जयपुर REET परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले में डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने प्रेस वार्ता कर कहा- बाड़ ही खा रही खेत, SOG दोषियों को बचा रही

REET परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले में डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने प्रेस वार्ता कर कहा- बाड़ ही खा रही खेत, SOG दोषियों को बचा रही

REET परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले में डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने प्रेस वार्ता कर कहा- बाड़ ही खा रही खेत, SOG दोषियों को बचा रही

जयपुर: रीट परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले में राज्यसभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने आज प्रेस वार्ता कर कहा कि मैंने दो बार तथ्य पेश किए थे तब सरकार ने कहा था कि परीक्षा निरस्त होगी. अब सबसे बड़ी जांच एजेंसी SOG ने स्वीकार किया है कि पेपर शिक्षा संकुल से लीक हुआ है. रामकृपाल मीणा और डॉ.प्रदीप पाराशर एक दूसरे से मिले हुए है. प्राइवेट आदमी को डिस्ट्रिक्ट कॉर्डिनेटर बनाया था. अब रामकृपाल पकड़ा गया है तो बाकी के 2 कर्मचारियों को भी पकड़ा जाए. 

इसके साथ ही डॉ मीणा ने कहा कि बोर्ड अध्यक्ष जारोली और प्रदीप पाराशर शिक्षा संकुल में एक साथ थे. जहां से मेरा आरोप है कि वहीं से पेपर लीक हुआ है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के बड़े कैबिनेट मंत्री और ब्यूरोक्रेट ने मिलकर पेपर छपाई का ठेका दिलवाया. उसी समय के शिक्षा मंत्री और ब्यूरोक्रेट में पैसे का भी बंटवारा हुआ है. लेकिन ये लोग बोर्ड चेयरमैन और प्रदीप पाराशर से आगे नहीं बढ़ेंगे. SOG निर्दोषों को गिरफ्तार कर रही है और दोषियों को बचा रही है. मोहन पोसवाल और नाथू कांस्टेबल ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया जिसमें 2 लोग निर्दोष थे. 

5 हजार लोगों तक पेपर पहुंचने का आरोप लगाया:  
इससे आगे डॉ.किरोड़ी लाल मीणा ने पूनम यादव का जिक्र करते हुए कहा कि SOG के एक सीआई ने बड़ी लेनदेन की है. भजनलाल तो राजनीतिक दल और मेरे प्रेशर में पकड़ा गया. सवाईमाधोपुर के विजय राज चौधरी की पत्नी तक पेपर पहुंचा है. इसके साथ ही उन्होंने करीब 5 हजार लोगों तक पेपर पहुंचने का आरोप लगाया है. इससे आगे बोलते हुए डॉ मीणा ने कहा कि थाली में ही छेद है, बाड़ ही खेत को खा रही है. SOG ही पक्षपातपूर्ण कार्रवाई कर रही है. अब SOG से भरोसा नहीं है. ऐसे में मांग है कि जांच CBI से कराई जाए. अभी तक जारोली और प्रदीप पाराशर से पूछताछ नहीं हुई है. 

और पढ़ें