नई दिल्ली कांग्रेस ने पंजाब के लिए 86 उम्मीदवार घोषित किए, चमकौर साहिब से चुनाव लड़ेंगे चन्नी

कांग्रेस ने पंजाब के लिए 86 उम्मीदवार घोषित किए, चमकौर साहिब से चुनाव लड़ेंगे चन्नी

कांग्रेस ने पंजाब के लिए 86 उम्मीदवार घोषित किए, चमकौर साहिब से चुनाव लड़ेंगे चन्नी

नई दिल्ली: कांग्रेस ने पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को 86 उम्मीदवारों की अपनी पहली सूची जारी की. इसमें मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू, उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा और ओ पी सोनी समेत कई वरिष्ठ नेताओं के नाम शामिल हैं. मुख्यमंत्री चन्नी चमकौर साहिब से एक बार फिर चुनाव लड़ेंगे. वह रूपनगर जिले की इस सीट से साल 2007 से लगातार विधायक हैं.

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सिद्धू को एक बार फिर से उनके मौजूदा विधानसभा क्षेत्र अमृतसर पूर्व से उम्मीदवार बनाया गया है. वह साल 2017 में इस सीट से निर्वाचित हुए थे. साल 2012 में उनकी पत्नी नवजोत कौर ने इस सीट पर भाजपा के उम्मीदवार के तौर पर जीत हासिल की थी. चन्नी के नेतृत्व वाली सरकार में शामिल दोनों उप मुख्यमंत्रियों को उनकी वर्तमान सीट से ही टिकट दिया गया है. रंधावा डेरा बाबा नानक और सोनी अमृतसर मध्य से ही चुनाव लड़ेंगे.

कांग्रेस ने चार मौजूदा विधायकों को टिकट नहीं दिया है जिनमें बलविंदर सिंह लड्डी भी शामिल है जो पिछले दिनों भाजपा में शामिल होने के छह दिन के भीतर ही पार्टी में वापस आ गए थे. पार्टी ने लड्डी के अलावा मोगा से विधायक हरजोत कमल सिंह, बलुआना से विधायक नाथू राम और मालौट से विधायक और विधानसभा उपाध्यक्ष अजायब सिंह भट्टी के टिकट काटे गए हैं.कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में इन नामों को स्वीकृति प्रदान की गई.

 

पंजाब के लिए जारी कांग्रेस 86 उम्मीदवारों की इस सूची में नौ महिला उम्मीदवार शामिल हैं. यानी महिलाओं को करीब 10 प्रतिशत प्रतिनिधित्व मिला है. हालांकि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने 40 प्रतिशत टिकट महिलाओं को दिए हैं. कांग्रेस ने पंजाब में टिकट वितरण में एक परिवार, एक टिकट का फार्मूला अपनाया है.प्रदेश में कांग्रेस की चुनाव अभियान समिति के प्रमुख सुनील जाखड़ चुनाव नहीं लड़ेंगे. फाजिल्का जिले के अबोहर विधानसभा क्षेत्र से उनके भतीजे संदीप जाखड़ को टिकट दिया गया है. सुनील जाखड़ इस सीट से 2002 से 2017 तक विधायक रहे हैं.

राज्य में पार्टी के वरिष्ठ नेता और मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा भी इस बार चुनाव नहीं लड़ रहे हैं. उनकी मौजूदा सीट पटियाला ग्रामीण से उनके पुत्र मोहित मोहिंद्रा को टिकट दिया है. कुछ महीने पहले तक 75 वर्षीय ब्रह्म मोहिंद्रा पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के सबसे करीबी लोगों में गिने जाते थे और उनके नेतृत्व वाली सरकार में बेहद कद्दावर मंत्री का रुतबा रखते थे.

सरकार के अन्य वरिष्ठ मंत्री अपने-अपने क्षेत्रों से ही चुनाव लड़ रहे हैं. वित्त मंत्री मनप्रीत बादल बठिंडा (शहर) से, लोक निर्माण मंत्री विजय इंदर सिंगला संगरूर से, जल आपूर्ति मंत्री रजिया सुल्ताना मलेरकोटला से, उद्योग मंत्री गुरकीरत सिंह कोटली, खन्ना से चुनाव लड़ेंगे.इसी तरह, राणा गुरजीत सिंह कपूरथला विधानसभा क्षेत्र और राजकुमार वेरका अमतृसर पश्चिम से कांग्रेस उम्मीदवार होंगे.पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा कादियान से चुनाव लड़ेंगे. इस सीट से पिछली बार बाजवा के भाई फतेहजंग सिंह बाजवा निर्वाचित हुए थे जो अब भाजपा में शामिल हो चुके हैं.

पूर्व उप मुख्यमंत्री रजिंदर कौर भट्टल को संगरूर जिले की लेहरा विधानसभा सीट से लड़ेंगी जहां वह पिछली बार हार गई थीं. हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुईं मालविका सूद मोगा से पार्टी की उम्मीदवार होंगी. वह अभिनेता सोनू सूद की बहन हैं. कांग्रेस ने इस सीट से अपने वर्तमान विधायक हरजोत सिंह कमल का टिकट काटकर मालविका को चुनावी मैदान में उतारा है. कांग्रेस ने मशहूर पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला को मानसा से उम्मीदवार बनाया है. प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष बरिंदर सिंह ढिल्लन को रूप नगर से टिकट दिया गया है. गौरतलब है कि पंजाब की सभी 117 विधानसभा सीटों के लिए 14 फरवरी को मतदान होना है. 10 मार्च को मतगणना होगी. (भाषा) 

और पढ़ें