कोलकाता India-Bangladesh: दो साल के बाद शुरु हुई भारत और बांग्लादेश के बीच रेल सेवा

India-Bangladesh: दो साल के बाद शुरु हुई भारत और बांग्लादेश के बीच रेल सेवा

India-Bangladesh: दो साल के बाद शुरु हुई भारत और बांग्लादेश के बीच रेल सेवा

कोलकाता: कोरोना वायरस संक्रमण के चलते दो वर्ष तक बंद रहने के बाद भारत और बांग्लादेश के बीच रविवार को रेल सेवा बहाल हो गई. इस दौरान कोलकाता स्टेशन से पड़ोसी मुल्क के खुलना के लिए बंधन एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया. पूर्वी रेलवे (ईआर) के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.

उन्होंने कहा कि मैत्री एक्सप्रेस के भी रविवार से शुरू होने की उम्मीद है. यह रेलगाड़ी कोलकाता से रविवार को चलेगी और सोमवार सुबह ढाका पहुंचेगी. ईआर के प्रवक्ता एकलव्य चक्रवर्ती ने कहा कि भारत और बांग्लादेश के बीच यात्री रेल सेवा दो वर्ष पहले कोरोना वायरस संक्रमण के चलते बंद कर दी गई थी. यह सेवा सुबह 7.10 बजे कोलकाता स्टेशन से बंधन एक्सप्रेस के रवाना होने के साथ ही बहाल हो गई.

सीमा के दोनों तरफ के लोग ट्रेन सेवा के बहाल होने से खुश हैं और अगले कुछ दिनों के लिए सभी सीटें आरक्षित हो गई: 

कोलकाता से खुलना के बीच बंधन एक्सप्रेस सप्ताह में दो दिन चलती है. वहीं, कोलकाता से बांग्लादेश की राजधानी ढाका के लिए मैत्री एक्सप्रेस पांच दिन संचालित होगी. चक्रवर्ती ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि सीमा के दोनों तरफ के लोग ट्रेन सेवा के बहाल होने से खुश हैं और अगले कुछ दिनों के लिए सभी सीटें आरक्षित हो गई हैं. उन्होंने कहा कि रेल यात्रा ज्यादा सुविधाजनक और यात्रा की अवधि भी ठीक होने के कारण लोग बस या हवाई यात्रा के मुकाबले ट्रेन को ज्यादा तरजीह देते हैं.

पश्चिम बंगाल के रास्ते भारत और बांग्लादेश के बीच रेल संपर्क को एक जून से और मजबूती मिलेगी: 

दोनों ट्रेन की क्षमता लगभग 450 यात्रियों की है और इनमें एसी चेयरकार के अलावा एक्जिक्यूटिव श्रेणी की सीटें भी मौजूद हैं. चक्रवर्ती ने बताया कि पश्चिम बंगाल के रास्ते भारत और बांग्लादेश के बीच रेल संपर्क को एक जून से और मजबूती मिलेगी, क्योंकि उस दिन मिताली एक्सप्रेस का उद्घाटन किया जाएगा. यह ट्रेन भारत के न्यू जलपाईगुड़ी से ढाका तक जाएगी. उन्होंने उम्मीद जताई कि नयी रेल सेवा से उत्तर-पश्चिम बंगाल में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें