जयपुर पहले RPSC, फिर अधीनस्थ बोर्ड, अब शिक्षा बोर्ड ! शिक्षा बोर्ड चेयरमैन डीपी जारोली होंगे बर्खास्त

पहले RPSC, फिर अधीनस्थ बोर्ड, अब शिक्षा बोर्ड ! शिक्षा बोर्ड चेयरमैन डीपी जारोली होंगे बर्खास्त

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हाईलेवल बैठक बुलाकर रीट पेपर लीक मामले में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष डीपी जारौली को बर्खास्त करने का फैसला किया है. ऐसे में फर्स्ट इंडिया की खबर पर फिर मुहर लगी है. कल दिन में ही फर्स्ट इंडिया ने जारोली के खिलाफ कार्रवाई के संकेत दिए थे और देर रात मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फैसला कर दिया. इस फैसले से मुख्यमंत्री ने एक बार फिर साबित किया कि सिस्टम को सुधारने के लिए कड़े फैसले लेने से हिचकिचाहट नहीं है. 

रीट भर्ती परीक्षा पेपर आउट प्रकरण में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में देर रात हाई पावर कमेटी की बैठक हुई. इस दौरान तीन बड़े निर्णय लिए गए. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डीपी जारोली को बर्खास्त किया जाएगा. इसके साथ ही रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में कमेटी बनाई जाएगी. यह कमेटी भविष्य में होने वाली परीक्षाओं में गड़बड़ी को रोकने की दिशा में काम करेगी. 

कमेटी परीक्षाओं में गड़बड़ी को लेकर रिपोर्ट तैयार करेगी. जो भी अधिकारी-कर्मचारी इसमें लिप्त पाए जाएंगे उनको सस्पेंड किया जाएगा. बाद में दोषी पाए जाने पर उन्हें बर्खास्त किया जाएगा. बैठक में उच्च शिक्षा मंत्री राजेंद्र यादव, शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला मौजूद रहे. प्रिंसिपल सेक्रेटरी कुलदीप रांका, ACS होम, DGP भी मौजूद रहे. 

सीएम गहलोत ने कहा- अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जाएगी
आपको बता दें कि बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में कोई अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जाएगी. जिन परीक्षाओं में लाखों बच्चे बैठते हैं, उनमें अनियमितताओं के कारण देरी होने से अभ्यर्थी और उनके परिजन हतोत्साहित होते हैं. उन्होंने कहा कि भविष्य में प्रतियोगी परीक्षाओं को लेकर किसी भी स्तर पर हुई अनियमितता या लापरवाही पर सरकार जिम्मेदारों के खिलाफ सख्त फैसले लेगी. रीट मामले की जांच में जिन भी अधिकारियों-कर्मचारियों की संलिप्तता पाई जाएगी उन्हें तत्काल सस्पेंड किया जाएगा, आरोप साबित होने पर बर्खास्त किया जाएगा. 

SOG ADG अशोक राठौड़ ने कहा- जिनकी भूमिका निकलेगी उन्हें नहीं छोड़ेंगे
वहीं रीट पेपर लीक प्रकरण में SOG ADG अशोक राठौड़ ने कहा कि जांच जारी है, ऐसे में जिनकी भूमिका निकलेगी उन्हें नहीं छोड़ेंगे. जारोली और प्रदीप राराशर को लेकर बोलते हुए राठौड़ ने कहा कि हमने रिकॉर्ड लिया है, एक-दो दिन में स्थिति स्पष्ट हो जाएगी. स्ट्रॉन्ग रूम में जिनकी ड्यूटी लगी थी उन सभी की डिटेल मांगी थी. ऐसे में अन्य लोगों की भूमिका पर टेल एंड तक जांच कर रहे हैं. 

और पढ़ें