VIDEO: राजस्थान हाउसिंग बोर्ड की बड़ी पहल, कोरोना वैक्सीनेशन शिविर आयोजित, RHB कार्मिकों और परिजनों ने लगवाई वैक्सिन

जयपुर: हाउसिंग बोर्ड ने एक बार फिर अपने अधिकारियों और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए बड़ी पहल करते हुए वैक्सीनेशन शिविर आयोजित किया.आज मुख्यालय में आयोजित कोरोना वैक्सीन शिविर में 18 वर्ष से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों ने वैक्सीन लगवाई. अपने अधिकारियों और कर्मचारियों की सुरक्षा और सभी सुविधाओं के लिए हाउसिंग बोर्ड दूसरे विभागों और संस्थानों के लिए एक मिसाल है. हाउसिंग बोर्ड प्रदेश की ऐसी पहली सरकारी संस्था थी जिसने सबसे पहले 45 वर्ष और उससे अधिक आयु वर्ग के कार्मिकों के लिए कोरोना वैक्सीन का शिविर आयोजित किया था शिविर में भी बड़ी संख्या में बोर्ड कार्य में कौन है वैक्सीनेशन करवाया था इसी तर्ज पर आज एक बार फिर हाउसिंग बोर्ड मुख्यालय में 18 वर्ष से 44 वर्ष आयु वर्ग के अधिकारियों कर्मचारियों और उनके परिजनों के लिए वैक्सीनेशन शिविर आयोजित किया गया.

शिविर में बड़ी संख्या में अधिकारियों कर्मचारियों और उनके परिवारजनों ने वैक्सीन लगवाई आज आयोजित हुए शिविर में बोर्ड के सेवानिवृत्त कार्मिकों और संविदा पर काम कर रहे लोगों को भी वैक्सीन लगवाई गई. हाउसिंग बोर्ड मुख्यालय में आयोजित शिविर की व्यवस्थाएं इतनी बेहतर थी कि वैक्सीन लगवाने आए किसी भी व्यक्ति को किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई. सोशल डिस्टेंसिंग सैनिटाइजेशन रेस्ट रूम और वैक्सीनेशन करवाने वाले सभी लोगों को कॉफी और फलों की सुविधा भी बोर्ड मुख्यालय में उपलब्ध करवाई गई वैक्सीन लगवाने आए कार्मिकों के परिजन बोर्ड मुख्यालय के इंतजामों को देखकर खुश हुए और सभी ने एक स्वर में हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा का आभार जताया. 

फर्स्ट इंडिया से बातचीत में हाउसिंग बोर्ड कार्य में को और उनके परिजनों ने कहा कि जहां एक और वैक्सीन की मारामारी देखने को मिल रही है तो वही बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने हाउसिंग बोर्ड के कार्मिकों और उनके परिजनों के लिए शानदार शिविर आयोजित कराया है. बोर्ड मुख्यालय में आज आयोजित हुए  शिविर में 300 से अधिक लोगों ने कोरोना की वैक्सीन  लगवाई है. कोरोना वेक्सीनेशन का यह शिविर कल भी जारी रहेगा. हाउसिंग बोर्ड मुख्यालय में आज आयोजित हुए वैक्सीनेशन सवेर का नजारा देखकर ऐसा लग रहा था जैसे यह शिविर किसी सरकारी संस्थान में नहीं बल्कि किसी बड़े निजी अस्पताल में आयोजित हो रहा है. 

वैक्सीनेशन शिविर में सभी व्यवस्थाएं इतनी बेहतर थी कि वैक्सीन लगवाने वाले सभी कार्मिकों और उनके परिजनों ने एक स्वर में इंतजामों की तारीफ की वैक्सीनेशन शिविर में लोगों को किसी तरह की असुविधा नहीं हो, यह देखने के लिए हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने भी कई बार शिविर का जायजा लिया. अरोड़ा ने वैक्सीनेशन करवाने वाले कार्मिकों और उनके परिजनों से खुद वन टू वन बातचीत की. इस मौके पर हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पकड़ा अरोड़ा ने कहा कि सरकारी डिस्पेंसरी और अस्पतालों में वैक्सीनेशन कराने में अभी काफी दिक्कत आ रही है. इसको देखते हुए बोर्ड ने मुख्यालय में ही शिविर आयोजित करने का फैसला लिया अरोड़ा ने कहा कि मौजूदा समय में हाउसिंग बोर्ड के कई बड़े प्रोजेक्ट प्रगति पर है और ऐसे कठिन समय में हम नहीं चाहते कोरोना के कारण उनमें कोई व्यवधान आए इसको देखते हुए भी प्रमुखता से सभी बोर्ड कार्मिकों को वैक्सीनेशन करवाया जा रहा है. 

हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने इस मौके पर चिकित्सा विभाग के सचिव सिद्धार्थ महाजन का विशेष रूप से धन्यवाद किया उन्होंने कहा कि चिकित्सा विभाग के सचिव सिद्धार्थ महाजन ने वैक्सीनेशन शिविर आयोजित कराने में  काफी सहयोग किया है. वैक्सीन की मारामारी के दौर के बीच सुविधाजनक माहौल में वेक्सीन लगवाने के बाद हाउसिंग बोर्ड कार्मिकों और उनके परिजनों के चेहरे पर काफी खुशी नजर आई. हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने ऐसे तो हर मौके पर अपनी टीम का प्रमुखता से ध्यान रखा है. अब कोरोना काल जैसी आपदा के समय मे भी अपनी टीम की सुविधा का पूरा ध्यान रख रहे हैं.

...फर्स्ट इंडिया के लिए शिवेंद्र परमार की रिपोर्ट 

और पढ़ें