Live News »

Rajasthan Corona Updates: अस्पताल की दूसरी मंजिल से छलांग लगाने पर कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत, लगातार बढ़ रही संक्रमितों की संख्या

Rajasthan Corona Updates: अस्पताल की दूसरी मंजिल से छलांग लगाने पर कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत, लगातार बढ़ रही संक्रमितों की संख्या

जयपुर: राजस्थान के राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय से आज की बड़ी खबर सामने आई है. डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल की दूसरी मंजिल से नीचे कूदने से मरीज की मौत हो गई. कोरोना पॉजिटिव मरीज ने बाथरूम खिड़की तोड़कर नीचे छलांग लगाई. झोटवाड़ा निवासी 78 वर्षीय मरीज का अस्पताल में ही उपचार चल रहा था. अतिगंभीर हालत में मरीज को SMS अस्पताल शिफ्ट करने की तैयारी चल रही थी. लेकिन इससे पहले ही RUHS की इमरजेंसी में मरीज दम तोड़ दिया. मरीज की आज सुबह ही कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव से नेगेटिव आई थी. 

केंद्रीय गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, राजीव गांधी फाउंडेशन के लेनदेन की होगी जांच 

पिछले 12 घंटे में 173 नए पॉजिटिव केस सामने आए:
वहीं प्रदेश में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. पिछले 12 घंटे में 6 लोगों ने कोरोना के चलते दम तोड़ा है तो वहीं 173 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इसमें दौसा में 1, जयपुर में 2, जोधपुर में 1, सवाईमाधोपुर में 1 मरीज की मौत, इसके अलावा अजमेर में 2, अलवर में 81, भीलवाड़ा में 11, बीकानेर में 8, चूरू में 3, डूंगरपुर में 1, जयपुर में 34, झालावाड़ में 1, कोटा में 12, नागौर में 8, राजसमंद में 10 और उदयपुर में 2 मरीज पॉजिटिव आए हैं. ऐसे में प्रदेश में अब कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 21,577 हो गई है. वहीं मृतकों का आंकड़ा भी बढ़कर 478 हो गया है. 

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 22752 नए मामले सामने आए, देश में अब 7.42 लाख केस 

मंगलवार को प्रदेश में रिकॉर्ड 716 नए पॉजिटिव मरीज सामने आये:  
इससे पहले मंगलवार को प्रदेश में रिकॉर्ड 716 नए पॉजिटिव मरीज सामने आये जबकि 11 मरीजों की कोरोना की वजह से मौत हो गई. पाली में 3, जयपुर और जोधपुर में 2-2, भरतपुर, धौलपुर, जालोर और नागौर में 1-1 मरीजों की मौत हो गई. जबकि जोधपुर में सर्वाधिक 183 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले. अजमेर 15, अलवर 39 , बांसवाड़ा 1, बाड़मेर 47, भरतपुर 18, भीलवाड़ा 2, बीकानेर 112 , बूंदी 1, चूरू 2, दौसा 2,  धौलपुर 12, डूंगरपुर 9, श्रीगंगानगर 4, हनुमानगढ़ 23, जयपुर 71 ,जैसलमेर 1, जालोर 37, झुंझुनूं 5, कोटा 8, नागौर 45, पाली 9, राजसमंद 2, सवाई माधोपुर 3,सीकर 25, सिरोही 30, टोंक 1, उदयपुर 3 और दूसरे राज्य के 6 मरीज पॉजिटिव मिले.  

और पढ़ें

Most Related Stories

Ram Mandir Bhoomi Pujan: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रखी राम मंदिर की आधारशिला, अयोध्या में रचा गया इतिहास

Ram Mandir Bhoomi Pujan: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रखी राम मंदिर की आधारशिला, अयोध्या में रचा गया इतिहास

अयोध्या: अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन पूरा हो गया है और पीएम मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रख दी है. भूमि पूजन की सभी प्रक्रिया करने के बाद प्रधानमंत्री ने शुभ मुहूर्त के वक्त शिला रखी. प्रधानमंत्री ने शिला रखकर वहां भूमि पर प्रणाम किया. अयोध्या इस ऐतिहासिक घटना की साक्षी बनी और वहां मौजूद लोग जय श्रीराम का उद्घोष कर रहे हैं. पीएम मोदी ने ठीक 12.44.08 बजे शिला रखी. पूजा के दौरान 9 शिलाओं का अनुष्ठान किया गया, इसके अलावा भगवान राम की कुलदेवी काली माता की भी पूजी की गई.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर भूमि पूजन के अनुष्ठान में हिस्सा लिया और पूजा की सभी विधियां पूरी की. RSS प्रमुख मोहन भागवत, यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी इस दौरान मौजूद रहे. पंडितों को इस भूमि पूजन के बाद पीएम मोदी की तरफ से दक्षिणा दी गई है. 

