प्रदेश में पर्याप्त ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार प्रयासरतः डॉ.रघु शर्मा 

प्रदेश में पर्याप्त ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार प्रयासरतः डॉ.रघु शर्मा 

प्रदेश में पर्याप्त ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार प्रयासरतः डॉ.रघु शर्मा 

जयपुरः राजस्थान के चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने कहा है कि कोरोना मरीजों को पर्याप्त ऑक्सीजन उपलब्ध करवाने के लिए राज्य सरकार पूरजोर तरीके से प्रयास कर रही है. उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता का जीवन बचाने के लिए सरकार कृत संकल्पित है. चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा मंगलवार को प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ती से जुड़े मुद्दों पर अधिकारियों से फीडबैक ले रहे थे.

राज्य में कुल 54000 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्धः
चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन और टैंकर्स की उपलब्धता को लेकर सरकार हर संभव प्रयास कर रही है और कोरोना मरीजों को पर्याप्त ऑक्सीजन उपलब्ध हो इसके लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि राज्य में कुल 54000 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध है जिनमें मेडिकल उपयोग के 22000 और औद्योगिक उपयोग 32000 सिलेण्डर उपलब्ध है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कुल लिक्विड ऑक्सीजन परिवहन करने लिए 23 टैंकर प्रयोग में आ रहे हैं जबकि एयर सेपरेशन यूनिट्स के लिए 24 टैंकर और लगाए गए हैं.

ऑक्सीजन सप्लाई के लिए केन्द्र सरकार पर हो गए हैं निर्भरः
चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने बताया कि राज्य में लिक्विड ऑक्सीजन स्टोरेज यूनिटस के 13 टैंकर हैं. प्रदेश में ऑक्सीजन का एकमात्र सबसे बड़ा स्रोत आइनोक्स भिवाडी है, यहां कुल 442 मेट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन होता है, लेकिन केन्द्र द्वारा इस सयंत्र का अधिग्रहण किया जा चुका है जिसके कारण हम प्रदेश में ऑक्सीजन सप्लाई के लिए केन्द्र सरकार पर निर्भर हो गए हैं. उन्होंने बताया कि जिस तरह से प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीज बढ़ रहे हैं उन्हे देखकर लगता है कि यहां 15 मई तक 795 एमटी ऑक्सीजन की आवश्यकता होगी जो 3 मई तक 334.59 मेट्रिक टन थी.

15 मई तक एक्टिव मरीजों की संख्या 267072 होने की आशंकाः
आपको बता दे कि राज्य में मंगलवार तक कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 197045 है, लेकिन जिस तरह से प्रदेश में कोरोना अपने पांव पसार रहा है उसे देखते हुए 15 मई तक एक्टिव मरीजों की संख्या 267072 होने की आशंका जताई जा रही है.
 

और पढ़ें