RBSE 12th Result 2020: राजस्थान बोर्ड ने जारी किया 12वीं साइंस का परिणाम, 91.96 प्रतिशत छात्र हुए पास

RBSE 12th Result 2020: राजस्थान बोर्ड ने जारी किया 12वीं साइंस का परिणाम, 91.96 प्रतिशत छात्र हुए पास

जयपुर: राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Rajasthan Board Result 2020) का पहला नतीजा जारी हो गया है. यह रिजल्ट 12वी विज्ञान वर्ग का है. शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बोर्ड दफ्तर में रिजल्ट जारी किया है. इस बार 2,18,232 अभ्यर्थी उत्तीर्ण रहे. इसमें 1,47,171 छात्र और 71,061 छात्राएं उत्तीर्ण हुई है. ऐसे में इस बार परीक्षा परिणाम 91.96 प्रतिशत रहा. बोर्ड की 12वीं विज्ञान में 2 लाख 39 हजार 800 परीक्षार्थी रजिस्टर्ड हुए थे. उनमें से 2,37,305 छात्रों ने परीक्षा दी थी. छात्रों परीक्षा का परिणाम बोर्ड की वेबसाइट http://www.rajeduboard.rajasthan.gov.in/ पर देखा जा सकता है. 

मुख्यमंत्री गहलोत की राज्यपाल से मुलाकात ने बढ़ाई राजनीति की धड़कनें, मंत्रिमंडल फेरबदल की सुगबुगाहट तेज ! 

18-19 जून को हुई परीक्षा पूरी:
12वीं विज्ञान वर्ग की परीक्षाएं 5 मार्च 2020 से शुरू हुई थी, लेकिन बीच में कोरोना संक्रमण के चलते परीक्षाएं स्थगित कर दी गई थीं. इसके बाद बोर्ड ने 12वीं विज्ञान वर्ग की शेष परीक्षाओं का आयोजन 18 और 19 जून को किया. करीब एक पखवाड़े में बोर्ड यह परिणाम घोषित करने जा रहा है. 

बोर्ड पहले केवल 12वीं साइंस का रिजल्ट जारी किया: 
पिछले 3-4 बरसों से राजस्थान बोर्ड की परंपरा रही है कि 12वीं साइंस और कॉमर्स का परिणाम एक साथ आता रहा है. लेकिन इस बार दोनों को अलग-अलग कर दिया गया है. इस बार बोर्ड पहले केवल 12वीं साइंस का रिजल्ट जारी किया है. इसके बाद 12वीं कॉमर्स का परिणाम घोषित होगा. फिर 12वीं कला संकाय का परिणाम आयेगा. सबसे अंत में 10वीं का परिणाम जारी होगा. जुलाई के अंत तक सभी परिणाम जारी होने की संभावना है.

VIDEO: अजमेर में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में सत्ता का रुतबा!...दादागिरी के साथ पहुंचे जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय 

पिछले साल 92.88 फीसदी रहा था परिणाम: 
साल 2019 की 12वीं विज्ञान की परीक्षा में कुल 2 लाख 60 हजार 582 विद्यार्थी पंजीकृत थे. इनमें से 78 हजार 542 छात्राएं थी तो 1 लाख 82 हजार 40 छात्र थे. परिणाम प्रतिशत की बात करें तो कुल परिणाम 92.88 फीसदी था, जबकि छात्राओं का पास प्रतिशत इससे कहीं ज्यादा 95.86 था, वहीं छात्रों का 91.59 फीसदी था. 

और पढ़ें