राममय हुई अयोध्या:
राम मंदिर के भूमि पूजन से पहले अयोध्या राममय हो गई है. हर तरफ राम नाम का संकीर्तन हो रहा है. जय श्रीराम के नारे की गूंज सुनाई दे रही है. हल्की बारिश भी हो रही है. हालांकि, कार्यक्रम स्थल पर वाटरप्रूफ टेंट लगाए गए हैं.

भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे:
भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे, पांच मंडप वाले और 161 फुट ऊंचे इस मंदिर को दुनिया के बेहतरीन मंदिरों में से गिना जाएगा. इसके खंभों में किसी तरह के लोहे का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चांदी के फावड़े और कन्नी का इस्तेमाल करेंगे.

चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा:
राम मंदिर भूमि पूजन के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. अयोध्या की सीमा में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति और वाहन की जांच की जा रही है. कई इलाकों में रूट डायवर्ट किए गए हैं.


 

Ram Mandir Bhoomi Pujan: अयोध्या में विधिवत रूप से जारी है पूजा का कार्यक्रम, पंडित मंत्रोच्चार के बीच पीएम मोदी से धार्मिक क्रियाएं करा रहे

Ram Mandir Bhoomi Pujan: अयोध्या में विधिवत रूप से जारी है पूजा का कार्यक्रम, पंडित मंत्रोच्चार के बीच पीएम मोदी से धार्मिक क्रियाएं करा रहे

अयोध्या: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समय अयोध्या में राम जन्मभूमि पूजन कर रहे हैं और तमाम मंत्रोच्चार के बीच राम जन्मभूमि का सालों का इंतजार खत्म हो गया है. पंडित और मुख्य यजमान इस समय मंदिर निर्माण से पहले समस्त भगवान के आह्वान के मंत्र पढ़ रहे हैं. RSS प्रमुख मोहन भागवत, यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद हैं.

मंत्रोच्चार के बीच पीएम मोदी से धार्मिक क्रियाएं करा रहे: 
राम जन्मभूमि पूजन को संपन्न कराने वाले पंडित मंत्रोच्चार के बीच पीएम मोदी से धार्मिक क्रियाएं करा रहे हैं. भूमि पूजन का लाइव प्रसारण भी किया जा रहा है और बड़े एलईडी स्क्रीन के जरिए समस्त उपस्थितगण भी इसको देख पा रहे हैं.

भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे:
भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे, पांच मंडप वाले और 161 फुट ऊंचे इस मंदिर को दुनिया के बेहतरीन मंदिरों में से गिना जाएगा. इसके खंभों में किसी तरह के लोहे का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चांदी के फावड़े और कन्नी का इस्तेमाल करेंगे.

चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा:
राम मंदिर भूमि पूजन के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. अयोध्या की सीमा में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति और वाहन की जांच की जा रही है. कई इलाकों में रूट डायवर्ट किए गए हैं.

Ram Mandir Bhoomi Pujan: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा की, थोड़ी देर में राम मंदिर का भूमि पूजन

Ram Mandir Bhoomi Pujan: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा की, थोड़ी देर में राम मंदिर का भूमि पूजन

अयोध्या: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या पहुंचने के बाद सीधे हनुमानगढ़ी मंदिर पहुंचे. पीएम मोदी ने यहां पूजा की, उन्हें यहां पर पगड़ी पहनाई गई. उसके बाद प्रधानमंत्री रामजन्मभूमि पहुंच गए हैं. अब से कुछ देर में पीएम रामलला की पूजा करेंगे. जिसके बाद भूमि पूजन शुरू होगा. 

40 किलो चांदी की ईंट से रखी जाएगी मंदिर की नींव:
पीएम मोदी अयोध्या पहुंचेंगे. भूमि पूजन के दौरान वो 40 किलो की चांदी की ईंट राममंदिर की नींव में रखी जाएगी. इसके बाद वो मंदिर परिसर में पारिजात का पौधा लगाएंगे. सबसे पहले वो हनुमान गढ़ी में दर्शन के लिए जाएंगे. 

