पाकिस्तानः राज कपूर के पुश्तैनी घर को खरीदने के लिए सरकार ने दिया डेढ़ करोड़ का ऑफर, लैंडलॉर्ड ने मांगी ये कीमत

पाकिस्तानः राज कपूर के पुश्तैनी घर को खरीदने के लिए सरकार ने दिया डेढ़ करोड़ का ऑफर, लैंडलॉर्ड ने मांगी ये कीमत

पेशावर: प्रख्यात भारतीय फिल्म अभिनेता राज कपूर के पेशावर में स्थित पैतृक घर के मालिक ने घर बेचने से इंकार कर दिया है. गौरतलब है कि ये ऑफर उसे खैबर पख्तूनख्वा सरकार ने दिया था, मगर मालिक ने सरकारी मूल्य पर संपत्ति बेचने से इंकार कर दिया है. घर के मालिक का कहना है कि संपत्ति बहुत अच्छी जगह पर है और इसका बेहद कम दाम लगाया जा रहा है.

सरकार ने दिया था डेढ़ करोड़ रुपये का ऑफर

प्रांतीय सरकार ने कपूर के पुश्तैनी घर को खरीदने के लिए डेढ़ करोड़ रुपये जारी करने को मंजूरी दी थी और कहा था कि इसे अभिनेता के सम्मान में संग्रहालय के तौर पर विकसित किया जाएगा. वर्तमान में हवेली के मालिक हाजी अली साबिर ने आज एक निजी चैनल के साथ बातचीत में डेढ़ करोड़ रुपये में संपत्ति बेचने से साफ मना कर दिया है. उनके अनुसार दाम बहुत कम है.

मकान मालिक ने लगाई 200 करोड़ रुपये कीमत

उन्होंने कहा है कि उस इलाके में आधा मारला जमीन भी डेढ़ करोड़ में नहीं मिलती है.  मैं छह मारला जमीन की संपत्ति को डेढ़ करोड़ में कैसे बेच सकता हूं. भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश में प्रयुक्त की जाने वाली इकाई मारला का अर्थ 272.25 वर्ग फुट क्षेत्र होता है. साबिर ने आगे कहा है कि संपत्ति की सही कीमत दो सौ करोड़ रुपये है , डेढ़ करोड रुपए उसके आगे कुछ नहीं है.

गौरतलब है कि राज कपूर का पुश्तैनी घर कपूर हवेली, किस्सा ख्वानी बाजार में स्थित है. इसका निर्माण अभिनेता के दादा दीवान बशेश्वरनाथ कपूर ने 1918 से 1922 के बीच करवाया था. राज कपूर और उनके चाचा त्रिलोक कपूर का जन्म इसी हवेली में हुआ था. प्रांतीय सरकार ने इस इमारत को राष्ट्रीय विरासत घोषित किया है और लगातार खरीदने की जद्दोजहत में लगी हुई है. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें