जयपुर राजस्थान के कई हिस्सों में बारिश का दौर जारी, तापमान में गिरावट

राजस्थान के कई हिस्सों में बारिश का दौर जारी, तापमान में गिरावट

राजस्थान के कई हिस्सों में बारिश का दौर जारी, तापमान में गिरावट

जयपुर: राजस्थान में पिछले 24 घंटों के दौरान बीकानेर, जयपुर और भरतपुर संभाग में मध्यम से तेज स्तर की मानसून पूर्व बारिश दर्ज की गई. राज्य के अधिकतर स्थानों पर अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया वहीं न्यूनतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की गयी है. जयपुर मौसम केन्द्र के एक अधिकारी ने बताया कि इस दौरान सर्वाधिक बारिश पूर्वी राजस्थान के दौसा में 85 मिलीमीटर हुई, जबकि पश्चिमी राजस्थान के गंगानगर के अनूपगढ़ में 60 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई.

उन्होंने रविवार को जयपुर और भरतपुर संभाग में कहीं-कहीं पर भारी बारिश होने की संभावना जताई है. अधिकारी ने बताया कि सोमवार को बीकानेर, संभाग व अजमेर संभाग के जिलों में भी एक दो स्थानों पर भारी बारिश होने की संभवाना है. अधिकारी ने बताया कि रविवार की शाम 5.30 बजे तक राजधानी जयपुर में 44.8 मिलीमीटर, सीकर में 48 मिलीमीटर, बूंदी में 23 मिलीमीटर, कोटा में 20.2 मिलीमीटर, नागौर में 12.5 मिलीमीटर, चूरू में 9.4 मिलीमीटर, बीकानेर में 7 मिलीमीटर, बांरा में 6.5 मिलीमीटर, अजमेर में 5.4 मिलीमीटर, करौली-अलवर-फतेहपुर में 1.5-1.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. उन्होंने बताया कि अगले 48 घंटों में कोटा, अजमेर, उदयपुर व बीकानेर संभाग के अधिकांश जिलों में मानसून पूर्व बारिश होने की प्रबल संभावना है. जोधपुर संभाग के उत्तरी भागों में भी तेज बारिश दर्ज की जा सकती है. उन्होंने बताया कि 21-22 जून से राज्य में बारिश की गतिविधियों में कमी आएगी. पश्चिमी राजस्थान में 23 जून से मौसम मुख्यतः शुष्क रहने की सम्भावना है.

विभाग के अनुसार रविवार को बाड़मेर में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस, जैसलमेर में 39 डिग्री, चित्तौड़गढ में 38.3 डिग्री, जोधपुर में 37.8 डिग्री, फलोदी में 37.2 डिग्री, डबोक (उदयपुर) में 36.8 डिग्री, कोटा में 35.4 डिग्री, बीकानेर में 33 डिग्री, चूरू में 30 डिग्री, श्रीगंगानगर-नागौर में 31.8-31.8 डिग्री, राजधानी जयपुर में 27.6 डिग्री, पिलानी में 27 डिग्री, सीकर में 28 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं राज्य के अधिकांश प्रमुश शहरों में शनिवार रात का तापमान20.5 डिग्री सेल्सियस से लेकर 28.2 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया. इस बीच राज्य आपदा प्रबंधन बल (SDRF) ने 25 जून से शुरू होने वाले मानसून से पहले 24 जिलों में 47 टीमों को तैनात किया है. एसडीआरएफ के कमांडेंट पंकज चौधरी ने बताया कि मानूसन के मौसम में भारी बारिश, बाढ़ या बारिश से संबंधित घटनाओं की स्थिति में बचाव कार्यों के लिये टीम का गठन करके तैनाती की जा रही है. अधिकारी ने बताया कि जिन टीम के पास बचाव कार्य के लिये आवश्यक उपकरण होंगे, उनके लिसे एक मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) जारी की गई है. सोर्स- भाषा

और पढ़ें