सवा लाख लड्डू होंगे तैयार: 
भूमि पूजन समारोह के लिए अयोध्या में करीब सवा लाख लड्डू तैयार हो रहे हैं. इन्हें प्रसाद के रूप में पूरे देश में वितरित किया जाएगा.

भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे:
भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे, पांच मंडप वाले और 161 फुट ऊंचे इस मंदिर को दुनिया के बेहतरीन मंदिरों में से गिना जाएगा. इसके खंभों में किसी तरह के लोहे का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चांदी के फावड़े और कन्नी का इस्तेमाल करेंगे.

चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा:
राम मंदिर भूमि पूजन के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. अयोध्या की सीमा में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति और वाहन की जांच की जा रही है. कई इलाकों में रूट डायवर्ट किए गए हैं.

Ram Mandir Bhoomi Pujan: भूमि पूजन कार्यक्रम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी धोती-कुर्ता पहने पहुंचे

Ram Mandir Bhoomi Pujan: भूमि पूजन कार्यक्रम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी धोती-कुर्ता पहने पहुंचे

अयोध्या: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या पहुंच गए हैं. हेलिपेड से पीएम मोदी सीधे हनुमानगढ़ी मंदिर जाएंगे. वहां पर पूजा करने के बाद भूमि पूजन स्थल के लिए रवाना होंगे. भूमि पूजन के लिए मोदी धोती-कुर्ता पहने हुए हैं. पीले रंग का कुर्ता मोदी पर खूब जंच भी रहा है. मोदी राम जन्मभूमि जाने वाले पहले प्रधानमंत्री हैं. 

पीएम मोदी पूरे 28 साल बाद अयोध्या पहुंचे:
पीएम मोदी पूरे 28 साल बाद अयोध्या पहुंचे हैं और इससे पहले वो 1992 में अयोध्या आए थे. उस समय वो राम मंदिर आंदोलन का हिस्सा थे और इस समय वो बतौर प्रधानमंत्री अयोध्या में रामलला के दर्शन करने पहुंचे हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीएम नरेंद्र मोदी की अगवानी की. 

मोहन भागवत राम जन्मभूमि कार्यक्रम के लिए पहुंच चुके:
इससे पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत राम जन्मभूमि कार्यक्रम के लिए पहुंच चुके हैं. वो भूमि पूजन के लिए होने वाले कार्यक्रम के लिए बने मंच पर बैठने वाले पांच लोगों में शामिल हैं.

चांदी का एक सिक्का भेंट किया जाएगा: 
भूमि पूजन समारोह में शामिल हर शख्स को लड्डू के साथ प्रसाद के रूप में चांदी का एक सिक्का भेंट किया जाएगा. चांदी के सिक्के के एक तरफ राम दरबार की छवि है. जिसमें भगवान राम, सीता, लक्ष्मण और हनुमान हैं. दूसरी तरफ ट्रस्ट का प्रतीक चिह्न है.

2 साल 8 महीने का लगेगा समय: 
भूमि पूजन का कार्यक्रम के बाद जल्द से जल्द मंदिर निर्माण को लेकर काम शुरू हो जाएगा. ट्रस्ट ने मंदिर निर्माण करने वाली कंपनी को मंदिर निर्माण पूरा करने के लिए अगले 32 महीने का वक्त दिया है यानी अब से 2 साल 8 महीने बाद भव्य राम मंदिर का निर्माण पूरा हो सकता है. राम मंदिर में 366 स्तंभ, 5 मंडप होंगे. ये 161 फुट ऊंचा होगा.

बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय का मामला, हाई कोर्ट विधानसभा अध्यक्ष को नोटिस जारी कर कल सुबह 10.30 बजे तक मांगा जवाब

बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय का मामला, हाई कोर्ट विधानसभा अध्यक्ष को नोटिस जारी कर कल सुबह 10.30 बजे तक मांगा जवाब

जयपुर: राजस्थान में चल रहे सियासी संकट के बीच बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय मामले पर आज हाई कोर्ट में सुनवाई हुई. मदन दिलावर की ओर से हरीश साल्वे ने बहस की है. हरीश साल्वे लंदन से VC के जरिए जुड़े थे. हाई कोर्ट ने विधानसभा अध्यक्ष को नोटिस जारी कर कल सुबह 10.30 बजे तक जवाब मांगा है. ऐसे में अब इस मामले पर कल सुनवाई होगी. 

