नई दिल्ली धर्म के नाम पर बर्बरता बर्दाश्त नहीं, आतंक फैलाने वालों को सख्त सजा मिले: राहुल गांधी

धर्म के नाम पर बर्बरता बर्दाश्त नहीं, आतंक फैलाने वालों को सख्त सजा मिले: राहुल गांधी

धर्म के नाम पर बर्बरता बर्दाश्त नहीं, आतंक फैलाने वालों को सख्त सजा मिले: राहुल गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने उदयपुर में एक व्यक्ति की धारदार हथियार से हत्या किए जाने की घटना की निंदा करते हुए मंगलवार को कहा कि धर्म के नाम बर्बरता बर्दाश्त नहीं की जा सकती और आतंक फैलाने वालों को सख्त सजा मिलनी चाहिए. उन्होंने ट्वीट किया, उदयपुर में हुई जघन्य हत्या से मैं बेहद स्तब्ध हूं. धर्म के नाम पर बर्बरता बर्दाश्त नहीं की जा सकती. इस कदर हैवानियत से आतंक फैलाने वालों को तुरंत सख़्त सज़ा मिले.

राहुल गांधी ने यह भी कहा कि हम सभी को साथ मिलकर नफ़रत को हराना है. मेरी सभी से अपील है, कृपया शांति और भाईचारा बनाए रखें. कांग्रेस के मीडिया एवं प्रचार प्रमुख पवन खेड़ा ने ट्वीट किया, कन्हैया कुमार, अख़लाक़ और पहलू खान यह सब नफ़रत के शिकार हुए. कौन है जो देश में कट्टरता का माहौल बना रहा है? कौन है जो समाज में विवाद पैदा कर रहा है? कौन है जो नफ़रत फैला कर राजनैतिक लाभ प्राप्त कर रहा है?

उन्होंने कहा कि सब जानते हैं, वो कौन है. सब देख रहे हैं, वो मौन है.राजस्थान में उदयपुर जिले के धानमंडी थानाक्षेत्र में एक युवक की दिनदहाड़े धारदार हथियार से हत्या किए जाने की खबर है.सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस घटना के वीडियो में एक बदमाश पीड़ित पर धारदार हथियार से हमला करते दिखाई दे रहा है. पुलिस ने बताया कि कन्हैयालाल साहू (40) की धान मंडी क्षेत्र में टेलरिंग (कपड़े सिलाई) की दुकान है. वहां दो व्यक्ति हथियार लेकर आये और उनमें से एक ने धारदार हथियार से टेलर कन्हैयालाल साहू की हत्या कर दी. इस घटना के बाद स्थानीय बाजार बंद हो गया.(भाषा) 

और पढ़ें