जयपुर Rajasthan Budget 2022: जुलाई 2022 में होगी रीट की परीक्षा, पुराने अभ्यर्थियों से नहीं लिया जाएगा आवेदन शुल्क

Rajasthan Budget 2022: जुलाई 2022 में होगी रीट की परीक्षा, पुराने अभ्यर्थियों से नहीं लिया जाएगा आवेदन शुल्क

Rajasthan Budget 2022:  जुलाई 2022 में होगी रीट की परीक्षा, पुराने अभ्यर्थियों से नहीं लिया जाएगा आवेदन शुल्क

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बजट पेश कर रहे हैं. यह गहलोत की तीसरी सरकार का चौथा बजट है. इस बार यह बजट कई मायनों में काफी खास है. बजट भाषण के शुरुआत में उन्होंने शायराना अंदाज में बोलते हुए कहा कि ना पूछो कि मेरी मंजिल कहां है अभी तो सफर का इरादा किया है न हारूँगा हौसला उम्र भर यह मैंने किसी से नहीं खुद से वादा किया. बजट में मुख्यमंत्री गहलोत ने अभ्यर्थियों को बड़ी राहत दी है. सभी भर्तियों को समय पर पूरा करने की गारंटी दी. जुलाई 2022 में रीट की परीक्षा होगी. पुराने अभ्यर्थियों से आवेदन शुल्क नहीं लिया जाएगा. नकल रोकने के लिए SOG में नकल निरोधक यूनिट का गठन होगा. 1 लाख 35 हजार पदों पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही है. एक लाख पदों पर नई भर्तियां होंगी.

बायतू में पीजी महाविद्यालय में क्रमोन्नत करने की घोषणा:
बजट में बाड़मेर को मुख्यमंत्री गहलोत ने सौगात देते हुए बायतू में पीजी महाविद्यालय में क्रमोन्नत करने की घोषणा की है. चौहटन व धोरीमन्ना में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को उप जिला अस्पताल में क्रमोन्नत करने की घोषणा की है. प्राथमिक विद्यालय खोले जाने की भी घोषणा की है. बाड़मेर मेडिकल कॉलेज में चिकित्सा सुविधाओं को बढ़ाया जाएगा.

शिक्षा बजट में महात्मा गांधी अंग्रेजी विद्यालयों पर विशेष फोकस:
शिक्षा बजट में महात्मा गांधी अंग्रेजी विद्यालयों पर विशेष फोकस किया गया है. गहलोत सरकार 2 हज़ार नए अंग्रेजी विद्यालय खोलेगी. वहीं अंग्रेजी विद्यालयों के लिए 10 हज़ार शिक्षकों की भर्ती होगी. पिछले बजट में 1200 अंग्रेजी विद्यालय खोलने की घोषणा हुई थी. पिछले साल अंग्रेजी विद्यालयों को शानदार रेस्पॉन्स मिला. यही कारण है कि बजट में अंग्रेजी स्कूलों पर फोकस रहा.

नवलगढ़ में खुलेगा जिला अस्पताल:
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि सात संभाग मुख्यालयों पर सुपर स्पेशलिटी सेवाएं विस्तारित की जाएगी. RUHS और इसके अधीन डेंटल कॉलेज का 100 करोड़ से पुनरुत्थान किया जाएगा. नवलगढ़ में जिला अस्पताल खुलेगा. प्रत्येक जिले में कैंसर डायग्नोसिस वैन उपलब्ध होगी. 19 ब्लॉक में आयुष चिकित्सालय. 200 नए खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की भर्ती होगी.

सभी आउटडोर और इनडोर सभी सुविधा के लिए पूरी तरह निशुल्क:
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि सभी आउटडोर और इनडोर सभी सुविधा के लिए पूरी तरह निशुल्क. सरकारी अस्पतालों में इलाज पूरी तरह फ्री. सरकारी अस्पतालों में OPD और IPD में बिल्कुल निशुल्क चिकित्सा सुविधा. मुख्यमंत्री चिरंजीवी दुर्घटना बीमा योजना लागू होगी. 5 लाख तक का दुर्घटना बीमा निशुल्क उपलब्ध होगा. कई जिलों के जिला अस्पतालों को बिस्तरों की बढ़ोतरी का तोहफा दिया.

यातायात नियमों को तोड़ने वालों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई:
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि सड़कों की दुर्घटनाओं को रोका जाएगा. वाहन चालकों की नियमित चेकिंग के अलावा नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. राजस्थान पब्लिक ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी का गठन प्रस्तावित. जयपुर में रोड सेफ्टी इंस्टीट्यूट खुलेगा.

इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना की घोषणा:
मुख्यमंत्री गहलोत के बजट भाषण में पहली घोषणा की है. इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना की घोषणा की है. प्रति वर्ष 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध होगा. इस पर करीब 800 करोड़ रुपये खर्च होगा. मनरेगा में 100 दिन की बजाय 125 दिन CM ने किये. कोरोना काल में शिक्षा में नुकसान की भरपाई के लिए. 3 महीने का ब्रिज कोर्स विद्यार्थियों के लिए होगा.

बिजली:
50 यूनिट मुफ्त बिजली. सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 150 यूनिट तक 3 रुपए और 150 से 300 यूनिट तक 2 रुपए और इससे उपर के कंज्यूमर को भी स्लैब के हिसाब से लाभ. इस पर 4000 करोड़ का खर्च होगा.

और पढ़ें