रैपिड टेस्ट के बाद अब सवालों के घेरे में एंटीजन टेस्ट! चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने फिर उठाए केन्द्र पर सवाल

बता दें कि बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय को लेकर राजस्थान हाईकोर्ट की एकलपीठ के 30 जुलाई के आदेश को अब खण्डपीठ में चुनौती दी गयी थी. अपील पेश करने के साथ बसपा और भाजपा विधायक मदन दिलावर के अधिवक्ताओं की ओर से शीघ्र सुनवाई की अर्जी भी पेश की गयी. इसी के चलते हाईकोर्ट ने दोनों ही अपीलों पर शीघ्र सुनवाई की अर्जी मंजूर करते हुए बुधवार को सुनवाई के लिए रखा. मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति और जस्टिस प्रकाश गुप्ता की खण्डपीठ बुधवार को इन अपीलों पर सुनवाई हुई. 

विलय को लेकर कोई अंतरिम राहत नहीं: 
बहुजन समाज पार्टी और भाजपा विधायक मदन दिलावर की ओर से अपील पेश कर विलय को रद्द करने की भी गुहार लगायी गयी है. अपील में कहा गया है कि एकलपीठ ने उनकी याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए विलय को लेकर कोई अंतरिम राहत नहीं दी है. विधानसभा अध्यक्ष सचिव और बसपा विधायकों को केवल नोटिस ही जारी किये गये है. जबकि वर्तमान हालात में बसपा के सभी 6 विधायक जैसलमेर की एक होटल में है और उन्हे नोटिस सर्व कराना आसान नहीं है. उनके परिजन भी नोटिस प्राप्त कर रहे हैं. गौरतलब है कि 30 जुलाई को जस्टिस महेन्द्र गोयल की एकलपीठ ने मदन दिलावर और बसपा की याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए विधानसभा अध्यक्ष, सचिव और बसपा के 6 विधायकों को नोटिस जारी कर 11 अगस्त तक जवाब पेश करने के आदेश दिये है. लेकिन एकलपीठ ने बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय पर कोई अंतरिम राहत नहीं दी. 

क्या है मामला:
18 सितंबर 2019 को बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के आदेश जारी हुए थे. जिस पर आपत्ति दर्ज कराते हुए भाजपा विधायक मदन दिलावर ने 16 मार्च 2020 को विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष शिकायत दर्ज कराई. इस शिकायत में बसपा विधायको का कांग्रेस में विलय को अमान्य करार देते हुए रद्द करने की मांग कि गई. 4 माह तक जब शिकायत पर कोई कार्यवाही नहीं की गई तो 17 जुलाई केा पुन: विधानसभा अध्यक्ष को एक पत्र लिखकर कार्यवाही करने की मांग की. विधानसभा अध्यक्ष द्वारा इस पर भी कोई कार्यवाही नहीं करने पर राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका दायर कि गई. 

दीया कुमारी बोलीं, मैं वसुंधरा राजे का बहुत सम्मान करती हूं, पहली बार संगठन में मंत्री उन्होंने ही बनाया

बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय को अमान्य करार देने की मांग: 
याचिका की सुनवाई के दौरान विधानसभा अध्यक्ष की ओर से जानकारी दी गयी की 24 जुलाई को ही शिकायत खारिज कर दी गयी है. विधानसभा अध्यक्ष के जवाब के आधार पर याचिका को सारहीन मानते हुए हाईकोर्ट ने मदन दिलावर की याचिका को खारिज कर दिया. लेकिन साथ ही मदन दिलावर को मामले में नयी याचिका पेश करने की छूट दी. बाद में सशोधित याचिका पेश कर मदन दिलावर ने बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय को अमान्य करार देने की मांग की. बहुजन समाज पार्टी ने भी इसमें शामिल होते हुए अलग से याचिका दायर की. हाईकोर्ट की एकलपीठ ने 30 जुलाई को दोनों याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए विधानसभा अध्यक्ष, सचिव और बसपा के 6 विधायकों को नोटिस जारी किये. लेकिन बसपा विधायकों के विलय को अमान्य घोषित करने के मामले में कोई अंतरिम राहत नहीं दी. 

Ram Mandir Bhumi Pujan: आज राम मंदिर के लिए भूमि पूजन, 366 स्तंभ, पांच मंडप और 161 फुट ऊंचा होगा राम मंदिर

Ram Mandir Bhumi Pujan: आज राम मंदिर के लिए भूमि पूजन, 366 स्तंभ, पांच मंडप और 161 फुट ऊंचा होगा राम मंदिर

अयोध्या: अयोध्या में भव्य श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण की 5 सदी से चली आ रही प्रतीक्षा समाप्त होने का ऐतिहासिक पल आ गया है. राम मंदिर के शिलापट्ट का अनावरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे. शिलापट्ट का अनावरण 12.30 बजे होगा. पीएम मोदी और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भूमि पूजन के कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे. 12.44 बजे भूमि पूजन होगा.

