Rajasthan Budget 2021: मुख्यमंत्री ने फाइनल किया बजट, CMR में प्रदेश के बजट पर लगाई मुहर

Rajasthan Budget 2021: मुख्यमंत्री ने फाइनल किया बजट, CMR में प्रदेश के बजट पर लगाई मुहर

Rajasthan Budget 2021: मुख्यमंत्री ने फाइनल किया बजट, CMR में प्रदेश के बजट पर लगाई मुहर

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने मौजूदा कार्यकाल के तीसरे बजट को आज अंतिम रूप दे दिया. मुख्यमंत्री गहलोत ने सीएमआर में प्रदेश के बजट पर  पर मुहर लगा दी हैं. इस मौके पर प्रमुख शासन सचिव वित्त अखिल अरोड़ा, शासन सचिव वित्त (राजस्व)  टी.रविकांत, शासन सचिव वित्त (बजट) डॉ.पृथ्वीराज, विशिष्ट सचिव वित्त (व्यय) सुधीर कुमार शर्मा, निदेशक (बजट) शरद मेहरा मौजूद रहे. 

24 फरवरी को पेश होगा बजट:
आपको बता दें कि प्रदेश की गहलोत सरकार 24 फरवरी को मौजूदा कार्यकाल का सबसे चुनौतीपूर्ण बजट पेश करेगी. वित्त राजस्व, वित्त व्यय और बजट महकमें के 150 अधिकारियों और कर्मचारियों की टीम बीते 2 महीने से इस बजट को तैयार करने में जुटी थी. आज वित्त विभाग बजट की कॉपी औपचारिक रूप से सीएम गहलोत को सौंपेगा. लेकिन इस बार बजट हॉर्ड कॉपी में नहीं बल्कि सॉफ्ट कॉपी में टेबलेट पीसी के रूप में सौंपा जाएगा. सभी विधायकों को भी बजट समझने के लिए टेबलेट ही दिए जाएंगे. 

बजट में नए अवसर पैदा करने का मौका: 
राज्य सरकार के पास भी आने वाले बजट में नए अवसर पैदा करने का मौका है. इसकी तैयारी भी की जा रही है. जानकारी के मुताबिक गहलोत सरकार इस बजट में गवर्नेंस पर फोकस करेगी. मकसद यह है कि सरकार की लागत घटे और लोगों को बेहतर सुविधा मिल सके. 

आज दिनभर बजट को लेकर सीएम स्तर पर एक्सरसाइज होगी:
मिली जानकारी के अनुसार इस बार बजट में विधायकों की मांगों का भी समावेश रहेगा. इसके साथ ही बजट चिकित्सा, कृषि व शिक्षा को समर्पित रहेगा. गहलोत का बजट में युवाओं पर भी मुख्य फोकस रहेगा. ऐसे में आज दिनभर बजट को लेकर सीएम स्तर पर एक्सरसाइज होगी. उसके बाद आज शाम बजट को फाइनल टच दिया जाएगा. 

विकास को गति देने वाला एक संतुलित बजट हो: 
मुख्यमंत्री गहलोत बजट को लेकर कह चुके हैं कि उनका प्रयास है कि आगामी बजट विकास को गति देने वाला एक संतुलित बजट हो. कोरोना महामारी ने राज्‍य की अर्थव्यवस्था व राजस्व पर बुरा असर डाला है और सरकार सभी के सुझावों के आधार पर ऐसा समावेशी बजट लाने का प्रयास करेगी जिससे निवेश को प्रोत्साहन मिले, रोजगार के अवसरों में बढ़ोतरी हो तथा समाज के हर वर्ग की उन्नति हो.

मुख्यमंत्री गहलोत वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए यह बजट पेश करेंगे:
आपको बता दें कि विधानसभा का बजट सत्र 10 फरवरी से शुरू हो गया है. राज्य सरकार 24 फरवरी को अपना बजट पेश करेगी. मुख्यमंत्री Ashok Gehlot वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए यह बजट पेश करेंगे. दरअसल, केंद्र सरकार के बजट से गहलोत सरकार नाखुश है. कई अहम योजनाओं के बजट में कटौती और ढ़ांचागत विकास के लिए धन आवंटन नहीं होने से भावी विकास योजनाओ पर असर है. ऐसे में प्रदेश की जनता को इस बार राजस्थान के बजट से काफी उम्मीदें है. 

और पढ़ें