REET-2021: बोर्ड ने अभ्यर्थियों को दिया 2 दिन का समय, जानिए परीक्षा से जुड़ी हर छोटी-बड़ी जानकारी

REET-2021: बोर्ड ने अभ्यर्थियों को दिया 2 दिन का समय, जानिए परीक्षा से जुड़ी हर छोटी-बड़ी जानकारी

अजमेर: राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के द्वारा आयोजित करवाई जा रही रीट परीक्षा 2021 के प्रवेश पत्र बोर्ड के द्वारा उपलोड कर दिए गए थे लेकिन कुछ परीक्षार्थियों के प्रवेश पत्रों में कई तरह की गलतिया आने से परीक्षार्थियों में हड़कंप सा मच गया. वहीं बोर्ड अध्यक्ष डॉ डीपी जारोली के द्वारा आज एक प्रेसवार्ता कर परीक्षा प्रवेश पत्र में लगातार मिल रही गलतियों की शिकायत के बाद गलतियां करने वाले परीक्षार्थियों पर अपनी नाराजगी व्यक्त की साथ ही भाषा, फोटो व जेंडर में संसोधन  के लिए 21 सितंबर शाम 6:00 बजे तक का समय दिया गया है. 

वो परीक्षार्थी जिनके फॉर्म में भी त्रुटियां हुई है उन्हें बोर्ड के द्वारा एक मौका और दिया गया है और ऑनलाइन फिर से संशोधन आवेदन कर सकते हैं जिन्हें जल्द दूर किया जाएगा. साथ ही प्रसूता और दिव्यांग जनों को भी राहत दी जाएगी. उन्होंने कहा कि परीक्षा केंद्रों को लेकर पहले ही महिलाओं को प्राथमिकता देते हुए मेरिट पर रखा गया था लेकिन फिर भी परीक्षा केंद्र की कमी के चलते उन्हें नजदीकी जिले के अंदर जिन केंद्रों पर जगह थी वहां उन्हें केंद्र आवंटित किया गया. 

बोर्ड अध्यक्ष जारोली ने कहा कि शिक्षक बनने जा रहे अभ्यर्थियों ने फॉर्म में कई गलतियां भरी है जिसके कारण समस्याएं उत्पन्न हुई है पर अब उन्हें 2 दिन का और समय दिया गया है जिससे कि वह अपनी गलतियों को सुधार सके. उन्होंने बताया कि विषय आधारित व अन्य सामान्य गलतियों को परीक्षा के बाद 10 दिन के भीतर सही कर दिया जाएगा. बोर्ड अध्यक्ष ने यह भी बताया कि कुछ अभ्यर्थियों के द्वारा एक से अधिक फॉर्म भरे गए है ऐसे करीब 44000 फॉर्म है जो एक से अधिक भरे हुए है. ऐसे में उनके लिए समस्या उत्पन्न हो सकती है. 

उन्होंने कहा कि केवल भाषा संबंधी व फोटो, जेंडर संबंधी संशोधन परीक्षा पूर्व होना आवश्यक था जो परीक्षा के द्वारा समय रहते नहीं करवाया गया. फिर भी परीक्षार्थियों को उनके हित में केवल 2 दिवस का समय देते हुए वेबसाइट पर अपना प्रवेश पत्र तथा सुधार संबंधी सूचना अपलोड किए जाने का अंतिम अवसर दिया जा रहा है. इसकी समय सीमा दिनांक 21 सितंबर 2021 तक है अन्य संशोधन परीक्षा पश्चात 10 दिन में परीक्षार्थी पूर्व की भांति करवा सकेगा. 

नेटबन्दी को लेकर के भी फैसला किया जा रहा:
वहीं ट्रांसपोर्टेशन को लेकर बोर्ड अध्यक्ष ने कहा कि सिर्फ 6 लाख परीक्षार्थियों को ही ट्रांसपोर्ट की आवयश्कता हो सकती है इनमे से 2 लाख 70 हज़ार परीक्षार्थी दूसरे राज्य के हैं. बाकी परीक्षार्थियों को किसी तरह की कोई दिक्कतें नहीं होगी इसके लिए पर्याप्त व्यवस्था की गई है. वहीं रेस्मा लागू करने को लेकर भी उन्होंने सरकार के इस फैसले को बढ़िया बताया और कुछ कहने से मना कर दिया. वहीं बोर्ड अध्यक्ष ने कहा कि नेटबन्दी को लेकर के भी फैसला किया जा रहा है कि किस जगह पर यह कि जाए और किस जगह पर नही. वहीं बोर्ड के द्वारा सभी तैयारियों को पूरा कर लिया गया और अब किसी तरह के कोई अन्य संसोधन नही किये जायेंगे. 

संशोधन कराने वाले अभ्यर्थियों को अपना आधार कार्ड और मोबाइल नंबर डालने होंगे:
गौरतलब हो कि 26 सितंबर को राजस्थान में रीट परीक्षा का आयोजन होगा जिसमें दो पारियों में 25 लाख से अधिक परीक्षार्थी बैठेंगे. संशोधन कराने वाले अभ्यर्थियों को अपना आधार कार्ड और मोबाइल नंबर डालने होंगे जिससे कि उनसे संपर्क कर गलतियों को सुधारा जा सके. साथ ही बोर्ड के द्वारा आज शाम से ही रीट परीक्षा को लेकर कंट्रोल रूम भी शुरू कर दिया जाएगा जिससे जिस भी छात्र को कोई समस्या हो तो वह संपर्क कर सकता है.

और पढ़ें