रैपिड टेस्ट के बाद अब सवालों के घेरे में एंटीजन टेस्ट! चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने फिर उठाए केन्द्र पर सवाल

राममय हुई अयोध्या:
राम मंदिर के भूमि पूजन से पहले अयोध्या राममय हो गई है. हर तरफ राम नाम का संकीर्तन हो रहा है. जय श्रीराम के नारे की गूंज सुनाई दे रही है. हल्की बारिश भी हो रही है. हालांकि, कार्यक्रम स्थल पर वाटरप्रूफ टेंट लगाए गए हैं. इस खास अवसर पर पूरी राम नगरी को दुल्हन की तरह सजाया गया है. हालांकि इसके साथ ही जिले में सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या के जिलाधिकारी अनुज झा और डीआईजी दीपक कुमार ने बताया कि आज जिले में सभी बाजार खुले रहेंगे, लेकिन बाहरी लोगों को यहां आने की अनुमति नहीं होगी.

40 किलो चांदी की ईंट से रखी जाएगी मंदिर की नींव:
पीएम मोदी अयोध्या पहुंचेंगे. भूमि पूजन के दौरान वो 40 किलो की चांदी की ईंट राममंदिर की नींव में रखी जाएगी. इसके बाद वो मंदिर परिसर में पारिजात का पौधा लगाएंगे. सबसे पहले वो हनुमान गढ़ी में दर्शन के लिए जाएंगे. 

भूमि पूजन में 175 प्रतिष्ठित मेहमान शामिल होंगे:
आज राम मंदिर के भूमि पूजन में 175 प्रतिष्ठित मेहमान शामिल होंगे. इसमें सर संघचालक मोहन भागवत, सरकार्यवाह भय्याजी जोशी, दत्तात्रेय होसबले, सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल, विश्व हिंदू परिषद के मुखिया आलोक कुमार, पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, मुस्लिम पक्षकार रहे हाजी महबूब, इकबाल अंसारी, लावारिस लाशों का अंतिम संस्कार करने वाले पद्मश्री मुहम्मद शरीफ शामिल हैं. वहीं राम मंदिर आंदोलन के आधार रहे लालकृष्ण अडवाणी और मुरली मनोहर जोशी वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए भूमि पूजन के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे.

सवा लाख लड्डू होंगे तैयार: 
भूमि पूजन समारोह के लिए अयोध्या में करीब सवा लाख लड्डू तैयार हो रहे हैं. इन्हें प्रसाद के रूप में पूरे देश में वितरित किया जाएगा.

भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे:
भव्य राम मंदिर में 366 स्तंभ होंगे, पांच मंडप वाले और 161 फुट ऊंचे इस मंदिर को दुनिया के बेहतरीन मंदिरों में से गिना जाएगा. इसके खंभों में किसी तरह के लोहे का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चांदी के फावड़े और कन्नी का इस्तेमाल करेंगे.

दीया कुमारी बोलीं, मैं वसुंधरा राजे का बहुत सम्मान करती हूं, पहली बार संगठन में मंत्री उन्होंने ही बनाया

चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा:
राम मंदिर भूमि पूजन के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. अयोध्या की सीमा में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति और वाहन की जांच की जा रही है. कई इलाकों में रूट डायवर्ट किए गए हैं.


 

विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़ा प्रकरण, विधायक भंवरलाल शर्मा को आज हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत

विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़ा प्रकरण, विधायक भंवरलाल शर्मा को आज हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत

जयपुर: विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़े प्रकरण में कांग्रेस के बागी विधायकों में शामिल विधायक पं. भंवरलाल शर्मा को आज हाईकोर्ट से राहत नहीं मिली. हाईकोर्ट ने पं.शर्मा को अंतरिम राहत देने से इनकार करते हुए उनकी चारों याचिकाओं को एक साथ टैग करने के निर्देश दिए हैं. इस मामले में आज जस्टिस सतीश शर्मा की एकलपीठ में सुनवाई हुई. वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने शर्मा की ओर से पैरवी की. वहीं वरिष्ठ अधिवक्ता सिद्धार्थ लूंथरा ने सरकार का पक्ष रखा. अब अंतिम निस्तारण के लिए 13 अगस्त को अगली सुनवाई होगी. 

