VIDEO: ट्रेन में यात्रियों का अकाल, रेल यातायात पर कोरोना का ग्रहण, देखिए खास रिपोर्ट...

VIDEO: ट्रेन में यात्रियों का अकाल, रेल यातायात पर कोरोना का ग्रहण, देखिए खास रिपोर्ट...

जयपुर: फर्ज कीजिए किसी ट्रेन में 1500 सीटें उपलब्ध हों और ट्रेन में महज 110 यात्री सफर कर रहे हों.किसी भी स्थिति में इसे संचालन के लिहाज से मुफीद नहीं कहा जा सकता. रेलवे प्रशासन के लिए भी जल्द ही यह मुसीबत खड़ी हो सकती है. रेलवे प्रशासन ने अब जब कई प्रमुख ट्रेनें शुरू कर दी हैं, बढ़ते कोरोना संक्रमण के कारण उनमें यात्रियों का अकाल पड़ गया है. अप्रैल माह से उत्तर-पश्चिम रेलवे प्रशासन ने अपनी कुल ट्रेनों में से 85 फीसदी ट्रेनों के संचालन का दावा किया है यानी कोरोना काल से पहले रेलवे की जितनी ट्रेनें संचालित होती थीं, उनमें से अब 85 फीसदी ट्रेनें फिर से शुरू हो गई हैं.

देश-प्रदेश के लगभग सभी हिस्सों में कोरोना संक्रमण बढ़ा:
उत्तर-पश्चिम रेलवे की प्रमुख ट्रेनों में गिनी जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस, डबल डेकर, दुरंतो एक्सप्रेस जैसी ट्रेनें फिर से संचालित हो रही हैं. लेकिन इन ट्रेनों के दुबारा संचालन शुरू होते ही एक नई समस्या खड़ी हो गई है. पहले ट्रेन नहीं चलने पर यात्रियों की लगातार डिमांड आ रही थी, लेकिन अब जबकि ट्रेनें शुरू हो चुकी हैं, तो इनमें यात्रियों की कमी देखी जा रही है. दरअसल पिछले एक महीने से कोरोना केसेज की संख्या लगातार बढ़ रही है और इस माह के 14 दिनों में तो देश-प्रदेश के लगभग सभी हिस्सों में कोरोना संक्रमण बढ़ा है. इस कारण यात्रियों में यात्रा को लेकर डर देखा जा रहा है. हवाई यात्रा और ट्रेन यात्रा दोनों में ही यात्रियों की संख्या में गिरावट आई है. फर्स्ट इंडिया न्यूज ने आज जयपुर से संचालित होने वाली प्रमुख ट्रेनों में यात्रीभार की पड़ताल की तो पता चला कि कुछ ट्रेनों में महज 10 से 15 प्रतिशत यात्रीभार ही है.

जानिए, कितनी खाली दौड़ रही ट्रेनें:
1. जयपुर-दिल्ली एसी डबल डेकर 15 अप्रैल को दौड़ेगी खाली
- चेयरकार में 1382 सीट खाली, केवल 110 सीट ही बुक हुईं
- एग्जिक्यूटिव क्लास में 42 सीट खाली, केवल 7 सीट बुक हुई
2. दौराई-नई दिल्ली वाया जयपुर शताब्दी 15 अप्रैल को चलेगी खाली
- चेयरकार में 980 सीट खाली, 97 सीट ही बुक हुईं
- एग्जिक्यूटिव क्लास में 17 सीट बुक हुई और 97 सीट खाली
3. जयपुर-मुम्बई दुरंतो एक्सप्रेस 15 अप्रैल को दौड़ेगी खाली
- फर्स्ट एसी में सभी 14 सीट खाली, सैकंड एसी में 48 खाली, 9 बुक हुईं
- थर्ड एसी में 347 सीट खाली, जबकि मात्र 14 सीट बुक हुईं
4.जयपुर-पुणे साप्ताहिक स्पेशल 17 अप्रैल को चलेगी खाली
- फर्स्ट एसी में 2 सीट बुक, 8 खाली, सैकंड एसी में 21 बुक, 111 सीट खाली
- थर्ड एसी में 126 सीट बुक, 234 सीट चल रहीं खाली
5. दिल्ली-मुंबई वाया जयपुर गरीब रथ 15 अप्रैल को चलेगी खाली
- जयपुर व दिल्ली मिलाकर 138 सीट बुक हुई और 670 सीट अभी भी खाली

हो सकता है एक नया संकट खड़ा:
इन ट्रेनों के खाली दौड़ने से एक नया संकट खड़ा हो सकता है. दरअसल जयपुर-मुम्बई दुरंतो ट्रेन का संचालन पिछले माह 21 मार्च से शुरू हुआ है, जबकि जयपुर-दिल्ली एसी डबलडेकर और दौराई-नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस दोनों ट्रेनों का संचालन 10 अप्रैल से शुरू हुआ है. इन दोनों ट्रेनों को शुरू हुए अभी महज 5 दिन हुए हैं और इन ट्रेनों में पिछले पांच दिनों से यात्रीभार की कमी देखी जा रही है. यदि यही स्थिति रही तो रेलवे प्रशासन ट्रेन संचालन को घाटे का सौदा मानकर फिर से बंद कर सकता है. जबकि दिल्ली आने-जाने के लिए ये दोनों ही ट्रेनें काफी महत्वपूर्ण हैं. लेकिन जब तक कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण नहीं होता, ट्रेनों में यात्रीभार बढ़ने की उम्मीद करना भी बेमानी है. देखना होगा कि रेलवे प्रशासन इन प्रमुख ट्रेनों के संचालन को लेकर क्या निर्णय करता है.

...काशीराम चौधरी, फर्स्ट इंडिया न्यूज, जयपुर

और पढ़ें