कोरोना के बीच जनहित याचिका सस्ती लोकप्रियता का हिस्सा- महाधिवक्ता

कोरोना के बीच जनहित याचिका सस्ती लोकप्रियता का हिस्सा- महाधिवक्ता

कोरोना के बीच जनहित याचिका सस्ती लोकप्रियता का हिस्सा- महाधिवक्ता

जयपुर: राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलो के बीच लॉकडाउन की पालना और आम जनता को राहत पहुंचाने में जुटी राज्य सरकार राजस्थान हाईकोर्ट में दायर जनहित याचिकाओं से परेशान है. लॉकडाउन के बाद दायर हो रही जनहित याचिकाओं को लेकर राज्य सरकार ने हाईकोर्ट में अपना पक्ष रखा है. महाधिवक्ता एम एस सिंघवी ने सोमवार को एक जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान अदालत से कहा कि राज्य सरकार कोरोना के संक्रमण से बचाव के कवायद में जुटी है. 

राज्य में पैरामिलिट्री फोर्स तैनात करना राज्य सरकार की पॉलिसी डीसीजन- हाईकोर्ट 

कोरोना वॉरियर्स लगातार जान जोखिम में डालकर आम जनता को बचा रहे: 
देश में सबसे पहले लॉकडाउन करने से लेकर हर स्तर पर प्रशासन और पुलिस दिन रात मुश्तैदी से कार्य कर रहे है. यहां तक कि कोरोना वॉरियर्स लगातार जान जोखिम में डालकर आम जनता को बचा रहे हैं. लेकिन इस बीच हाईकोर्ट में सिर्फ एक पत्र लिखकर जनहित याचिका दायर करने से सरकार के सामने मुश्किलें खड़ी हो रही है. कई मामलो में जनहित याचिकाए दायर करने से पूर्व ये तक नही देखा जा रहा कि जिस मामले को लेकर याचिका दायर कि गयी है उसमें क्या कवायद हो चुकी है. क्या वे मामले जनहित याचिका के तहत आते भी है या नही. महाधिवक्ता ने अदालत से कहा कि सस्ती लोकप्रियता के लिए जनहित याचिका दायर कि गयी है. इसलिए ऐसी जनहित याचिकाओ को कोस्ट के साथ खारिज कि जानी चाहिए. 

मनरेगा में बढ़ी मजदूरी, मजदूरी दर ढ़ाकर 220 रूपये प्रतिदिन की गई- सचिन पायलट  

करीब आधा दर्जन याचिकाओं को हाईकोर्ट ने निस्तारित किया:
वहीं महाधिवक्ता द्वारा रखे गये इस पक्ष के बाद सुनवाई के लिए सूचीबद्ध करीब आधा दर्जन याचिकाओं को हाईकोर्ट ने निस्तारित किया है. मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति और जस्टिस सतीश शर्मा की खण्डपीठ ने पॉलिसी डिसीजन से जुड़ी याचिकाओं को खारिज कर दिया है. वही कुछ मामलो में सरकार को ये कहते निर्देश देने से इंकार किया कि सरकार कोरोना को लेकर उचित कदम उठा रही है. 

1 रामगंज सहित प्रदेश कोरोना के हॉटस्पाट इलाको में पैरामिलिट्री फोर्स तैनात करने से जुड़ी तनवीर अहमद की याचिका को किया खारिज.
2 लॉकडाउन के बीच सीनियर सीटीजन को मेडीकल सुविधाए उपलब्ध कराने को लेकर शॅलिनी शेरोन की जनहित याचिका को किया खारिज.
3 लॉकडाउन से हुए नुकसान के चलते विभिन्न् वर्ग को आर्थिक पैकेज देने की मांग को लेकर दायर डॉ दशरथ कुमार हिनुनिया की जनहित याचिका खारिज. 
4 राज्य के हजारो जरूरतमंद अधिवक्ताओं को आर्थिक सहायता को लेकर दायर डॉ महेश शर्मा की जनहित याचिका निस्तारित. 
5 राज्य में तंबाकू उत्पादो, गुटखे पर प्रतिबंध को लेकर एडवोकेट राजीव भूषण बंसल की जनहित याचिका को किया खारिज. 
6 कोरोना वॉरियर्स को सुरक्षा उपलब्ध कराने को लेकर एडवोकेट शॉलिनी शेरोन की जनहित याचिका को किया निस्तारित. 
7 लॉकडाउन के बीच अधिवक्ता को रोकने को लेकर दायर आशीष देवेसर की जनहित याचिका को किया निस्तारित. 
 

और पढ़ें