राम मंदिर को लेकर बोले सीएम गहलोत, कहा- यह मौका प्रधानमंत्री के लिए साहस दिखाने का... 

विधायक शर्मा ने हाईकोर्ट में चार याचिकाएं की थी दायर: 
इससे पहले कांग्रेस के बागी विधायकों में शामिल विधायक भंवरलाल शर्मा की ओर से दायर दो याचिकाओं पर आज सुनवाई हुई. विधायक शर्मा ने हाईकोर्ट में चार याचिकाएं दायर एसओजी और एसीबी में दर्ज एफआईआर को चुनौति दी है. साथ ही विधायक खरीद फरोख्त को लेकर एसओजी में दर्ज एफआईआर को एनआईए को ट्रांसफर करने को लेकर भी याचिका दायर की है. 

विधायक शर्मा की दो याचिकाओं पर आज सुनवाई हुई: 
इसी के चलते विधायक शर्मा की दो याचिकाओं पर आज सुनवाई हुई. जिनमें एसओजी में दर्ज एफआईआर को एनआईए को ट्रांसफर करने की मांग कि गयी है. मामले में केन्द्र व राज्य सरकार सहित जांच अधिकारी को भी पक्षकार बनाया है. दोनों याचिकाओं पर जस्टिस सतीशकुमार शर्मा की एकलपीठ सुनवाई हुई.

राममंदिर को लेकर रणदीप सुरजेवाला ने रखा कांग्रेस का पक्ष, राजस्थान के बागी विधायकों पर भी बोली बड़ी बात  

राज्यपाल और विधायकों के वेतन भत्तों से जुड़ी याचिकाएं खारिज: 
वहीं इससे पहले प्रदेश के सियासी संकट के बीच विधायकों के वेतन भत्ते रोकने से जुड़ी पत्रकार विवेक सिंह जादौन की जनहित याचिका को राजस्थान हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है. वहीं इससे पहले राजस्थान हाईकोर्ट ने आज राज्यपाल से जुड़ी 2 महत्वपूर्ण जनहित याचिकाओं को भी खारिज कर दिया.


 

जयपुर: विधाधर नगर में महिला की निर्मम हत्या के बाद इलाके में फैली सनसनी

 जयपुर: विधाधर नगर में महिला की निर्मम हत्या के बाद इलाके में फैली सनसनी

जयपुर: राजधानी जयपुर के विधाधर नगर में आज महिला की निर्मम हत्या के बाद इलाके में सनसनी फैल गई. पुलिस जब मौके पर पहुंची तो पाया कि बुजुर्ग महिला का शव पलंग पर पड़ा था और सिर से खून रिसता हुआ फर्श पर गिर रहा था. हत्या की इस घटना के बाद परिवार की ही एक महिला को हिरासत में लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है.

 राम मंदिर को लेकर बोले सीएम गहलोत, कहा- यह मौका प्रधानमंत्री के लिए साहस दिखाने का... 

भारी वस्तु से सिर फोड़कर हत्या की आशंका: 
पुलिस ने बताया कि विधाधर नगर के सेक्टर आठ में रहने वाली आबिदा बानों आज सवेरे अपने घर पर थी. करीब ग्यारह बजे उनकी हत्या होने की जानकारी पुलिस को मिली तो पुलिस मौके पर पहुंची. मौके के अलामात देखकर पुलिस ने तुरंत डॉग स्क्वायड और फोरेसिंक टीम को भी मौके पर बुलाया. प्रारंभिक जांच के आधार पर अफसरों का कहना है कि किसी भारी वस्तु से सिर फोड़कर हत्या की गई हैं. 

Rajasthan Political Crisis: विधायकों के वेतन भत्ते रोकने से जुड़ी जनहित याचिका खारिज 

शक की सुई परिवार के ही कुछ लोगों के आसपास घुम रही:
संघर्ष के निशान फिलहाल नजर नहीं आ रहे हैं. हालांकि घटना के दौरान मृतका की बहू घर पर ही थी जिसने लूट के इरादे से 2 लोगों पर हत्या करने का आरोप लगाया है. हालांकि इस दौरान पड़ोसियों ने घर में किसी को भी जाते नही देखा. फिलहाल शक की सुई परिवार के ही कुछ लोगों के आसपास घुम रही है. शव को राजकीय अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया जा रहा हैं. अफसरों का मानना है कि जल्द ही हत्या का राज खुल सकता है. 
 

Open Covid-19