राहुल ने टीके उपलब्ध नहीं होने का किया दावा, हर्षवर्धन ने पलटवार करते हुए कहा- अहंकार और अज्ञानता के वायरस का कोई टीका नहीं

राहुल ने टीके उपलब्ध नहीं होने का किया दावा, हर्षवर्धन ने पलटवार करते हुए कहा- अहंकार और अज्ञानता के वायरस का कोई टीका नहीं

राहुल ने टीके उपलब्ध नहीं होने का किया दावा, हर्षवर्धन ने पलटवार करते हुए कहा- अहंकार और अज्ञानता के वायरस का कोई टीका नहीं

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (rahul gandhi) ने देश में कोविड-19 (Coronavirus) रोधी टीकों की कथित कमी का हवाला देते हुए शुक्रवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और दावा किया कि जुलाई का महीना आ गया है, लेकिन टीके नहीं आए हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता हर्षवर्धन ने उन पर पलटवार करते हुए कहा कि अहंकार और अज्ञानता के वायरस का कोई टीका नहीं है. राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि जुलाई का महीना आ गया है, वैक्सीन नहीं आयीं.

हर्षवर्धन ने उन पर पलटवार करते हुए ट्वीट किया कि अभी कल ही मैंने जुलाई के लिए टीके की उपलब्धता को लेकर तथ्य सामने रखे थे. राहुल गांधी जी की समस्या क्या है? क्या वह समझते नहीं हैं? अहंकार और अज्ञानता के वायरस का कोई टीका नहीं है. कांग्रेस को अपने नेतृत्व में आमूल-चूल बदलाव के बारे में विचार करने की जरूरत है.

दिसंबर तक देश के सभी वयस्क नागरिकों को टीका लगाने का जो लक्ष्य:
दरअसल, कांग्रेस का दावा है कि सरकार ने इस साल दिसंबर तक देश के सभी वयस्क नागरिकों को टीका लगाने का जो लक्ष्य रखा है उसे पूरा करने के लिए उचित संख्या में टीकाकरण नहीं हो रहा है क्योंकि टीके की पर्याप्त उपलब्धता नहीं है. दूसरी तरफ, गुरुवार को सुबह सात बजे प्रकाशित स्वास्थ्य मंत्रालय के टीकाकरण आंकड़ों के मुताबिक, राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान के तहत कल तक टीके की 33.57 करोड़ खुराकें लगाई जा चुकी थीं.

और पढ़ें