता ही अपनी बातचीत के रिकार्ड को देख सकेंगे और किसी तीसरे की वहां तक पहुंच नहीं होगी. 

एंड-टू-एंड कूटलेखन से दरअसल यह सुनिश्चित किया जाता है कि संदेश और कॉल सिर्फ़ बात करने वालों के बीच में रहे और कोई भी अन्य पक्ष उन्हें पढ़, सुन और देख न पाए. व्हाट्सएप पर यह सुविधा एप्पल के आईओएस और एंड्राइड फोन पर आने वाले हफ़्तों में उपलब्ध हो जायेगी. व्हाट्सएप के वैश्विक स्तर पर दो अरब उपयोगकर्ता है.

व्हाट्सएप के देश में 53 करोड़ उपयोगकर्ता:
भारत व्हाट्सएप इस्तेमाल करने के मामले में फेसबुक द्वारा खरीदी गई कंपनी के सबसे बड़े बाजारों में से एक है. इस साल की शुरुआत में सरकार द्वारा बताये गए आंकड़ों के अनुसार कंपनी के देश में 53 करोड़ उपयोगकर्ता हैं. यह एक महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है, क्योंकि वर्तमान में व्हाट्सएप एनरोइड मोबााइल फोन में बैकअप रखने के लिए गूगल ड्राइव का इस्तेमाल करता है और बैकअप एंड-टू-एंड कूटलेखन भी नहीं होते है, जिससे कोई दूसरा इन्हें हासिल कर सकता है

व्हाट्सएप में गोपनीयता की सुरक्षा बढ़ाई जा रही:
इस चुनौती को हल करने के लिए व्हाट्सएप एक ऐसे फीचर पर काम कर रहा है जो बैकअप को एंड-टू-एंड कूटलेखन कर देगा. फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने शुक्रवार को कहा कि व्हाट्सएप में गोपनीयता और सुरक्षा की एक और परत जोड़ी जा रही है, जिसमें बैकअप के लिए एंड-टू-एंड कूटलेखन विकल्प है, जिसे लोग गूगल ड्राइव या आईक्लाउड में जमा करना चुनते हैं. सोर्स-भाषा

और पढ़ें